सांप के काटने का ये अचूक उपाय कभी भी आपके काम आ सकता है

    सांप काटने का इलाज – हमारे भारत में करीब 550 प्रजातियों के सांप है जिनमें से केवल 10 प्रजाति ही ऐसी होती है जो जहरीली होती है. इसका मतलब ये हुआ की भारत में ज्यादातर सांप जहरीले नहीं होते है. भारत में 540 ऐसे सांप होते है जिनके काटने से आदमी को कुछ नहीं होता है लेकिन सांप के काटने पर आदमी की मौत का डर सताने लगता है जिसकी बजह कई बार ऐसे केस में आदमी की मौत हो जाती है. तो सबसे पहले तो आपको पता होना चाहिए कि भारत में ज्यादातर सांप जहरीले नहीं होते है इसलिए अगर सांप काट ले तो बिलकुल भी घबराना नहीं चाहिए.

    सांप काटने का इलाज

    सांप काटने के लक्षण

    जब जहरीला सांप काटता है तो उसका जहर आपके खून में मिलने लगता है अगर सांप ने पैर पर काटा है तो सांप का जहर पैर से ऊपर चढ़ता हुआ मरीज के दिल तक पहुँचता है इसके बाद वह धीरे धीरे शरीर के पूरे हिस्सों में फ़ैल जाता है इसी तरह अगर सांप हाथ में काटता है तो वह पहले दिल तक पहुँचता है इसके बाद पूरे शरीर में फ़ैल जाता है. सांप के जहर को पूरे शरीर में फैलने पर कुछ घंटे का समय लगता है. सांप की प्रजाति और उसके जहर की मात्रा भी काटने के लक्षण पर निर्भर करती है अगर ज्यादा जहरीले और ज्यादा जहर की मात्रा वाले सांप ने काँटा है तो इसका असर जल्दी दिखने लगा जायेगा, वैसे ज्यादातर मामलों में देखा गया है कि जहरीले सांप के काटने से पलके झपकने लगती है, या मसुडों से खून रिसने लगता है.

    किसी मरीज के सांप काटने का इलाज के लिए हम कुछ शुरूआती सबसे सरल तरीके बताने जा रहे है जो बिलकुल फ्री है. अगर आपके आस पास ऐसी स्तिथि है जिसमें कोई डॉक्टर या हॉस्पिटल नहीं है तो आप इन तरीकों से मरीज की जान बचा सकते है.

    सांप काटने का इलाज (प्रथम)

    इसमें आपको किसी पुराने इंजेक्शन की जरुरत पड़ेगी. जिसमें आपको इंजेक्शन के सुई वाले भाग को काटना है. इस तरह इंजेक्शन सेक्शन पाइप की तरह काम करेगा. इसके बाद अगर आपको पता है कि सांप ने मरीज को कहाँ काटा है तो आपको उस जगह दो निशान दिखेंगे जो सांप के दो दातों से बन जाती है. यहाँ आपको किसी एक निशान पर इंजेक्शन को रखना है और इंजेक्शन के पीछे दिए सेक्शन को खींचना है इससे मरीज का खून निकलेगा.

    खून निकलने के बाद फिर दूसरे निशान पर इंजेक्शन रखना और इंजेक्शन के पीछे दिए सेक्शन को खींचना है. इसके बाद आपको इंजेक्शन को बीच में से काटना है जिससे उसका आगे वाला होल बड़ा हो जाये अब फिर से इंजेक्शन को सांप के काटे हुए निशान पर रखना है और खून को खींचना है. इस तरह आपको जब तक करना है तब तक मरीज का खून निकलना बंद न हो जाये.

    अगर मरीज का सांप का कांटा हुआ निशान न मिले तो आपको उस जगह देखना है जहाँ सुजन हो और कुछ हिस्सा लाल पड़ गया हो इसके अलावा आपको वहां सांप के दांत के निशान भी मिल जायेंगे इस तरह आप आसानी से सांप के कांटे हुए निशान को ढूढ सकते है. सांप के काटने पर अक्सर मरीज बेहोश हो जाते है लेकिन अगर आपके द्वारा इंजेक्शन से खून निकालने के बाद मरीज को होश आ जाता है तो इसका मतलब मरीज अब नहीं मरेगा.

    सांप काटने का इलाज (द्वितीय)

    इसमें आपको हमेशा अपने घर में NAJA 200 नाम की दवाई रखना चाहिए जिसकी कीमत महज 125 रूपये है. इस दवा से आप सांप के कांटे हुए मरीज को नई जिन्दगी दे सकते है. यह एक होम्योपैथी दवा है जो आपको किसी भी होम्योपैथी स्टोर में मिल जाएगी. जो 1mg की दवा होती है वह 125 रूपये में आती है इससे आप सैकड़ो लोगो की जान बचा सकते है.

    आपकी जानकारी के लिए बता दे की इस दवा में दुनिया के सबसे जहरीले सांप का जहर होता है लेकिन इसे इस तरह से बदल दिया जाता है जिससे ये दूसरे सांप के जहर को ख़त्म करने का काम करता है. ये दवा लिक्विड में होती है इसलिए आपको इस दवा की एक बूँद मरीज के मुंह में गिराना है इसके 10 मिनिट बाद फिर एक बूँद देना इसके बाद फिर 10 मिनिट बाद 1 बूँद देना है इस तरह आपको 10 मिनिट के अंतराल में 3 बूँद मरीज को देना है. इस तरह से आप सांप काटने का उपचार कर सकते है और इस दवा से भी किसी की जान बचा सकते है.

    सांप काटने के उपाय के लिए आपको इस जानकारी को हमेशा याद रखना चाहिए. ये आपके या आपकी फैमिली के काम भी आ सकती है इस छोटी सी जानकारी से आप किसी की भी जान बचा सकते हैं.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here