तहसीलदार कैसे बने सैलरी योग्यता भर्ती प्रक्रिया जाने

इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे कि तहसीलदार कैसे बने सैलरी योग्यता भर्ती प्रक्रिया तहसीलदार पद एक बहुत ही गणमान्य पद होता है। आज के समय में जो कोई भी नौकरी ढूंढ रहा है उसके मन में एक बार तो यह विचार जरूर आया होगा कि तहसीलदार कैसे बनते हैं और ये बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या रहनी चाहिए। इस आर्टिकल में मैं आपको पूरी इंफॉर्मेशन दूंगा कि आप इसकी चयन प्रक्रिया को क्रैक कर के किस तरह से एक तहसीलदार बन सकते हैं और तहसीलदार बन जाने के बाद आपकी सैलरी कितनी होगी।

तहसीलदार कैसे बने

अगर आप भी तहसीलदार बनना चाहते हैं तो इसके सबसे पहले तो आपको अपनी पढ़ाई पूरी करनी होगी आपकी जानकारी के लिए बता दे कि अब अधिकतर सरकारी नौकरियों के लिए अभ्यर्थी का ग्रेजुएट होना आवश्यक कर दिया गया है ग्रेजुएशन के बाद आपको अपनी नौकरी से संबंधित पढ़ाई करनी होती है इन सभी में समय और मेहनत दोनों लगता है कुछ नौकरियों की पढ़ाई करने के लिए तो अच्छे खासे पैसों की भी जरुरत होती है हालाकि अगर आप तहसीलदार की तैयारी करना चाहते हैं तो यहाँ आपको काफी मेहनत करनी होगी

जैसा कि हम सभी जानते हैं तहसीलदार किसी तहसील का सबसे बड़ा सरकारी अधिकारी होता है जिसका मुख्य काम अपनी तहसील के विभिन्न कामों को सुचारू रूप से चलाना होता है तो अब इतना बड़ा पद है तो इसके लिए क्वालिफिकेशन भी काफी अच्छी होनी चाहिए तो पूरी इंफॉर्मेशन इस आर्टिकल में आपको देंगे इसके लिए आपको इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढना होगा तो चलिए आर्टिकल को सुरु करते हैं और पूरी जानकारी हिंदी में देख लेते हैं।

तहसीलदार क्या होता है

आपको बता दे तहसीलदार एक राज्य स्तरीय अधिकारी होता है जो राज्य की किसी भी एक जिले में कार्यरत होता है यह जिले में स्थित तहसील का प्रमुख अधिकारी होता है और अपने तहसील के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र के लोगों की समस्याओं का समाधान और गांव की देखरेख करता है। तहसीलदार मुख्य रूप से अपने क्षेत्र में आने वाली भूमि से जुड़े कार्य करता है यहां पर दस्तावेजों का रखरखाव करना प्राकृतिक आपदा से बचने के प्रयास करना और भूमि अधिग्रहण से जुड़े मामलों का निपटारा करना इनका मुख्य काम होता है।

तहसीलदार कैसे बने

तहसीलदार बनने के लिए बारहवीं पास करने के बाद सबसे पहले आपको किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन करना होगा क्योंकि तहसीलदार की परीक्षा के लिए वहीं लोग आवेदन कर सकते हैं जिनकी ग्रेजुएशन कम्पलीट होती है इसके बाद आपको तहसीलदार चयन परीक्षा की तैयारी करनी होगी अगर बेहतर परिणाम चाहते हैं तो इसलिए किसी कोचिंग संस्था की सहायता ले सकते हैं

जहाँ आपको आपकी परीक्षा की अच्छे से तैयारी करवा दी जाएगी अधिकतर स्टूडेंट इसके लिए किसी संस्था का ही सहारा लेते हैं हालाकि इसके लिए आपको फीस भी देनी होगी तो चलिए अब आपको इसकी बेसिक से लेकर चयन प्रक्रिया की जानकारी बताते हैं अगर आप तहसीलदार बनना चाहते है तो इसकी शैक्षणिक योग्यता, आयु सीमा और चयन प्रकिर्या निमन्लिखित है।

तहसीलदार का पद हासिल करने के लिए शैक्षणिक योग्यता

अगर आप तहसीलदार बनना चाहते हैं तो आपकी ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन कंप्लीट होनी चाहिए, क्योंकि तहसीलदार की परीक्षा केवल वही अभ्यार्थी दे सकते हैं जो ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट हैं, अगर आप 10वीं या 12वीं कक्षा के विद्यार्थी हैं और तहसीलदार बनना चाहते हैं तो आपको आगे बैचलर डिग्री करनी चाहिए।

