भारत के पड़ोसी देश कौन कौन से हैं नाम और राजधानी

इस आर्टिकल में आप जानेंगे भारत के पड़ोसी देश कौन कौन से हैं उनके नाम और राजधानी की लिस्ट जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इंडिया दुनिया का सातवाँ सबसे बड़ा देश है। और यह काफी देशों के साथ अपनी सीमा शेयर करता है ऐसे में हमारे कंट्री का नाम उन देशों की सूची में भी आता है जिनके पास सबसे अधिक पड़ोसी देश हैं। हालाकि भारत से कई गुना बड़े देश जैसे अमेरिका के 2 से 3 ही पड़ोसी कंट्री हैं यह देश की भूगोलिक स्थिति पर निर्भर करता है। विदेश नीति में अक्सर यह बात दोहराई जाती है कि हम दोस्त बदल सकते हैं लेकिन पड़ोसी देश नहीं यही कारण कि भारत अपने सभी पड़ोसियों से मित्रवत संबंध रखना चाहता है लेकिन आज भी कुछ ऐसे कंट्री है जो इंडिया से मित्रता नहीं रखना चाहते हैं।

भारत के पड़ोसी देश कौन कौन से हैं

इन देशों में पाकिस्तान और चीन का नाम सबसे ऊपर है पाकिस्तान और चीन की सरकार आये दिन भारत को किसी भी मामले में घेरती रहती है और इसका असर सीमा पर देखने को मिलता है। बीते कुछ सालों से इंडिया की सेना की झड़प चाइना और पाकिस्तान की सेना से हो रही है इस संघर्ष की मुख्य वजह सीमा से लगी जमीन है और इसी जमीन के कारण पाकिस्तान और चीन का युद्ध भी भारत से हो चुका है। हालाकि इंडिया के कुछ पड़ोसी देश ऐसे भी है जो भारत से मित्रता का संबंध रखते हैं कुछ ऐसे भी पड़ोसी देश है जिनमें आप बिना किसी पासपोर्ट और वीजा के साथ जा सकते हैं जैसे नेपाल और भूटान।

भारत के पड़ोसी देश कौन कौन से हैं

आपको बता दे कि भारत के कुल 7 पड़ोसी देश हैं जिनके नाम पाकिस्तान, अफगानिस्तान, चीन, नेपाल, भूटान, म्यांमार और बांग्लादेश हैं इन सभी में सबसे अधिक स्थलीय सीमा बांग्लादेश से मिलती है। जिसकी लंबाई 4096 किलोमीटर है इसके बाद चीन का नाम आता है जो इंडिया के साथ 3488 किलोमीटर की सीमा शेयर करता है। टॉप 3 की लिस्ट में पाकिस्तान भी शामिल है जिसकी स्थलीय इंडो पाक सीमा 3323 किलोमीटर है।

चलिए अब जानते हैं भारत की कौन सी दिशा में कौन सा पड़ोसी देश मौजूद है तो सबसे पहले भारत के साथ सबसे ज्यादा सीमा शेयर करने वाले देश बांग्लादेश की बात करते हैं। तो यह कंट्री इंडिया के उत्तर पूर्वी दिशा में मौजूद हैं इसके बाद चीन उत्तर दिशा में, पाकिस्तान उत्तर पश्चिम, नेपाल उत्तर दिशा में, म्यांमार पूर्वी दिशा में, भूटान उत्तर पूर्व दिशा में और अफगानिस्तान की सबसे कम सीमा POK से लगती है जो उत्तर दिशा में मौजूद है।

वैसे तो चीन और पाकिस्तान को छोड़कर सभी पड़ोसी देश भारत के सबसे निकटतम हैं लेकिन पाकिस्तान इंडिया की विदेश नीति के में अहम स्थान रखता है पाकिस्तान का जन्म भारत से ही हुआ है लेकिन अभी तक दोनों देशों के संबंध अच्छे नहीं हुए हैं। भारत पाक सीमा के हालात ऐसे हैं कि दोनों देशों में युद्ध भी हो चुके हैं और आज भी पाकिस्तान सीजफायर का उलंघन करता है और हमारे लाखों सैनिक इस संघर्ष में शहीद हो चुके हैं वहीं चीन की विस्तारवादी नीति इंडिया के लिए चुनौती पेश कर रही है।

भारत के पड़ोसी देशों के नाम और राजधानी

जैसा कि अब आपको पता चल गया होगा कि भारत के कुल 7 पड़ोसी देश हैं जो भारत के साथ स्थलीय सीमा शेयर करते हैं। हालाकि बहुत से लोग सोच रहे होंगे कि इनमें श्रीलंका का नाम शामिल नहीं है तो आपकी जानकारी के लिए बता दे श्रीलंका भारत के साथ जलीय सीमा शेयर करता है इसका कोई भी स्थल भाग इंडिया से नहीं मिलता है। चलिए अब आपको इंडिया के पड़ोसी देश के नाम और उनकी राजधानी बताते हैं।

  1. बांग्लादेश, राजधानी ढाका, सीमा 4096 किलोमीटर
  2. चीन, राजधानी बीजिंग, सीमा 3488 किलोमीटर
  3. पाकिस्तान, राजधानी इस्लामाबाद, सीमा 3323 किलोमीटर
  4. नेपाल, राजधानी काठमांडू, सीमा 1751 किलोमीटर
  5. म्यांमार, राजधानी नैप्यीदा, सीमा 1643 किलोमीटर
  6. भूटान, राजधानी थिम्फू, सीमा 699 किलोमीटर
  7. अफगानिस्तान, राजधानी काबुल, सीमा 106 किलोमीटर

कुछ पड़ोसी देशों में आपको भारत के जैसा रहन सहन देखने को मिलता है जबकि कुछ पड़ोसी देश ऐसे हैं जहाँ की जीवनशैली इंडिया से बिलकुल अलग है। उदाहरण के तौर पर भारत, नेपाल, पाकिस्तान और बांग्लादेश का रहन सहन लगभग एक जैसा है जबकि चीन, भूटान, म्यांमार भारत से अलग जीवनशैली रखते हैं।

तो अब आप जान गए होंगे कि भारत के पड़ोसी देश कौन कौन से हैं उनके नाम और राजधानी। दुनिया के किसी भी देश में उसके पड़ोसी काफी अहमियत रखते हैं और इसका सबसे अच्छा उदाहरण भारत है क्योंकि इसके कुछ ऐसे पड़ोसी देश हैं जो इससे दुश्मनी निभा रहे हैं। जबकि कुछ देश मित्रता का संबंध रखते हैं इंडिया अपने दुश्मन देशों से सुरक्षा के लिए हर साल लाखों डॉलर खर्च करता है और यह कई छोटे देशों की जीडीपी के बराबर है। अगर भारत के सभी पड़ोसी देश मित्रवत रहते तो सुरक्षा में लगने वाला पैसा भारत की उन्नति के काम आ सकता है।

ये भी पढ़े –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here