CV और Resume में क्या अंतर है जानिये बेस्ट कौन सा है

क्या आप CV और Resume में क्या अंतर है जानना चाहते हैं अगर आप किसी नौकरी के लिए आवेदन करने जा रहे हैं तो आपका यह जानना बहुत ही जरूरी हो जाता है कि CV Aur Resume Me Kya Antar Hai क्योंकि आपको CV और Resume की आवश्यकता सभी नौकरियों में होती है CV और Resume ही सामने वाले के ऊपर आपके बारे में इंप्रेशन डालते हैं, इसके आधार पर ही आवेदक को सेलेक्ट या रिजेक्ट किया जाता है लेकिन ज्यादातर लोग इस चीज को गंभीरता से नहीं लेते हैं।

CV और Resume में क्या अंतर है

वह अक्सर CV और Resume के बारे में कन्फ्यूजन में पड़ जाते हैं और सोचने लग जाते हैं कि उन्हें सीवी बनाना है या फिर रिज्यूम को बनाना है। अगर आपके सामने भी यही समस्या आती है तो आपको चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए विस्तार से बताएंगे कि CV और Resume में क्या अंतर होता है।

तो चलिए वक्त बर्बाद ना करते हुए आर्टिकल को जल्दी से जल्दी शुरू करते हैं और जान लेते हैं कि Difference Between CV And Resume in Hindi | CV Aur Resume Me Kya Antar Hai आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल अवश्य पसंद आएगा।

Table of Contents

Resume क्या होता है | Resume Meaning In Hindi 

Resume एक फ्रेंच शब्द होता है और इसका अर्थ होता है Summary रिज्यूम के अंदर हम अपने बारे में समरी लिखते हैं रिज्यूम के अंदर हमें अपनी स्किल्स और क्वालिफिकेशन के बारे में भी जानकारी प्रदान करनी होती है।

आपको यह बताना होता है कि आपने किस क्षेत्र के अंदर स्पेशलाइजेशन की है आमतौर पर रिज्यूम दो या तीन पेज के अंदर बन जाता है ऐसा माना जाता है कि रिज्यूम के अंदर भले ही थोड़ी जानकारी दी जाती हो लेकिन महत्वपूर्ण जानकारी दी जाती है।

यही कारण हैं कि Resume को छोटे फॉर्मेट में लिखा जाता है रिज्यूम को आप ईमेल के जरिए भी भेज सकते हैं, बात यह है कि रिज्यूम की सहायता से आप जिस भी नौकरी के लिए अप्लाई करने जा रहे हैं, आप उस नौकरी के इंटरव्यू तक पहुंच सकते हैं जबकि अगर आपको खुद इंटरव्यू के लिए जाना हो तो आप CV लेकर जाएंगे।

आपको बता दूं कि Resume के अंदर किसी भी पद के अनुसार बदलाव नहीं होते हैं, आप जिस भी नौकरी के लिए अप्लाई करने जा रहे हैं, रिज्यूम के अंदर आपको उसी से जुड़ी हुई जानकारी भरनी चाहिए। रिज्यूम के अंदर चीजों को ऑर्डर में लगाने की कोई भी बाध्यता नहीं होती है, यह भी जरूरी नहीं होता है कि आप अपने करियर से जुड़ी हुई सभी जानकारी रिज्यूम के अंदर लिखें।

CV क्या होता है | CV Meaning In Hindi

CV का अर्थ Curriculum Vitae होता है यह शब्द लैटिन भाषा से लिया गया है, जिसका मतलब कोर्स ऑफ लाइफ होता है, एक तरफ जहां रिज्यूम को छोटे फॉर्मेट में लिखा जाता है, वहीं CV के जरिए आप अपने बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करते हैं।

CV का मतलब बायोडाटा ही होता है, इसके अंदर आप अपने जीवन से जुड़े हुए सभी अनुभवों के बारे में लिख सकते हैं, आप अपने स्कूल, कॉलेज की डिग्री, उपलब्धियां, अवॉर्ड्स आदि, सभी के बारे में विस्तार से लिख सकते हैं। ऐसे में कई बार तो CV पांच पेज तक भी लिख दिया जाता है CV के जरिए आप अपने सभी अनुभवों के बारे में बता सकते हैं, अगर आपने किसी ऊंचे पद के लिए अप्लाई किया है तो आप अपने बारे में जानकारी CV के जरिए ही देंगे।