तहसीलदार बनने के लिए आयु सीमा

अगर आप जनरल कैटेगरी से बिलॉन्ग करते हैं तो आयु सीमा 21 वर्ष से 42 वर्ष के बीच होनी चाहिए यानी की न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है और अधिकतम 42 वर्ष है। इसके अलावा अगर आपके राज्य में आरक्षण हैं तो आरक्षण के हिसाब से रिजर्व्ड कैटिगरीज को आयु सीमा में काफी छूट मिलती है। एसटी/एससी को 4 से 5 वर्षों की छूट मिलती है और ओबीसी वर्ग को 2 से 3 वर्षों की छूट मिलती है, अलग-अलग राज्यों के हिसाब से छूट भी अलग अलग होती है।

तहसीलदार कैसे बने

तहसीलदार पद के लिए चयन प्रक्रिया क्या होती है

अगर आप तहसीलदार बनना चाहते हैं तो आपको पता होना चाहिए कि सरकार तहसीलदार के पदों पर भर्तियां किस प्रकार से करती है यानी कि तहसीलदार पद के लिए चयन प्रक्रिया क्या होती है आपको बता दूं कि तहसीलदार का पद एक बहुत ही गणमान्य पद है और इसकी चयन प्रक्रिया काफी कठिन होती है यहां तक कि तहसीलदार की चयन प्रक्रिया को यूपीएससी परीक्षा जैसा ही रखा गया है आइए दोस्तों तहसीलदार की चयन प्रक्रिया के तीन चरणों को विस्तार से देख लेते हैं।

1. प्रथम चरण जांच परीक्षा

दोस्तों प्रथम चरण में एक जांच परीक्षा ली जाती है जो भी आवेदक पद के लिए आवेदन करता है उसे सबसे पहले जांच परीक्षा से गुजरना पड़ता है इसको इंग्लिश में स्क्रीनिंग टेस्ट भी कहा जाता है जो भी उम्मीदवार इस परीक्षा में सफलता पूर्वक उत्पन्न हो जाता है उसे ही मुख्य परीक्षा के लिए चुना जाता है।

2. द्वितीय चरण मुख्य परीक्षा

जो भी उम्मीदवार जांच परीक्षा में उत्तीर्ण होते हैं उन्हें मुख्य परीक्षा के लिए बुलाया जाता है यह परीक्षा सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है इस परीक्षा को पास करने के लिए बहुत मेहनत और एक अच्छे व्यक्ति के मार्गदर्शन की आवश्यकता होती है अगर आप मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करना चाहते हैं तो आपको बता दूं कि यह एक यूपीएससी लेवल की परीक्षा है और इसको क्रैक करने के लिए आपको बैचलर डिग्री के साथ ही तैयारी करनी शुरू कर देनी चाहिए।

3. तृतीय चरण साक्षात्कार

जो भी व्यक्ति मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण कर लेता है उसको तीसरे चरण से गुजरना होता है तीसरे चरण में व्यक्ति का साक्षात्कार होता है जिसे हम इंग्लिश में इंटरव्यू भी कहते हैं यह भी काफी मुश्किल होता है जैसे ही व्यक्ति द्वितीय चरण उत्कीर्ण कर लेता है तो उसे साक्षात्कार के लिए बुला लिया जाता है। साक्षात्कार में व्यक्ति की परफॉर्मेंस को देखा जाता है इसमें ज्ञान से ज्यादा हाव भाव मेटर करते हैं यह इंटरव्यू भी काफी मुश्किल होता है और आपको अच्छी तैयारी की जरूरत है।

तहसीलदार की सैलरी कितनी होती है

दोस्तों तहसीलदार का पद एक गणमान्य पद होता है तहसीलदार की सैलरी 60 हजार से लेकर ₹150,000 महीना तक होती है तनख्वाह के अलावा तहसीलदार को सरकार की तरफ से कई अन्य प्रकार के बोनस भी दिए जाते हैं। तहसीलदार को कई प्रकार की सुविधाएं दी जाती हैं जिनमें रहने के लिए अपार्टमेंट और वाहन की सुविधा शामिल है।

यहां तक कि तहसीलदार को महंगाई भत्ता और बच्चों की पढ़ाई के लिए भी खर्च मिलता है तहसीलदार को मेडिकल एक्सपेंस के लिए भी अलग से पैसे दिए जाते हैं।

तहसीलदार का मुख्य कार्य क्या होता है

दोस्तों जिले की मुख्य तहसील में तहसीलदार के कई प्रकार के कार्य होते हैं तहसीलदार को बहुत प्रकार के काम करने होते हैं इसलिए सभी के बारे में बताना तो काफी मुश्किल है लेकिन तहसीलदार के जो भी मुख्य काम होते हैं उनकी सूची नीचे दी गई है।

  • तहसीलदार का यह काम होता है कि भूमि से जुड़े हुए मामलों को सुने व विवादों का समाधान करें।
  • पटवारी द्वारा जो भी काम होते हैं उन सभी को ऑडिट करने का काम तहसीलदार का होता है।
  • भूमि से जुड़ी अभिलेखों के भी कई प्रकार के कार्य करने पड़ते हैं।
  • तहसीलदार ही यह सुनिश्चित करता है कि ग्रामीणों को उनकी भूमि से संबंधित जानकारी लेने में कोई परेशानी ना हो।
  • आय प्रमाण पत्र जाति प्रमाण पत्र और रेजिडेंशियल कार्ड तहसीलदार के सिग्नेचर बिना वैलिड नहीं होते हैं।
  • अगर किसी प्राकृतिक आपदा के कारण फसल खराब हो जाए तो इसका मुआवजा पास करना भी तहसीलदार का काम होता है।

