हीरा इतना महंगा क्यों होता है कारण जानिये

चलिए आज जानते हैं हीरा इतना महंगा क्यों होता है दुनिया में शायद ही ऐसा कोई व्यक्ति होगा जो डायमंड के बारे में नहीं जानता होगा हीरे की गिनती दुनिया की सबसे मूल्यवान धातुओं में होती है। यह इतना आकर्षक होता है कि इससे पहनने की इच्छा हर व्यक्ति में जाग्रत हो जाती है प्राचीन काल से ही हीरे को महारत्न की उपाधि से नवाजा गया है एक तरफ जहाँ हर व्यक्ति की चाहत होती है कि वह डायमंड को धारण करें। लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इसे धारण करना हर किसी के बस की बात नहीं है क्योंकि हीरा जहाँ कुछ लोगो की किस्मत को चमकाता है वहीं कुछ लोगो के लिए परेशानियां भी लेकर आता है।

हीरा इतना महंगा क्यों होता है

मूल्यवान डायमंड की प्राप्ति केवल प्राकृतिक खदानों से ही होती है और इस मामले में साउथ अफ्रीका दुनिया का सबसे लकी देश है क्योंकि विश्व के 95 फीसदी हीरे साउथ अफ्रीका की खदानों से ही प्राप्त किये गए हैं। भारत की बात करे तो हमारे देश में मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में डायमंड की खदाने मौजूद है विश्व प्रसिद्ध कोहिनूर हीरा जो अंग्रेजी शासन काल में भारत से ब्रिटेन ले जाया गया था वह कोहिनूर हीरा पन्ना जिले के खदान में ही मिला था। हम जिन हीरों को चमकदार और आकर्षक आकार में देखते हैं वह असल में खदान से एक पत्थर के जैसे मिलते हैं इसके बाद इन्हें कुशल कारीगरी से तराशा जाता है।

हीरा इतना महंगा क्यों होता है

बता दे कि हीरा इतना महंगा इसलिए है क्योंकि हीरे को बनने में कई करोड़ साल लग जाते हैं यह उच्च तापमान और कई रासायनिक बदलाव के बाद बनता है। यह 140 से 190 किलोमीटर की गहराई में पाया जाता है जिन्हें निकालना बहुत मुस्किल होता है इसे खदान से निकालने के बाद तराशने की प्रक्रिया काफी महंगी होती है।

पृथ्वी में हीरा काफी मात्रा में पाया जाता है लेकिन इसके बावजूद यह काफी एक्सपेंसिव है क्योंकि अभी तक महज कुछ देशों में ही डायमंड की खदान पायी गयी हैं। इसकी सबसे मुस्किल चीज यह है कि काफी गहराई में पाया जाता है जिसे निकालने की प्रक्रिया काफी जोखिमभरी और महंगी होती है।

काफी मुस्किलों के बाद जब हीरे को खदान से निकाल लिया जाता है तो इसे अनुभवी कारीगर द्वारा तराशा जाता है। तराशने की प्रक्रिया में अगर हल्की सी भी गलती हो जाती है करोड़ों का नुकसान हो जाता है आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हीरा दुनिया की सबसे कठोर चीज है ऐसे में हीरे को सिर्फ हीरे से ही काटा जा सकता है।

हीरे से जुड़े दिलचस्प तथ्य

अधिकतर लोगो को सिर्फ यह पता होता है कि हीरा सिर्फ सफेद रंग का होता है लेकिन ऐसा नहीं है हीरे लाल, नीले, नारंगी और बैंगनी रंग के भी होते हैं यह रंग हीरे के पत्थर में मौजूद हल्की अशुद्धि के कारण होते हैं ये भी बहुत कीमती होते हैं।

हीरा इतना महंगा क्यों होता है

1. दुनिया में सबसे पहले हीरे की खोज आज से 4000 साल पहले भारत में ही हुई थी।

2. हीरे बिजली के कुचालक होते हैं लेकिन ऊष्मा के सुचालक होते हैं अगर इसके एक हिस्से को गर्म किया जाए तो दूसरा हिस्सा भी तुरंत गर्म हो जाता है।

3. यह दुनिया का सबसे कठोर पदार्थ होता है अर्थात् एक हीरे को सिर्फ दूसरे हीरे से काटा जा सकता है।

4. आज आप जिस डायमंड को देख रहे हैं उसका निर्माण करोड़ों साल पहले हुआ था।

5. दुनिया के 80 फीसदी हीरों का इस्तेमाल व्यावसायिक होता है जबकि बचे हुए 20 फीसदी डायमंड का उपयोग आभूषणों में होता है।

6. वैज्ञानिकों के अनुसार अब तक का सबसे बड़ा हीरा अंतरिक्ष में तैरता पाया गया है जिसका नाम लूसी रखा गया है इसका वजन 5 लाख खरब पौंड आंका गया है।

7. जबकि धरती में अब तक का सबसे बड़ा हीरा साल 1905 में साउथ अफ्रीका में खोजा गया था जिसका वजन 3160 कैरेट है।

8. वैसे आज मानव द्वारा अलग अलग कलर के हीरे बनाये जा रहे हैं लेकिन प्राकृतिक रूप में भी हीरे अलग अलग रंग के होते हैं।

तो अब आप जान गए होंगे कि हीरा इतना महंगा क्यों होता है यह आभूषणों में सबसे खूबसूरत रत्न है इसकी कटाई, सही आकार और इसकी चमक डायमंड को और अधिक शानदार बनाते हैं। हालाकि शानदार हीरे के पीछे काफी अनुभव और खदान में मौजूद लोगो की जिंदगी का जोखिम शामिल रहता है। अगर आप एक किलोग्राम सोना खरीदने जाए तो वह आपको 50 लाख रूपए तक में मिल जायेगा लेकिन एक किलो हीरा खरीदने के लिए आपको 50 करोड़ रूपए देने पड़ सकते हैं।

ये भी पढ़े –

इस आर्टिकल को शेयर करें

MakeHindi.Com is a Professional Educational Platform. Here we will provide you only interesting content, which you will like very much. We’re dedicated to providing you the best of Education.

2 thoughts on “हीरा इतना महंगा क्यों होता है कारण जानिये”

Leave a Comment