भारत में सबसे पहले प्रधान मंत्री कौन बना था

क्या आप जानते है भारत में सबसे पहले प्रधान मंत्री कौन बना था नहीं पता है तो आज के इस पोस्ट में हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं। जैसा कि हम सभी जानते है कि भारत में पहले ब्रिटिश शासन हुआ करता था। सैकड़ो सालों तक अंग्रेजों ने इंडिया पर राज किया था। इसके बाद कई महान व्यक्तियों के बलिदान के बाद भारत को साल 1947 में आजादी मिली थी। आजादी के बाद भारत के सभी नागरिकों को वह अधिकार मिल गए थे जिनके वह हकदार थे। अब भारत पर शासन करने के लिए अपनी खुद की सरकार थी। जिसे भारत की जनता द्वारा चुना जाता है। वैसे कई देशों में देश को चलाने की जिम्मेदारी प्रेसिडेंट यानी राष्ट्रपति के हाथों में होती है लेकिन हमारे देश इंडिया को चलाने की बागडोर प्रधान मंत्री के हाथो में होती है।

भारत में सबसे पहले प्रधान मंत्री कौन बना था

वर्तमान में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं जो आये दिन मीडिया की सुर्खियाँ में बने रहते हैं। मोदी जी बतौर प्रधान मंत्री अपना दूसरा कार्यकाल संभाल रहे हैं। इससे पहले मोदी जी गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। मोदी जी जब से भारत के प्राइम मिनिस्टर बने हैं तब से इन्होने देश दुनिया में काफी लोकप्रियता हासिल की है। इनकी लोकप्रियता को देखते हुए बहुत से लोग जानना चाहते है कि आखिर भारत का सबसे पहला प्रधान मंत्री कौन बने थे। चूँकि यह देश के सामान्य ज्ञान से जुड़ा सवाल है ऐसे में आपको इसका पता होना चाहिए तो चलिए जानते हैं।

भारत में सबसे पहले प्रधान मंत्री कौन बना था

इंडिया के संविधान में प्रधान मंत्री के निर्वाचन और नियुक्ति के लिए कोई विशेष प्रक्रिया नहीं दी गयी है। संविधान कहता है कि प्रधानमंत्री की नियुक्ति देश के राष्ट्रपति के द्वारा होगी और प्रधान मंत्री देश की जनता के द्वारा चुना गया किसी सरकार का नेता होगा। कोई नेता PM बनने के बाद वह अपने हिसाब से कैबिनेट का चयन करता है।

भले ही केन्द्रीय मंत्रियों की शपथ राष्ट्रपति के द्वारा दिलाई जाती है लेकिन किस मंत्री को कौनसा मंत्रालय मिलेगा इसका फैसला प्रधान मंत्री करते हैं।

बता दे कि भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु थे। अब तक के इतिहास में जवाहर लाल नेहरु ऐसे नेता थे जिन्होंने सबसे अधिक समय तक प्रधान मंत्री का कार्यभार संभाला था। नेहरु जी करीब 16 साल 286 दिन इंडिया के प्राइम मिनिस्टर बने थे। नेहरु जी ने अपना कार्यकाल 5 अगस्त 1947 को संभाला था वहीं 27 मई 1964 को अपना अंतिम कार्यकाल पूरा किया।

अगर सबसे कम समय की बात करे तो इसमें प्रथम नाम गुलजारी लाल नंदा जी का आता है। जिनका कार्यकाल महज 13 दिन का था। इसके अलावा नंदा जी पहले कार्यवाहक प्रधानमंत्री भी थे नंदा जी को भारत के दूसरे प्रधान मंत्री के रूप में भी जाता जाता है।

तो अब आप जान गए होंगे कि भारत में सबसे पहले प्रधान मंत्री कौन बना था और इनका कार्यकाल कितने समय तक रहा था। नेहरु जी सबसे अधिक समय तक प्रधानमंत्री बने रहने के साथ काफी लोकप्रिय नेता थे। भारत में अब तक 17 लोकसभा चुनाव हो चुके हैं। जिनमे सबसे ज्यादा नेता कांग्रेस पार्टी से चुने गए हैं हालाकि अब वर्तमान के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी BJP यानी भारतीय जनता पार्टी से ताल्लुक रखते हैं। PM मोदी जी पहले गैर-कांग्रेसी नेता हैं जो अपना दूसरा कार्यकाल पूरा कर रहे हैं।

ये भी पढ़े –

Leave a Comment