CFL और LED में अंतर क्या है

आज के पोस्ट में आपको CFL और LED में अंतर क्या है इसके बारे में जा रहे हैं। हम कई सालों से बल्ब का इस्तेमाल करते आ रहे हैं और बल्ब में भी समय के साथ कई परिवर्तन हुए हैं। थॉमस अल्वा एडिसन एक ऐसा नाम है जिसने बल्ब का आविष्कार करके दुनिया को रोशन कर दिया था। इसके बाद अलग अलग वैज्ञानिको द्वारा शोध किये गए और बल्ब को और भी बेहतर बनाया गया। वर्तमान में हमारे पास बल्ब के दो आधुनिक रूप CFL और LED है जिनसे हर जगह रोशनी फैलाई जा रही है।

CFL और LED में अंतर

वैसे जब भी हम LED और CFL में से किसी एक को खरीदते है तो असमंजस में पड़ जाते है क्योंकि जानकारी के आभाव में हम दोनों में कौनसा बेहतर इसके बारे जान नहीं पाते है। इनमे से कौनसा बल्ब बिजली की ज्यादा या कम खपत करता है या फिर कौनसा बल्ब ज्यादा चलेगा इसकी जानकारी आप इस पोस्ट में जान पाएंगे तो चलिए जानते हैं।

CFL और LED में अंतर क्या है

सीएफएल की फुल फॉर्म कॉम्पैक्ट फ्लोरोसेंट लाइट होती है। हालाकि यह अन्य बल्बों की तुलना में अधिक रोशनी देते है लेकिन एलईडी से कम रौशनी देते है। बता दे कि CFL आर्गन से बने होते हैं और इनमें पारा छोटी मात्रा में होता है। इसका उपयोग ऑफिस, घर, दुकान और स्कूल आदि में प्रकाश फैलाने के उद्देश्य से किया जाता है।

वहीं LED बल्ब का सबसे आधुनिक रूप है जिसे लाइट एमिटिंग डायोड कहते हैं। यह बल्ब की दुनिया का अब तक का सबसे बड़ा आविष्कार है जो बल्बों में सबसे ज्यादा प्रकाश देता है। वर्तमान में हर जगह इन बल्बों का इस्तेमाल किया जा रहा है तो चलिए अब आपको LED और CFL बल्ब में अंतर बताते हैं।

1. एक LED बल्ब की लाइफ आमतौर पर 50 हजार घंटे या इससे अधिक होती है। जबकि CFL की लाइफ इसकी तुलना में महज 8 हजार घंटे तक होती है।

2. एलईडी बल्ब सीएफएल की तुलना में कम बिजली की खपत करता है।

3. इसके अलावा कीमत की बात करे तो तो LED CFL की तुलना में थोड़ा महंगा होता है।

4. भले ही एलईडी बल्ब थोड़ा महंगा होता है लेकिन यह अधिक टिकाऊ होता है और लम्बे समय तक चलता है।

5. आकार में एलईडी बल्ब सीएफएल से छोटा होता है लेकिन यह रौशनी सबसे ज्यादा देता है।

6. LED बल्ब के फूटने जैसी कोई समस्या नहीं होती है क्योंकि इसके सारे कॉम्पोनेन्ट इसके अन्दर ही होते है। जबकि CFL बल्ब का ऊपरी भाग ग्लास अर्थात कांच का बना होता है जिसके कारण अक्सर इसमें फूटने की समस्या रहती है।

7. गारंटी के बारे में जाने तो एलईडी बल्ब की गारंटी अवधि सीएफएल से अधिक होती है। यह 2 साल या इससे अधिक हो सकती है।

8. एलईडी बल्ब जलने के दौरान गर्म नहीं होता है जबकि सीएफएल जल्दी गर्म हो जाता है।

9. वजन में एलईडी बल्ब CFL से हल्के होते हैं।

10. आधुनिक LED बल्ब CFL और अन्य बल्बों से इतने बेहतर होते है कि इनको लेकर सरकार ने एक योजना भी बनाई है। जिसके अंतर्गत आप सस्ते में बिजली विभाग से बल्ब ले सकते हैं लेकिन CFL को लेकर ऐसी कोई योजना नहीं है।

तो अब आप जान गए होंगे कि CFL और LED में अंतर क्या है इस पोस्ट में आपको उपर्युक्त बल्बों को लेकर 10 मुख्य अंतर बताये हैं। जिससे आपको इन बल्ब को लेकर आपको कंफ्यूजन दूर हो गया होगा। इसमें कोई संदेह नहीं कि है LED बल्ब CFL से बेहतर होता है। भले ही यह थोड़ा महंगा होता है लेकिन यह बाकि बल्बों में अधिक टिकाऊ और अधिक समय तक चलने वाला होता है। इस तरह यह एक पैसा बसूल बल्ब साबित होता है। आज के समय हर छेत्र में LED का प्रयोग किया जा रहा है।

ये भी पढ़े –

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here