CV को लिखने के दौरान आपको क्रम का ध्यान रखना जरूरी होता है, आपके जीवन में जिस क्रम के अनुसार घटनाएं हुई हैं, उसी क्रम के अनुसार जानकारी प्रदान करनी होती है। CV की खास बात यह होती है कि यह हमेशा एक जैसा ही लगता है, चाहें आप इसे किसी भी नौकरी के लिए अप्लाई करें इसके अंदर आपको कोई भी बदलाव दिखाई नहीं देगा, अगर आप कुछ अलग जानकारी प्रदान करना चाहते हैं तो आप कवर लेटर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

CV में आपको हर एक छोटी-छोटी चीज को शामिल करना होता है जैसे कि आप के अंदर कौन सा हुनर है आपने अब तक कौन-कौन सी जॉब की है आपने पढ़ाई कहां तक कर रखी है आखिरी जॉब में आप कौन से पद पर स्थापित थे। आप CV के अंदर अपनी उपलब्धियों के बारे में भी लिख सकते हैं, आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि CV को ज्यादातर उन्हीं आवेदकों से मांगा जाता है जो किसी भी नौकरी में नए होते हैं।

ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि उन्हें अभी तक कोई अनुभव नहीं होता है, उन्हें जांचा-परखा जाता है कि वह नौकरी कर पाएंगे या नहीं।

CV और Resume में क्या अंतर है

अगर आप CV और Resume के बीच का मुख्य अंतर जानना चाहते हैं तो इसके बारे में हमने आपको नीचे सूची प्रदान कर दी है वह कुछ इस प्रकार है –

Resume CV
रिज्यूम शब्द को फ्रेंच भाषा से लिया गया है, जिसका मतलब होता है ‘Summary’ यानी संक्षिप्त में जानकारी देना। CV का पूरा नाम Curriculum Vitae होता है, यह लैटिन भाषा से से लिया गया है, जिसका अर्थ ‘कोर्स ऑफ लाइफ’ होता है।
यह कभी भी 2 पेज से अधिक में नहीं होता है। CV के अंदर कोई पेज लिमिट नहीं होती है, लेकिन आमतौर पर इसे पांच पेज तक लिखा जाता है। 
इसके अंदर अपनी शैक्षिक योग्यता, अपने अनुभवों के बारे में बताया जाता है। इसके अंदर सबसे पहले आपको अपनी Education के बारे में विस्तार से बताना होता है।
रिज्यूम में आपकी प्रोफाइल के अनुसार बदलाव हो सकता है। यह सभी नौकरियों के अनुसार एक जैसा ही रहता है, इसमें जॉब प्रोफाइल के अनुसार कोई भी बदलाव नहीं होते हैं।
यह आपके स्किल्स और अनुभव पर आधारित होता है। CV के अंदर आपको अपने जीवन के सभी अनुभवों के बारे में बताना होता है।
रिज्यूम के अंदर अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे कि अपनी उम्र, पिता का नाम, आप शादीशुदा हैं या नहीं, लिंग आदि, के बारे में नहीं लिखा जाता है। CV के अंदर यह सभी जानकारियां देनी होती है जैसे कि आपका नाम, पिता का नाम, लिंग, जन्म की तारीख, आप शादीशुदा हैं या नहीं, अवॉर्ड्स, उपलब्धियां आदि।
रिज्यूम में आप अपनी उपलब्धियों, पब्लिकेशन, प्रेजेंटेशन आदि के बारे में भी नहीं बता सकते हैं। इसमें आपको अपने जीवन में घटित घटनाओं को क्रम के अनुसार बताना होता है।

Resume कैसे लिखा जाता है | रिज्यूम में क्या जानकारी लिखनी होती है

Resume को लिखने का एक सही तरीका होता है, जिसके बारे में हमने नीचे बता दिया है –

  • Name
  • Address
  • Mobile Number
  • E-mail ID

के बारे में संक्षिप्त में बताना होता है।

1. Motive (उद्देश्य)

आपका अपने करियर के बारे में क्या उद्देश्य है, आगे जीवन में क्या लक्ष्य रखते हैं, उसके बारे में बता सकते हैं।

