श्री लंका की जनसंख्या कितनी है 2021

क्या आपको पता है श्री लंका की जनसंख्या कितनी है 2021 में नहीं जानते तो आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं। श्री लंका हमारा पड़ोसी देश है ऐसे में हमें इस देश के बारे जरुर जानना चाहिए। वैसे श्री लंका को लोग तभी सर्च करते हैं जब इंडिया और श्रीलंका के बीच कोई क्रिकेट मैच होता है। इस समय आपको देश के न्यूज़ चैनल में आपको श्रीलंका का नाम देखने को मिल जायेगा। श्री लंका और भारत के संबंध बहुत पुराने है इसका जिक्र वेद पुराणों में भी देखने को मिलता है वैसे तो यह छेत्रफल के हिसाब से छोटा देश है लेकिन यह सांस्कृतिक और आध्यात्मिकता तौर पर बेहद सजग देश है।

श्री लंका की जनसंख्या कितनी है

बुद्ध के दर्शन, तमिल और सिंहली राजनीति के इर्द-गिर्द घूमने वाले इस देश को आज भारत के लगभग सभी लोग जानते है। वैसे जब भी श्री लंका की बात होती है तो हमारे दिमाग में लंका दहन का विचार सबसे पहले आता है। धार्मिक द्रष्टि से देखा जाए तो ऐसा माना जाता है कि श्रीलंका पर रावण का राज हुआ करता था जिसकी सोने की लंका का दहन हनुमानजी ने किया था। इसका जिक्र हिन्दू धार्मिक ग्रंथ रामायण में देखने को मिलता है। ये तो धार्मिक बात हो गयी लेकिन आज जानेंगे कि आखिर श्री लंका की आबादी कितनी है तो चलिए जानते हैं।

श्री लंका की जनसंख्या कितनी है

वर्तमान समय यानी 2021 में श्री लंका की जनसंख्या 21,357,143 (2 करोड़ 13 लाख) है। यह आकड़े Worldometers नाम की एक वेबसाइट से लिए गए हैं। यह वेबसाइट लगातार पूरी दुनिया के साथ हर देश की जनसंख्या काउंट कर रही है। वैसे तो किसी देश की आबादी की गणना करना थोड़ा मुस्किल होता है। क्योंकि आबादी लगातार बढ़ रही है लेकिन इसका अनुमान लगाया जा सकता है तो श्री लंका की आबादी में पिछले 70 सालों में कितना वृद्धि हुई है उसकी जानकारी आप नीचे देख सकते हैं।

  • 2020 – 21,323,733
  • 2010 – 20,261,737
  • 2000 – 18,777,601
  • 1990 – 17,325,773
  • 1980 – 15,035,834
  • 1970 – 12,485,740
  • 1960 – 9,874,476
  • 1950 – 7,971,098

तो ऊपर दिए गए चार्ट में आप देख सकते है कि साल 1950 में श्री लंका की आबादी 79.7 लाख के करीब थी। इसके बाद धीरे धीरे यह 2 करोड़ के पार पहुँच चुकी है। हालाकि भारत की तुलना में श्री लंका की आबादी बेहद कम है और दोनों जनसंख्या वृद्धिदर में बहुत अंतर है एक तरफ भारत की आबादी दुनिया की सबसे तेजी वृध्दिदर से बढ़ रही है वहीं श्रीलंका की वृद्धिदर हर 10 साल में कम हो रही है।

चलिए अब आपको श्री लंका से जुड़े कुछ रोचक बाते बताते हैं भारत से श्रीलंका की दूरी महज 32 किलोमीटर है। हमारे देश का नाम शुरू से ही भारत रहा है। हालाकि अंग्रेजों ने इसे बदलकर इंडिया कर दिया था लेकिन देश में जहां इसे भारत और इंडिया के नाम से जाना जाता है वहीं विदेश के लोग इसे इंडिया से जानते हैं श्री लंका का भी नामकरण हो चुका है।

साल 1972 तक इसका नाम सीलोन था जिसे बदलकर लंका कर दिया गया था। इसके बाद 1978 में इसके आगे सम्मानसूचक शब्द श्री जोड़कर श्रीलंका कर दिया गया तब से ही पूरी दुनिया में इसे श्री लंका नाम से जाना जाता है। हालाकि हिन्दू धर्म ग्रंथो में इसे बहुत पहले से लंका के नाम से जाना जाता है।

श्रीलंका की साक्षरता दर 92 फीसदी है जो कि पूरे दक्षिणी एशिया में सबसे अधिक है। भारत की तरह यहां भी क्रिकेट काफी लोकप्रिय खेल है लेकिन यहाँ का राष्ट्रीय खेल वॉलीबॉल है। धर्म के हिसाब से देखे तो यहाँ 70% बौद्ध, 15% हिन्दू, 8% ईसाई और 7% मुसलमान रहते हैं।

तो अब आप श्री लंका की जनसंख्या कितनी है में इसके बारे में जान गए होंगे। इस पोस्ट में हमने आपको कुछ आकड़े भी बताये है जिनसे आपको अंदाजा लग गया होगा श्री लंका की आबादी किस तरह से बढ़ी है। बता दे कि इसकी राजधानी कॉलोम्बो है जहां देश का एकमात्र इंटरनेशनल एयरपोर्ट है। यहाँ की अधिकारिक भाषा सिंहला और तमिल है। अगर आप श्री लंका की जनसंख्या काउंट लाइव देखना चाहते है तो आप Worldometers वेबसाइट विजिट कर सकते है इस वेबसाइट में आपको किसी भी देश की जनसंख्या काउंट लाइव देखने को मिलती है।

ये भी पढ़े –

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here