इसके अलावा भी कई अन्य प्रकार के कार्य तहसीलदार द्वारा ही निपटाए जाते हैं और तहसीलदार के पास कई प्रकार की शक्तियां भी होती है जिनका वह समय समय पर प्रयोग कर सकता है।

तहसीलदार बनने के लिए तैयारी कैसे करें

दोस्तों अगर आप तहसीलदार बनना चाहते हैं तो आपको इसके लिए अच्छी तैयारी करनी होगी अगर आपने बारहवीं कक्षा से ही तहसीलदार बनने की तैयारी शुरू कर दी है तो यह आपके लिए सबसे अच्छा रहेगा लेकिन अगर आप बैचलर डिग्री कर रहे हैं तो भी अभी आपके पास काफी समय बचा है।

नीचे मैंने कुछ पॉइंट दिए हैं जिसके द्वारा आप तहसीलदार की तैयारी को आसान बना सकते हैं।

  • आपको अच्छी रणनीति के साथ पढ़ाई शुरू करने चाहिए इसलिए आपको टाइम टेबल बनाना होगा टाइम टेबल बनाइए और उस टाइम टेबल को फॉलो कीजिए।
  • जैसा कि मैंने आपको बताया कि यह परीक्षा कुछ यूपीएससी परीक्षा के तरह ही होती है इसलिए यहां पर ध्यान देकर कि आपको करंट अफेयर्स सबसे ज्यादा पढ़ने की जरूरत है।
  • अगर आपकी सामान्य ज्ञान में रुचि है तो भी आपके लिए तहसीलदार की तैयारी करना सबसे अच्छा रहेगा क्योंकि यहां पर सामान्य ज्ञान से जुड़े क्वेश्चन भी बहुत ज्यादा पूछे जाते हैं।
  • आपको प्रतिदिन समाचार पत्र पढ़ने का माइंड सेट बनाना होगा जिससे कि आपका सामान्य ज्ञान भी मजबूत होगा और करंट अफेयर्स में भी काफी सहायता मिलेगी।
  • आप तहसीलदार की परीक्षा के पुराने परीक्षा पत्र ऑनलाइन आसानी से डाउनलोड कर पाएंगे कम से कम 5 सालों के पुराने परीक्षा पत्रों को सॉल्व कीजिए और इन पर अपनी अच्छी पकड़ बनाइए।
  • अपने सिलेबस को सही ढंग से देखें और हर एक विषय की अलग-अलग किताब खरीदें और उसकी पढ़ाई करें।
  • अगर आप घर पर रहकर तहसीलदार की तैयारी नहीं करना चाहते तो समय रहते किसी स्टेट में दाखिला ले लीजिए।
  • बहुत सारी कोचिंग क्लासेज ऐसी होती हैं जो कि आपको स्पेशली तहसीलदार की तैयारी करवाएगी,  क्योंकि कोचिंग क्लास में पढ़ाई का बैकग्राउंड होता है इसलिए उस माहौल में आप की तैयारी ज्यादा अच्छे से होगी।

इस आर्टिकल में हमने देखा कि तहसीलदार कैसे बने सैलरी योग्यता भर्ती प्रक्रिया तो कैसा लगा आपको आज का यह आर्टिकल आशा करूंगा कि आपको आर्टिकल पसंद आया होगा और दी गई जानकारी सही से समझ आई होगी। यहां पर हमने आपको बताया है कि तहसीलदार कैसे बनते हैं तहसीलदार बनने के लिए आपकी योग्यता क्या रहने चाहिए और आयु सीमा और पात्रता के बारे में भी पूरी जानकारी दी है। आशा करता हूं कि आपको जानकारी अच्छी लगी होगी अगर आपको कुछ भी समझ नहीं आया है या आपका कोई क्वेश्चन रह गया है तो आप बेझिझक कमेंट करके पूछ सकते हैं

ये भी पढ़े –

आधार कार्ड सेंटर कैसे खोलें

भारत के 10 सबसे अमीर शहर

बिटकॉइन का मालिक कौन है

इस आर्टिकल को शेयर करें

MakeHindi.Com is a Professional Educational Platform. Here we will provide you only interesting content, which you will like very much. We’re dedicated to providing you the best of Education.

1 thought on “तहसीलदार कैसे बने सैलरी योग्यता भर्ती प्रक्रिया जाने”

  1. बहुत अच्छा बात बताए है आप जैसे लोग देश के भविष्य को आगे बढ़ाते हैं tnx

    Reply

Leave a Comment