जीडीपी क्या होती है भारत की GDP कितने डॉलर की है

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि जीडीपी क्या होती है भारत की GDP कितने डॉलर की है अगर आपको जीडीपी के बारे में कोई भी जानकारी नहीं है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि आज का आर्टिकल जो भी पूरा लास्ट तक पड़ेगा वह जीडीपी की पूरी जानकारी लेकर ही जाएगा क्योंकि मैंने इस आर्टिकल के अंदर आपको हर एक पॉइंट के अंदर एक-एक बात अच्छे से कवर करने की कोशिश करी है। ताकि आपको जीडीपी की छोटी सी छोटी जानकारी भी मिल जाए।

जीडीपी क्या होती है

GDP Kya Hoti Hai आज के इस आर्टिकल में हम इसी बारे में चर्चा करेंगे, इसके अलावा जीडीपी का पूरा नाम और जीडीपी कितने प्रकार की होती है इसके बारे में भी जानकारी देंगे ताकि आपको कभी भी जीडीपी की जानकारी किसी और के साथ शेयर करनी पड़े तो आप उसे अच्छे से समझा पाए कि आखिर जीडीपी क्या है और आपको भी जीडीपी के बारे में पूरी जानकारी मिले तो चलिए पढ़ते हैं आज के हमारे इस आर्टिकल की तरफ आपका ज्यादा समय न लेते हुए।

आपने अक्सर न्यूज़ अख़बारों में जीडीपी के बारे में अवश्य सुना होगा क्योंकि यह एक ऐसा शब्द है जो किसी देश की अर्थव्यवस्था को मापने के लिए उपयोग किया जाता है दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका की है जो 20 ट्रिलियन डॉलर से भी अधिक है इसके बाद चाइना का नाम आता है जिसकी अर्थव्यवस्था ने अमेरिका से भी तेजी से विकास किया है। वहीं भारत की बात करें तो वर्तमान में हमारे देश भारत की अर्थव्यवस्था 2.9 ट्रिलियन डॉलर की है।

जीडीपी क्या होती है

अगर आपको जीडीपी को आसान भाषा में समझाने की कोशिश करें तो जीडीपी का मतलब होता है किसी देश की अर्थव्यवस्था को मापने के लिए जीडीपी का प्रयोग किया जाता है। जीडीपी का हिंदी में अर्थ होता है सकल घरेलू उत्पाद मान लीजिए किसी देश की सीमा के अंदर उत्पादित अनाज या सेवा का मूल्य अगर अधिक है तो उस देश की आर्थिक स्थिति बढ़िया है। अगर उस देश के अंदर उत्पादन अनाज और सेवा का मूल्य कम है तो उस देश की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के चांस ज्यादा रहते हैं।

जीडीपी शब्द का प्रयोग अर्थशास्त्री साइमन द्वारा किया गया था और अर्थशास्त्री साइमन द्वारा इसका प्रयोग सबसे पहले 1935 से 44 के बीच में किया गया था। लेकिन उस समय देश के पास ऐसा कोई पैरामीटर नहीं था कि वह आर्थिक विकास को समझ कर दूसरों को इसके बारे में समझा सके। लेकिन जब अर्थशास्त्री साइमन द्वारा जीडीपी शब्द का प्रयोग किया गया तो इसके पक्ष में ज्यादातर मत किए गए और लोगों को यह बहुत ही ज्यादा पसंद आने लगा जिस कारण से आज अर्थव्यवस्था को आसानी से समझा जा सकता है।

जीडीपी का पूरा नाम क्या होता है

अगर आपको अभी तक जीडीपी का पूरा नाम नहीं पता है तो चलिए मैं आपको जीडीपी का पूरा नाम हिंदी और इंग्लिश में बता देता हूं।

GDP full form in English – Gross domestic product

GDP full form in hindi – सकल घरेलू उत्पाद

जीडीपी कितने प्रकार की होती है

तो चलिए अब हम जानते हैं कि आखिर जीडीपी किने प्रकार की होती है आपको ऊपर का आर्टिकल पढ़कर जीडीपी के बारे में अच्छी खासी जानकारी हो गई होगी लेकिन आपको अभी तक यह नहीं पता चला कि जीडीपी कितने प्रकार की होती है तो दोस्तों जीडीपी दो प्रकार की होती है, और नीचे हम इन दो प्रकार की जीडीपी पर थोड़ी डिटेल से भी चर्चा कर लेते हैं।

1. वास्तविक जीडीपी

अगर हम किसी भी देश की जीडीपी निकालने की बात करें तो उसके लिए एक वर्ष को आधार वर्ष माना जाता है। उस वर्ष के अंदर सभी वस्तुओं के मूल्य को समान माना जाता है। और उसके आधार पर ही उस देश की जीडीपी को निकाला जाता है। इसे ही हम वास्तविक जीडीपी कहते हैं। जब भारत की जीडीपी को निकाला गया था तो इसका आधार वर्ष 2011-12 को माना गया था।

2. अवास्तविक जीडीपी

अगर हम आने वाले समय में जीडीपी निकालने की बात करें तो इसके लिए वर्तमान बाजार कीमतों को आधार माना जाता है और उसके आधार पर ही जीडीपी को निकाला जाता है। इस प्रकार की जीडीपी को अवास्तविक जीडीपी कहा जाता है। वास्तविक जीडीपी के द्वारा देश की आर्थिक विकास को दूसरों को समझाने में बड़ी ही आसानी होती है। अगर इनमें तुलना की जाए तो यह बहुत ही लाभदायक है और नागरिकों पर इसका बहुत ही जल्दी प्रभाव पड़ता है।

आज के इस आर्टिकल में हमने देखा की जीडीपी क्या है और जीडीपी कितने प्रकार की होती है इसके बारे में इस आर्टिकल के अंदर हमने बिल्कुल डिटेल से चर्चा की है और हर एक पॉइंट को आपको अच्छे से समझाने की कोशिश की है ताकि अगर आपको जीडीपी की जानकारी किसी व्यक्ति को या फिर आपको कहीं पर इसके बारे में जरूरत पड़े तो आपको इसके बारे में पूरी जानकारी हो।

तो अब आप जान गए होंगे कि जीडीपी क्या होती है अगर आपको आज का आर्टिकल अच्छा लगा हो तो हमारे इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि यह जानकारी और लोगों तक भी पहुंच सके और वह भी इसका फायदा उठा सकें और आप हमें इंस्टाग्राम और फेसबुक पेज पर जरूर फॉलो कर लें ताकि ऐसी ही जानकारी वाली पोस्ट आपको डेली पढ़ने को मिले।

ये भी पढ़े –

मोबाइल से पैसे कैसे कमाए घर बैठे ऑनलाइन

भारत की जनसँख्या कितनी है वर्तमान में

एजुकेशन लोन कैसे लें जरुरी डॉक्यूमेंट और प्रक्रिया समझिये

इस आर्टिकल को शेयर करें

MakeHindi.Com is a Professional Educational Platform. Here we will provide you only interesting content, which you will like very much. We’re dedicated to providing you the best of Education.

Leave a Comment