दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश के नोट में छपती है गणेश जी की फोटो जानिए वजह

इंडोनेशिया के नोट पर गणेश जी की फोटो हमारे देश में अक्सर धर्म को लेकर तकरार होती रहती है कभी कभी तो धर्म को लेकर लोग आपस में लड़ जाते हैं वैसे तो भारत के नोट में किसी धर्म की फोटो होना मुस्किल है क्योंकि यहां दुनिया के सबसे ज्यादा धर्म के लोग रहते है अगर सभी के धर्म के फोटो को नोट में छापा जाए तो ये संभव नहीं है वहीं अगर किसी विशेष धर्म को फोटो छापा जाए तो दूसरे धर्म के लोग इसके खिलाफ आवाज उठाने लग जायेंगे. इसलिए भारत एक धर्म निरपेक्ष राष्ट्र है जहां हर धर्म को बराबर की आजादी मिली हुई है और इसी कारण भारत के नोट में किसी भी धर्म की तस्वीर दिखाई नहीं देती है लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश में गणेश जी की फोटो छपती है.

किसी मुस्लिम देश के नोट में भगवान गणेश की फोटो होना अपने आप में बहुत बड़ी बात है हम बात कर रहे है दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश इण्डोनेशिया की जहाँ के 20 हजार के नोट में भगवान गणेश की फोटो छपती है. आपको बता दे कि इस देश में करीब 87.5 फीसदी आबादी इस्लाम धर्म को मानती है. वहां सिर्फ 3 फीसदी हिन्दू आबादी है.

इंडोनेशिया के नोट पर गणेश जी की फोटो

इस देश की करंसी का नाम भी भारत की करंसी से मिलता जुलता है जी हाँ इंडोनेशिया की करंसी को रुपियाह कहते हैं. इंडोनेशिया के 20 हजार के नोट के फ्रंट साइड में भगवान गणेश और हजर देवांत्रा की फोटो है वहीं इसके पीछे की साइड क्लासरूम की तस्वीर है, जिसमें टीचर और स्टूडेंट्स हैं. टीचर के रूप में इंडोनेशियाई नोट पर पहले शिक्षा मंत्री हजर देवांत्रा की भी तस्वीर है. हजर देवांत्रा को इंडोनेशिया की आजादी का नायक माना जाता हैं.

इंडोनेशिया के नोट पर गणेश जी की फोटो होने का कारण

अब आप भी जानना चाहते होंगे कि आखिर एक मुस्लिम राष्ट्र में हिन्दू धर्म के भगवान गणेश जी की फोटो क्यों छापी जाती है दरअसल इंडोनेशिया में भगवान गणेश को शिक्षा, कला और विज्ञान का देवता माना जाता है. कुछ साल पहले इंडोनेशिया की अर्थव्यवस्था गड़बड़ा गयी थी इस समस्या के समाधान के लिए कई लोगो द्वारा नोट पर भगवान गणेश जिन्हें इंडोनेशिया में शिक्षा, कला और विज्ञान का देवता माना जाता है छापे जाने की बात कही गयी इसके साथ पहले शिक्षा मंत्री की हजर देवांत्रा और स्टूडेंट्स की तस्वीर भी छापी गयी थी. कुछ लोग मानते है कि तभी से इंडोनेशिया के अर्थव्यवस्था में सुधार आया है.

ये भी पढ़े –

2 COMMENTS

  1. यह शतप्रतिशत फर्जी है! शायद इंडोनेशिया की जनता किसी भारतीय काल्पनिक ईश्वर को जानती भी नहीं होगी फिर भला वो ईश्वर की तस्वीर क्या खाक छापेगी।

    • इंडोनेशिया में 3% जनता हिन्दू है ज्यादा जानकारी के लिए आप गूगल पर सर्च कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here