Diwali Facts in Hindi 2020 दीपावली से जुड़े रोचक तथ्य

आज आप जानेंगे Diwali Facts in Hindi 2020 दीपावली से जुड़े रोचक तथ्य। हर साल की तरह इस बार भी दिवाली मनाई जा रही है। ऐसे में आपको भी इससे जुड़ी अनजानी बाते और जानकारी पता होना चाहिए। जैसा हम सभी जानते है कि दीपावली भारत के सबसे बड़े त्योहारों में गिना जाता है। साथ ही इसे हिन्दू धर्म के लोगो का सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है। आपको बता दे कि हिंदुओं के जितने भी त्योहार होते है। वह हिन्दू कैलंडर के हिसाब से मनाये जाते है। ठीक इसी प्रकार दीपावली की तारीख भी आगे पीछे होती रहती है। यह हर साल अक्टूबर और नवम्बर के महीने में मनाई जाती है।

Diwali Facts in Hindi

वैसे तो भारत में दिवाली के बारे में सभी जानते हैं लेकिन इसमें कुछ Interesting बाते है भी जो सबको पता नहीं है। दीपावली को ज्यादातर लोग बुराई पर अच्छाई की जीत के जश्न के रूप में मानते है। अपने हर्ष को दिखाते हुए दीपक जलाकर काली रात को रौशन करते हैं इस तरह इसे प्रकाश का पर्व भी माना जाता है।

Diwali Facts in Hindi

नीचे दिए गए दिवाली के कुछ Facts आपको पता होंगे जबकि कुछ आपके लिए नए हो सकते हैं चलिए जानते हैं।

1. दीपावली को हिन्दू कैलंडर के हिसाब से कार्तिक महीने के 15वें दिन को मनाया जाता है। चूँकि अंग्रेजी कैलंडर और हिन्दू धर्म के कैलंडर में थोड़ा अंतर है इसलिए इनकी अंग्रेजी कैलंडर में दिवाली की तारीख आगे पीछे होती रहती है।

2. दीवाली हिन्दुओ का एक प्रमुख त्यौहार है हिन्दू भारत का प्रमुख धर्म है। जिसकी गिनती दुनिया के सबसे पुराने धर्मों में होती है।

3. बता दे दुनियाभर में करीब 800 मिलियन लोग इसे अलग अलग तरीके से मनाते हैं।

4. दिवाली के दिन धन की देवी लक्ष्मी जी की पूजा होती है और इस त्योहार को इनके सम्मान के लिए भी मनाया जाता है।

5. इसके अलावा इस त्योहार को राम और सीता जी के 14 वर्ष के बाद लौटने की ख़ुशी में भी मनाया जाता है।

6. दिवाली शब्द का अर्थ अँधेरे को प्रकाश से रौशन करते दीपों की पंक्ति है।

7. इस त्योहार को अँधेरे पर प्रकाश की जीत का प्रतीक भी माना जाता है।

8. दिवाली की समय अवधि पांच दिनों की है मतलब इसे पांच दिनों तक मनाया जाता है।

9. इसे भारत का सबसे बड़ा और प्रसिद्ध त्यौहार माना जाता है।

10. दिवाली शब्द की उत्पत्ति संस्कृत भाषा के शब्द दीप और आवली से हुई है। इनमे दीप का मतलब दिया और आवली का मतलब पंक्ति होता है जिसे आसान भाषा में कहे तो दीयों की लाइन होता है।

11. इस त्यौहार में शुभ दीपावली एक प्रसिद्ध ग्रीटिंग कार्ड है। जिसका अर्थ होता है कि आपकी दीपावली शुभ अर्थात खुशहाल हो।

12. भारत के कुछ स्थानों पर दीपावली को नए साल की शुरुआत के रूप में भी देखा जाता है।

13. यह त्योहार वर्षा ऋतु के जाने के बाद शीत ऋतु के आगमन का इशारा करता है।

14. जैसा कि हमने आपको बताया कि इसे मुख्तया 5 दिन तक मनाया जाता है। जिनमे सबसे पहले धनतेरस होती है उसके बाद दूसरे दिन छोटी दिवाली, तीसरे दिन लक्ष्मी पूजा, चौथे दिन गोवर्धन पूजा तथा पाँचवे दिन भैया दूज मनाया जाता है।

15. एक तरफ जहां भारत के ज्यादातर लोग दिवाली के दिन लक्ष्मी जी की पूजा करते हैं। वहीं उड़ीसा और पश्चिम बंगाल की कई जगहों पर लोग काली माता की पूजा करते हैं।

16. जिस तरह पश्चिमी देशों के लोग क्रिसमस को मानते है ठीक उसी प्रकार हिन्दू लोग दीपावली को मानते हैं।

