Phishing क्या है फिशिंग अटैक से कैसे बचे

Phishing क्या है फिशिंग अटैक से कैसे बचे तो आज हम आपको इसी विषय के बारे में बताने जा रहे है कि Phishing क्या होता है हालही में एक रिपोर्ट सामने आई है जिसमें उन देशों के नाम बताये गए है जिनपर फिशिंग अटैक सबसे ज्यादा हो रहा है. फ्रॉड रिपोर्ट के अनुसार भारत सबसे ज्यादा फिशिंग अटैक के मामले में तीसरे स्थान पर मौजूद है वहीं इस सूची में पहले स्थान पर USA दूसरे पर Russia है. तो आखिर ये फिशिंग क्या है इससे हम कैसे बच सकते हैं चलिए जानते हैं.

Phishing क्या है फिशिंग अटैक से कैसे बचे
Phishing kya hai

Phishing क्या है

इसके नाम से ही जाहिर होता है कि यहां पर किसी मछली को पकड़ने की बात की जा रही है लेकिन हम सभी जानते है कि मछली पकड़ने को इंग्लिश में Fishing कहते हैं अगर इस Fishing से F हटाकर Ph लगा दे तो ये Phishing बन जाता है जिसका हिंदी में अर्थ होता है ऑनलाइन जालसाजी. इस Phishing में भी हैकर चारा फेंककर मछली पकड़ते है लेकिन ये मछली कोई यूजर या उपभोक्ता होता है.

यहां पर होता क्या है कि जो अटैकर्स होते हैं वह कोई चारा फेंकते हैं वो चारा कैसा होता है जैसे मान लीजिये आपके पास कोई ईमेल आता है जो ईमेल आपको भेजा है वह ऐसा लगता है कि वह आपको किसी ट्रस्टेड कंपनी जैसे गूगल, फेसबुक, ट्विटर या आपके बैंक ने भेजा है. इस ईमेल का डिजाइन आपको आकर्षित करने वाला होता है. इसे ईमेल को देखकर आपको ऐसा लगता है कि ये आपके काम का ईमेल है और मजबूरन उस ईमेल पर एक्शन लेने लग जाते हैं.

इन ईमेल पर कुछ ऐसा लिखा होता है जो आपको आकर्षित कर लेता है जैसे ईमेल पर लिखा है कि आपको कोई नया ऑफर मिला है, सिक्यूरिटी अपडेट की गयी है आपको फिर से लॉग इन करना पड़ेगा, कंपनी ने आपके अकाउंट पर कोई अनैतिक एक्टिविटी नोटिस की है या फिर ये भी लिखा हो सकता है कि आप इस लिंक पर क्लिक करके लॉग इन करिए आपको फिर से वेरीफाई किया जा रहा है.

तो ऐसा कुछ ईमेल आने के बाद कोई भी नार्मल यूजर करता क्या है वो इन ईमेल को सीरियसली ले लेता है और ईमेल पर दिए लिंक पर क्लिक करने के बाद वह फेक या नकली वेबसाइट पर पहुँच जाता है इसके बाद वह उस फेक वेबसाइट पर लॉग इन करने की कोशिश करता है यहां पर वह लॉग इन तो नहीं होता लेकिन जो आपने यूजरनेम और पासवर्ड डाला था वह अटैकर्स या हैकर्स के पास पहुँच जाता है. इस तरह कोई भी यूजर Phishing Attack का शिकार हो जाता है.

Phishing से कैसे बचें

Phishing क्या है ये तो आप जान गए होंगे अब आपको बताते है कि Phising attack से कैसे बचना है तो अगर आप किसी भी तरह से इसका शिकार नहीं होना चाहते हैं तो आपको नीचे बताई गयी कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना है तो चलिए जानते हैं.

इससे बचने का सबसे सरल तरीका ये है कि आपको किसी भी अनजाने लिंक पर क्लिक नहीं करना है. आप अपने ईमेल बॉक्स में ईमेल आने से नहीं रोक सकते हैं लेकिन आप अनजाने लिंक पर क्लिक करने से खुद को रोक सकते हैं.

आपके किसी भी तरह के यूजरनाम और पासवर्ड में आपकी गोपनीय जानकारी होती है इसे आपको किसी के अनुरोध करने पर भी नहीं बतानी चाहिए क्योंकि इन यूजरनाम और पासवर्ड में आपकी कई महत्वपूर्ण जानकारी होती हैं.

जब भी आप किसी वेबसाइट में जाए तो आपको एक बार उसके URL को जरुर चेक कर लेना चाहिए क्योंकि कई बार फेक या कॉपी वेबसाइट की स्पेलिंग गलत या अजीब सी होती हैं तो इन सभी बातों का ध्यान रख के आप Phishing से बच सकते हैं.

तो अब आप जान गए होंगे कि Phishing क्या है फिशिंग अटैक से कैसे बचे. यह Phising attack इन्टरनेट में अपराध का जाना माना नाम है. इसका प्रयोग किसी भी उपभोक्ता की गोपनीय जानकारी जैसे व्यक्तिगत पहचान यूजरनेम और पासवर्ड, बैंक खाते की जानकारी, क्रेडिट कार्ड का नंबर, नेट बैंकिंग के यूजरनेम और पासवर्ड, सोशल मीडिया के यूजरनेम और पासवर्ड आदि को चुराने में किया जाता है. Phishing का काम पिछले कई सालों से चलता आ रहा है और आज भी चल रहा है.

ये भी पढ़े –

Rate this post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here