WhatsApp का मालिक कौन है ये किस देश की कंपनी है

WhatsApp का मालिक कौन है ये किस देश की कंपनी है आज के समय में गुड मॉर्निंग और गुड नाईट के फोटोज के साथ व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी के फेक मैसेज वाली WhatsApp दुनिया की सबसे पॉपुलर मैसेंजिंग सर्विस बन चुकी है। आप भी व्हाट्सएप जरूर इस्तेमाल करते होंगे WhatsApp एक ऐसा प्लेटफार्म है जिसके पूरी दुनिया में 500 करोड़ से ज्यादा यूजर हैं व्हाट्सएप की एंड्रॉयड और आईओएस एप्लीकेशन को 500 करोड़ से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।

WhatsApp का मालिक कौन है

व्हाट्सएप एक सोशल मीडिया एप्लीकेशन है जहां पर आप मैसेज फोटो वीडियो भेज सकते हैं और स्टेटस लगा सकते हैं इसी के साथ साथ WhatsApp पर अब आप पैसे भी भेज सकते हैं। व्हाट्सएप पर आप लोगों के साथ जुड़ने के लिए ग्रुप बना सकते हैं वीडियो कॉल कर सकते हैं और ब्रॉडकास्टिंग भी कर सकते हैं।

व्हाट्सएप पर प्राइवेसी को लेकर भी काफी ध्यान रखा गया है WhatsApp पर आप जो भी मीडिया ट्रांसमिट करते हैं वह एंड टू एंड इंक्रिप्ट होता है एंड टू एंड इंक्रिप्शन सिक्योरिटी का एक बहुत ही एडवांस फैक्टर है। व्हाट्सएप का चलन आज के समय में बहुत ज्यादा है फिलहाल व्हाट्सएप ने बिज़नेस वालों के लिए WhatsApp बिजनेस भी लॉन्च कर दिया है

यहां पर आप अपने प्रोडक्ट के कैटलॉग बना सकते हैं और अपने ग्राहकों के पास अधिक सुविधाजनक तरीके से भेज सकते हैं। फिलहाल व्हाट्सएप एक एप्लीकेशन के रूप में चल रहा है इसकी शुरुआत भी एक एप्लीकेशन के रूप में हुई थी लेकिन आगे चलकर WhatsApp हर एक प्लेटफार्म पर अपनी पकड़ बनाना चाहता है तो चलिए जानते हैं WhatsApp Ka Malik Kaun Hai उम्मीद करते हैं यह पोस्ट आपको पसंद आएगा।

WhatsApp का मालिक कौन है

WhatsApp का मालिक मेटा कंपनी है और मेटा कंपनी का मालिक मार्क जुकरबर्ग है मार्क जुकरबर्ग WhatsApp के साथ साथ फेसबुक और इंस्टाग्राम के भी मालिक है। इसलिए WhatsApp कंपनी का मालिकाना हक मार्क जुकरबर्ग के पास है। लेकिन व्हाट्सएप कंपनी को मार्क जुकरबर्ग या मेटा कंपनी ने नहीं बनाया था व्हाट्सएप को Jan Koum और Brian Acton नाम के दो व्यक्तियों ने मिलकर बनाया था लेकिन WhatsApp को 2014 में 19 बिलियन डॉलर में फेसबुक ने खरीद लिया था।

व्हाट्सएप का मालिक कौन है

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फेसबुक कंपनी ने फिलहाल अपना नाम चेंज करके मेटा रख लिया है इसीलिए व्हाट्सएप के सभी राइट्स मेटा कंपनी के पास है। दुनिया की जनसंख्या मेरे से 25% लोग WhatsApp का इस्तेमाल करते हैं इस एप पर आपको कोई भी एडवरटाइजमेंट देखने को नही मिलती यह पूरी तरह से फ्री टू यूज़ है।

WhatsApp किस देश की कंपनी है

व्हाट्सएप के मालिक अमेरिका देश के रहने वाले थे इसलिए हम यह कह सकते हैं कि WhatsApp अमेरिका की कंपनी है लेकिन जब व्हाट्सएप को फेसबुक ने खरीद लिया तो इसका सारा मालिकाना हक फेसबुक के पास चला गया। लेकिन WhatsApp अभी भी अमेरिका की ही कंपनी है क्योंकि फेसबुक यानी कि मेटा कंपनी का सारा कारोबार अमेरिका में चलता है और इनकी शुरुआत भी अमेरिका में ही हुई थी।

WhatsApp की शुरूआत कब हुई थी

WhatsApp की शुरुआत साल 2009 में हुई थी, Brian Acton और Jan Koum ने इस एप्लीकेशन की शुरुआत की थी।इन दोनों युवकों ने व्हाट्सएप बनाने से पहले याहू कंपनी में एक साथ काम किया था याहू कंपनी को छोड़ने के बाद इन्होंने फेसबुक और टि्वटर में नौकरी के लिए अप्लाई किया लेकिन इन्हें रिजेक्शन मिल गया था बड़े आश्चर्य की बात है कि रिजेक्शन मिलने के लगभग 5 साल बाद ही फेसबुक ने इनकी एप्लीकेशन के लिए 19 बिलियन डॉलर अदा किए थे।

Jan Koum एक मिडिल क्लास फैमिली से बिलोंग करते हैं जिनका जन्म 1976 में यूक्रेन देश के एक छोटे से शहर में हुआ था, इनके पिता एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम करते थे स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद Jan Koum ने आगे की पढ़ाई सन जोस् स्टेट यूनिवर्सिटी मैं की थी।