17. चूँकि इस त्योहार पर आतिशबाजी होती है इसलिए इसे प्रदूषण के लिए भी जाना जाता है।

18. आतिशबाजी से प्रदूषित वातावरण से सांस सम्बन्धी बीमारी, दिल का दौरा, उच्च रक्तचाप होने का खतरा बढ़ जाता है।

19. दिवाली में आतिशबाजी करते समय कई सावधानी रखना आवश्यक है खासकर बच्चों को क्योंकि इससे दुर्घटना होने के चांस बने रहते हैं।

20. सिख धर्म के लोग भी इस त्यौहार को मानते है क्योंकि इस दिन उनके गुरू हरगोबिंद जी को ग्वालियर में मुगल शासक जहांगीर की कैद से कई हिंदू राजाओं के साथ रिहा किया गया था।

21. अगर आपको लगता है कि दिवाली सिर्फ भारत में मनाया जाता है तो ऐसा बिल्कुल नहीं है। इस त्योहार को दुनिया के कई देश जैसे पाकिस्तान, श्रीलंका, इंडोनेशिया, फिजी, थाईलैंड, त्रिनिदाद और टोबैगो, म्यांमार, नेपाल, मॉरीशस, गुयाना, सिंगापुर, सूरीनाम, मलेशिया, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा में भी मनाया जाता है।

22. भारत के बाहर अंग्रेजी शहर लीसेस्टर सबसे बड़े दिवाली समारोह की मेजबानी करता है।

23. दिवाली में अरबों रुपयों की आतिशबाजी की जाती है जिसे काफी प्रदूषण फैलता है।

24. दीपावली में की गयी आतिशबाजी की लागत लगभग 1 बिलियन डॉलर आंकी गयी है जो कि बहुत बड़ी राशी है।

25. दिवाली के पीछे सबसे लोकप्रिय परंपरा यह बताती है कि यह उस दिन का प्रतीक है जिस हिंदू देवता भगवान राम राक्षस राजा रावण को मारकर अपने घर अयोध्या लौटे थे। पौराणिक कथाओं के अनुसार, शासन में उसकी वापसी का जश्न मनाने के लिए देश भर में रोशनी की गई थी।

26. इसके अलावा भगवान कृष्ण के भक्तों का कहना है कि इस दिन भगवान श्री कृष्ण ने अत्याचारी राजा नरकासुर का वध किया था।

27. पौराणिक कथाओ के अनुसार दीपावली के दिन ही भगवान विष्णु ने नरसिंह रुप धारणकर हिरण्यकश्यप का वध किया था।

28. जैन धर्म के मुताबिक महावीर स्वामी का निर्वाण दिवस दीपावली है। जैन महावीर द्वारा मोक्ष की प्राप्ति चिह्नित करने के लिए रोशनी का त्यौहार मनाते हैं।

29. पंजाब में जन्मे स्वामी रामतीर्थ का जन्म व महाप्रयाण दोनों दीपावली के दिन ही हुआ। इन्होंने दीपावली के दिन गंगातट पर स्नान करते समय ‘ओम’ कहते हुए समाधि ले ली।

30. मुगल सम्राट अकबर के शासनकाल में दौलतखाने के सामने 40 गज ऊंचे बांस पर एक बड़ा आकाशदीप दीपावली के दिन लटकाया जाता था। बादशाह जहाँगीर भी दीपावली धूमधाम से मनाते थे।

31. बौद्ध धर्म के प्रवर्तक गौतम बुद्ध के समर्थकों और अनुयायियों ने 2500 वर्ष पूर्व गौतम बुद्ध के स्वागत में लाखों दीप जलाकर दीपावली मनाई थी।

32. अमृतसर के स्वर्ण मंदिर का निर्माण भी दीपावली के दिन ही शुरू हुआ था। इसलिए यह दिन सिख धर्म के लोगो के लिए भी काफी महत्व रखता है

तो अब आप Diwali Facts in Hindi 2020 दीपावली से जुड़े रोचक तथ्य जान गए होंगे। अगर आप भी इस त्योहार को मनाते है तो यह रोचक और अनजानी बाते आपको भी पसंद आयी होगी। वैसे तो दिवाली प्रकाश ख़ुशी हर्सोल्लास का त्यौहार है लेकिन इसका एक मुख्य रूप आतिशबाजी भी है। जिसमे आपको काफी सावधानी रखनी चाहिए अगर आप आतिशबाजी करने के शौकीन है तो आपको कम से कम आतिशबाजी करना चाहिए जिससे वातावरण भी ज्यादा प्रदूषित न हो सके।

ये भी पढ़े –

2 COMMENTS

  1. बहुत ही अच्छी जानकारी दी आपने इस पोस्ट में थैंक्स यू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here