VPN क्या है VPN के फायदे नुकसान और पूरी जानकारी

    VPN क्या है VPN के फायदे नुकसान और पूरी जानकारी अगर आप कोई ऐसी वेबसाइट एक्सेस करना चाहते है जो आपके यहां ब्लॉक है तो ये काम आप VPN के जरिये कर सकते हैं जी हां जैसे हमारे देश में फेसबुक को खूब यूज़ करते हैं लेकिन हमारे पड़ोसी देश चाइना में फेसबुक बेन है मतलब अगर आप चाइना में है तो आप facebook नहीं चला सकते हैं.

    जब भी आप चाइना के Google में फेसबुक की वेबसाइट सर्च करेंगे तो फेसबुक ओपन ही नहीं होगी क्योंकि उस कंट्री में फेसबुक पर बेन लगा रखा है और वहां की इन्टरनेट प्रोवाइडर कंपनी फेसबुक एक्सेस करने की अनुमति नहीं देती हैं. ऐसे में इस समस्या को हल करने के लिए VPN बनाया गया है वीपीएन का प्रयोग करके आप चाइना में तो क्या पूरी दुनिया में कहीं भी फेसबुक या बाकि की ब्लॉक वेबसाइट चला सकते है. तो आज हम आपको VPN की पूरी जानकारी देने वाले हैं.

    VPN क्या है
    vpn kya hai

    VPN क्या है

    आपको बता दे कि VPN की फुल फॉर्म वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (Virtual Private Network) होती है इसे बिल्कुल सिंपल तरीके से समझते है मान लीजिये आपने किसी कंपनी जैसे आईडिया, जियो, एयरटेल से इन्टरनेट कनेक्शन लिया है जैसे आप अपने मोबाइल में या कंप्यूटर में गूगल सर्च करते है तो सबसे पहले ये रिक्वेस्ट इन्टरनेट प्रोवाइडर कम्पनी यानी ISP जैसे आईडिया, जियो, एयरटेल के पास जाती है इसके बाद ये कंपनी आपकी रिक्वेस्ट या सर्च को गूगल के सर्वर तक पहुंचाती हैं.

    आपको बता दे कि ये ISP आपके इन्टरनेट कनेक्शन को किसी विशेष साईट को एक्सेस करने पर ब्लॉक भी कर सकती है. इसी के कारण अब आप फिल्म या मूवीज को टोरेंट के जरिये डाउनलोड नहीं कर पाते है क्योंकि कॉपीराइट की वजह से सरकार ने इन वेबसाइट को ISP से कहकर ब्लॉक करवा दिया है. ऐसी स्थिति में हम किसी भी ब्लॉक वेबसाइट को एक्सेस करने और अपनी IP एड्रेस छुपाने के लिए VPN का प्रयोग करते है.

    VPN कैसे काम करता है

    VPN क्या है ये तो आप जान गए होंगे अब आपको बताते हैं कि VPN कैसे काम करता है तो यहाँ VPN आपकी कैसे मदद कर सकता है यह एक सर्वर होता है जब भी आप VPN से लॉग इन होने के बाद किसी साईट को एक्सेस करते है तो आपका कनेक्शन एनक्रिप्ट हो जाता है.

    यह एक ऐसा कनेक्शन होता है जो किसी को भी पता नहीं चलता है ऐसी स्थिति में ISP को पता नहीं चलता है कि आप कौनसी वेबसाइट एक्सेस कर रहे हैं. क्योंकि जब आप google सर्च करते है तो ISP आपको वीपीएन सर्वर तक ही पहुँचता है और ISP को लगता है कि आप वीपीएन सर्वर को ही एक्सेस कर रहे हैं लेकिन जो वीपीएन सर्वर होता है वह दुनिया की किसी भी साईट को ओपन करके देता है भले ही वह वेबसाइट ISP ने ब्लॉक कर रखी हो लेकिन VPN सर्वर से आप उन ब्लॉक वेबसाइट को एक्सेस कर सकते हैं.