2. Educational Qualification

यहां पर आपको यह बताना है कि आपने किस संस्थान से पढ़ाई की है, कौन से वर्ष में आपको डिग्री मिली है, प्रमाण पत्र, डिप्लोमा आदि का अच्छे से उल्लेख करना होता है।

3. व्यावसायिक कौशल

आपको उच्च शिक्षा या व्यावसायिक पाठ्यक्रमों से प्राप्त हुए सभी व्यावसायिक कौशल व अतिरिक्त ज्ञान के बारे में बताना है।

4. भाषा प्रवीणता

आपको उन सभी भाषाओं के बारे में बताना है, जिनके बारे में आपको अच्छे से जानकारी है।

5. पढ़ाई के साथ-साथ अन्य उपलब्धियां

आपको अपने स्कूल व कॉलेज के साथ-साथ खेल या अन्य क्षेत्र में प्राप्त की गई उपलब्धियों का भी उल्लेख करना होता है।

6. रुचि

आप अपनी मनपसंद चीजों के बारे में भी बता सकते हैं हैं।

7. सामान्य जानकारी

आप अपने बारे में सामान्य जानकारी जैसे कि डेट ऑफ बर्थ, राष्ट्रीयता आदि का विवरण कर सकते हैं।

8. व्यावसायिक अनुभव

प्रशिक्षण, पहले के कार्य अनुभव, इंटर्नशिप, या फ्रीलांस प्रोजेक्ट।

CV कैसे लिखा जाता है | CV में क्या जानकारी लिखनी होती है

CV को लिखने का भी एक सही तरीका होता है, जिसके बारे में हमने आपको नीचे अवगत करवा दिया है, CV के अंदर आपको अपने जीवन के अनुभवों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करनी होती है –

  • Name
  • Address
  • Mobile Number
  • E-mail ID
  • Educational Qualification

आपको अपनी हाई स्कूल की शिक्षा के साथ अन्य पढ़ाई के बारे में भी बताना होता है कि आपने उचित डिग्री कौन से संस्थान से प्राप्त की है, आपकी क्या ग्रेड्स आई है आदि।

1. Work Experience

आप जिस नौकरी के लिए आवेदन करने जा रहे हैं उससे पूर्व अनुभव, भूमिका, कंपनी, जिम्मेदारियां, अवधि, काम के वर्ष आदि के बारे में जानकारी प्रदान करें।

2. महत्वपूर्ण पद के बारे में जानकारी

आपको अपने सभी महत्वपूर्ण पदों को जोड़ना होता है चाहे वह पेशेवर हो या फिर सामुदायिक ही क्यों न हो।

3. पढ़ाई के अलावा अन्य उपलब्धियां

आपको अपनी पढ़ाई के अलावा भी अन्य उपलब्धियां को जोड़ना है, आपको उन सभी उपलब्धियों के बारे में जानकारी प्रदान करनी है जो रोजगार अनुभाग में दर्ज नहीं है।

4. व्यावसायिक अनुभव

वह सभी कौशल जो अपने अलग-अलग संस्थाओं के पाठ्यक्रमों, प्रशिक्षण से प्राप्त किए हैं।

5. प्रमाण पत्र

आपको उन सभी प्रमाण पत्रों के बारे में बताना है, जो आपने अलग-अलग संगठनों से प्राप्त किए हैं।

6. फेलोशिप

आप किसी भी फेलोशिप के बारे में बता सकते हैं, जो आपने पहले प्राप्त कर रखी है।

7. प्रकाशन

यह मुख्य रूप से डॉक्टरेट विद्वानों के लिए होता है, इसमें आपको किसी भी शोध प्रक्षण के बारे में बताना होता है, जिसमे आपने कुछ योगदान दिया हो, या जिस पर अपने काम कर रखा हो।

8. अवॉर्ड्स

आपको अब तक कौन कौन से अवॉर्ड्स, उपलब्धियां हासिल हुई हैं, उन सभी के बारे में बताना है।

9. संदर्भ

आप किस संदर्भ में CV लिख रहे हैं, वह बताना है।

10. रुचि

आपको क्या करना पसंद हैं, आपकी क्या क्या हॉबी हैं।

FAQ’s CV Aur Resume Me Kya Antar Hai | CV और Resume के बीच क्या अंतर है

आज के समय भी ऐसे बहुत से लोग होते हैं जिन्हें CV Aur Resume Me Antar पता नहीं होता है, वह इन दोनों के बीच उलझे हुए रहते हैं और इसलिए वह इंटरनेट पर इससे संबंधित तरह-तरह के सवाल पूछते रहते हैं।

आज मैं आपके सामने उन्हीं सवालों में से कुछ ऐसे सवाल लेकर आया हूं, जिनके बारे में आपको जरूर पता होना चाहिए कुछ महत्वपूर्ण सवाल इस प्रकार हैं –

CV का क्या मतलब है

CV का अर्थ होता है Curriculum Vitae इसके अंदर हम अपने जीवन के सभी अनुभवों जैसे कि हमारी शिक्षा, उपलब्धियां, मनपसंद चीजें, अवॉर्ड्स आदि, जैसी सभी जानकारी विस्तार में लिखते हैं, ताकि नौकरी देने वाली संस्था को हम अपने बारे में अच्छे से बता सकें और हमे नौकरी मिलने में आसानी हो।

Resume की जरूरत क्यों पड़ती है

Resume की बहुत ही अधिक अहमियत होती है अगर आपका रिज्यूम अच्छे से बना हुआ होगा, तभी सामने वाला आपसे प्रभावित हो पाएगा जितना बेहतरीन आपका रिज्यूम बना हुआ होगा, उतना ही अधिक सामने वाले पर इंप्रेशन पड़ेगा और तभी आपको नौकरी मिलेगी।

CV को लिखने का क्या फॉर्मेट है

आप जब कभी भी नौकरी के लिए आवेदन करें, तो इसे सही फॉर्मेट में लिखें, ताकि जिस संस्था में आप CV जमा करवाएंगे, वह आपसे जल्दी से इंप्रेस (प्रभावित) हो जाए।

CV में आपको अपना उद्देश्य स्पष्ट रखना चाहिए, आपको एक फोटो लगाना होता है, अपनी शैक्षिक योग्यता, स्किल्स, हॉबी, उपलब्धियां, अवॉर्ड्स आदि, के बारे में विस्तार से जानकारी देनी होती है।

जॉब के लिए रिज्यूम कैसे बनाते हैं

जॉब प्राप्त के लिए आपको एक रिज्यूम की आवश्यकता होती है, और इसे आप बड़ी ही आसानी से बना सकते हैं, इसके लिए आपको गूगल प्ले स्टोर पर बहुत सी एप्लीकेशन मिल जाएंगी।

रिज्यूम में आपको स्पष्ट और सरल भाषा में अपने बारे में जानकारी प्रदान करनी होती है, जितना ज्यादा इंप्रेसिव आपका रिज्यूम होगा, उतना ही अधिक आपकी नौकरी लगने के अवसर बढ़ जाएंगे।

तो कैसा लगा आपको हमारा यह आर्टिकल, इस आर्टिकल के जरिए हमने जाना कि सीवी और रिज्यूम में क्या अंतर है What Is The Difference Between CV And Resume हमने आपको इन दोनों के बीच के अंतर के बारे में विस्तार से बता दिया है।

हमारी हमेशा से यही कोशिश रहती है कि हम आपके सामने संपूर्ण और सही जानकारी विस्तारपूर्वक तरीके से पेश कर सकें और आप जो जानकारी जानने के लिए हमारे इस आर्टिकल में आए हैं वह जानकारी आपको प्राप्त हो जाए।

तो अब आप जान गए होंगे CV और Resume में क्या अंतर है अगर आपको अभी भी कुछ समझ नहीं आया ह या आप कोई और जानकारी प्राप्त करने के इच्छुक हैं तो आप आर्टिकल के नीचे उपलब्ध कराए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं, हम आपके कमेंट का जवाब जल्द से जल्द देने की कोशिश करेंगे। उम्मीद करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा और अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा है, तो इसे अपने दोस्तों और करीबियों के साथ शेयर जरूर करिएगा।

ये भी पढ़े –

इंग्लिश बोलना कैसे सीखें 20 से भी अधिक नए तरीके से

स्मार्टफोन से पैसे कैसे कमाए

वर्तमान में भारत की जीडीपी कितने करोड़ रूपये की है

MakeHindi.Com is a Professional Educational Platform. Here we will provide you only interesting content, which you will like very much. We’re dedicated to providing you the best of Education.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here