    VPN के फायदे

    • सबसे पहला फायदा यहीं है कि आप इससे किसी भी ब्लॉक वेबसाइट को ओपन कर सकते हैं.
    • आप अपने कंट्री की लोकेशन चेंज कर सकते है जैसे चाइना में फेसबुक ब्लॉक है तो चाइना वाले लोग वीपीएन से अपनी कंट्री लोकेशन चेंज करके फेसबुक यूज़ कर सकते हैं.
    • इन्टरनेट में आपको वीपीएन की सर्विस फ्री और पेड भी मिल जाती है आप चाहे तो वीपीएन सर्विस को फ्री में भी इस्तेमाल कर सकते हैं Google प्लेस्टोर में कई एप है जो फ्री में वीपीएन की सर्विस देते हैं.
    • जब आप वीपीएन सर्विस यूज़ करते है तो सारा कनेक्शन इनक्रिप्ट हो जाता है इसलिए इस सर्विस का इस्तेमाल करके आप हैकर से बच सकते हैं.

    VPN के नुकसान

    • कई लोग मानते है कि वीपीएन को यूज़ करने से उन्हें कोई नहीं पकड़ पाता लेकिन ये गलत आप पूरी तरह से अपने आप को नहीं छुपा पाते हैं क्योंकि वीपीएन सर्वर में आपका डेटा मौजूद रहता है.
    • कई फ्री वीपीएन सर्विस आपके डेटा को मिसयूज़ भी कर सकती है क्योंकि उनके पास आपने जो एक्सेस किया उसकी पूरी डिटेल होती है.
    • वीपीएन का सबसे बड़ा नुकसान ये है कि इसे यूज़ करके हैकर अपनी कई हद तक अपनी पहचान छुपाने में कामयाब हो जाते हैं.
    • अगर आप वीपीएन का इस्तेमाल करके इन्टरनेट चला रहे है तो आपको स्लो स्पीड मिलेगी क्योंकि आपके और गूगल के बीच एक और सर्वर जुड़ जाता है जिसे हम VPN सर्वर कहते हैं.

    फ्री VPN का प्रयोग क्यों नहीं करना चाहिए

    अब आप जान गए होंगे कि VPN क्या है और ये भी जानना चाहते होंगे कि इसका प्रयोग करना चाहिए या नहीं. फ्री और पेड दोनों VPN सर्विस के पास आपका डेटा होता है आप जो भी एक्सेस करते है जैसे जीमेल आईडी लॉग इन करना या बैंक से रिलेटेड यूजरनेम और पासवर्ड डालना इन सभी की डिटेल आपके वीपीएन सर्वर में होती है.

    इन्टरनेट में आधी से ज्यादा फ्री वीपीएन सर्विस खुद ही आपको हैक करने का काम करती हैं इसलिए अगर आप कोई पर्सनल चीज या बैंक से सम्बंधित इनफार्मेशन एक्सेस कर रहे है तो आपको फ्री वाले वीपीएन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. कोई पर्सनल चीज या बैंक से सम्बंधित इनफार्मेशन एक्सेस करने के लिए आपको हमेशा बड़ी कंपनी द्वारा प्रोवाइड किये जाने वाली VPN का ही प्रयोग करना चाहिए.

    ऊपर बताई गयी विशेष और नार्मल चीजों से आपको पता चल गया होगा कि VPN क्या है VPN कैसे काम करता है और इसके फायदे और नुकसान क्या है. तो यहां वीपीएन के बारे में यहीं बात निकलकर आती है कि ये सर्विस आपको किसी भी जगह में किसी भी वेबसाइट को ओपन करने का मौका देती है. पेड सर्विस का यूज़ करके आप अपने आपको हैकरों से बचा सकते हैं हालाकि अगर आप फ्री VPN सर्विस यूज़ कर रहे है तो आपको किसी भी तरह अपने पर्सनल और बैंक से रिलेटेड यूजरनेम और पासवर्ड यूज़ नहीं करना चाहिए. अगर पेड VPN सर्विस यूज़ कर रहे है तो उसमे आप सारे काम बिना किसी परेशानी के कर सकते हैं.

    ये भी पढ़े –

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here