यह मैथ और कंप्यूटर साइंस के विषय में काफी अच्छे थे Jan Koum के साथी Brian Acton भी एक मिडिल क्लास फैमिली से थे जिनका जन्म अमेरिका के मिशिगन प्रांत में हुआ था इन्होंने Lake Howell हाई स्कूल से स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद मिशीगन स्टेट यूनिवर्सिटी में आगे की पढ़ाई जारी रखी थी।

व्हाट्सएप की शुरुआत से जुड़ी कई कहानियां हैं जिनमें से एक कहानी यह है कि Jan Koum को जिम जाने का बहूत शौक था लेकिन जब वह जिम में होते थे तो अपने दोस्तों की कॉल रिसीव नहीं कर पाते थे क्योंकि एप्लीकेशन डेवलपमेंट कि उन्हें अच्छी खासी नॉलेज थी इसलिए उनके दिमाग में एक आईडिया आया कि क्यों ना एक ऐसी एप्लीकेशन बनाई जाए जो कि यह स्टेटस दिखा सके कि इस वक्त मैं क्या कर रहा हूं।

इस बात से प्रेरित होकर उन्होंने व्हाट्सएप नाम की एक एप्लीकेशन बनाई लेकिन उस एप्लीकेशन में आज के समय की WhatsApp की तरह आप मैसेज नहीं भेज सकते थे वहां पर केवल स्टेटस का फीचर दिया गया था।

दरअसल व्हाट्सएप अंग्रेजी के What’s Up से आया है जिसका हिंदी में मतलब है क्या हाल है इसलिए WhatsApp को शुरुआत में सिर्फ हाल चाल बताने के लिए कि बनाया गया था इसीलिए यह उसमें एक नई चीज थी और लोग इस एप्लीकेशन का काफी बढ़ चढ़कर इस्तेमाल करने लगे।

लेकिन धीरे-धीरे Brian Acton और Jan Koum को यह अंदेशा होने लगा कि लोग इस एप्लीकेशन को कन्वर्सेशन करने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि जब एक जना स्टेटस लगाता तो उसके जवाब में उसका दोस्त भी सामने स्टेटस लगाता इसीलिए इन्होंने यहां पर मैसेज भेजने की सर्विस भी चालू कर दी जिससे कि लोग आसानी से कन्वर्सेशन कर पायें।

WhatsApp पॉपुलर क्यों हुआ है

आपको यह पता होगा कि बीच में एक बार फेसबुक ने व्हाट्सएप इस्तेमाल करने के लिए लोगों से फीस लेनी शुरू कर दी थी, हालांकि उसे बाद में फ्री ही कर दिया गया और अभी WhatsApp बिल्कुल फ्री है लेकिन आपको बता दूं कि व्हाट्सएप शुरुआत में भी फ्री था। जब व्हाट्सएप की शुरुआत हुई थी तो उस समय में WhatsApp के अलावा केवल ब्लैकबेरी के मोबाइल में ही फ्री मैसेज भेजने की सुविधा उपलब्ध थी इसीलिए व्हाट्सएप काफी पॉपुलर हुआ था।

व्हाट्सएप को सुविधा पूर्ण तरीके से चलाने के लिए Jan Koum और Brian Acton ने कुछ डेवलपर्स की टीम भी हायर की थी इनका एक ग्रुप हुआ करता था जो WhatsApp का सारा कारोबार संभालता था। इन्होंने व्हाट्सएप को फ्री सर्विस के रूप में चलाया था इसीलिए इनकी अधिक कमाई नहीं होती थी लेकिन जैसे जैसे WhatsApp पॉपुलर होती गई तो इन्वेस्टमेंट करने वालों की तरफ से भी फंडिंग आनी शुरू हो गई।

व्हाट्सएप में किसी भी प्रकार की एडवर्टाइजमेंट नहीं की और बिना किसी मार्केटिंग के ही WhatsApp पॉपुलर होती चली गई क्योंकि लोगों को व्हाट्सएप पसंद आती और वे अपने दोस्तों के साथ व्हाट्सएप को शेयर करते इसीलिए व्हाट्सएप की बहुत ज्यादा ऑर्गेनिक ग्रोथ हुई थी। देखते ही देखते 2011 तक WhatsApp प्ले स्टोर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाली 10 एप्लीकेशन में आ चुकी थी।

ये भी पढ़े – भारत से कितने देश अलग हुए हैं

WhatsApp से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

  • WhatsApp पर अकाउंट बनाते समय जो वेरिफिकेशन कोड जाता है वह व्हाट्सएप के शुरुआती दिनों में सबसे बड़ा खर्चा था यानी कि व्हाट्सएप को चलाने में जो खर्च आता था उसमें सबसे ज्यादा खर्च उस वेरिफिकेशन कोड के लिए आता था यानी कि कंपनी के लिए व्हाट्सएप को सुचारू रूप से चलाने का खर्च बहुत कम था।
  • इसके दो फाउंडर्स को फेसबुक कंपनी ने व्हाट्सएप खरीदने के साथ नौकरी भी दी थी लेकिन उस समय बाद इन्होंने अपनी नौकरी है कहकर छोड़ दी थी कि फेसबुक कंपनी WhatsApp को कुछ अलग दिशा में लेकर जा रही है जो इनको पसंद नहीं आ रहा है।
  • व्हाट्सएप पर हर दिन 100 बिलियन से ज्यादा मैसेज भेजे जाते हैं।
  • मार्च 2020 के कोरोना काल में WhatsApp के यूजर 40% तक बढ़ गए थे यह इसलिए हुआ था क्योंकि लॉकडाउन की वजह से स्कूलों ने बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाना शुरू कर दिया था इसलिए व्हाट्सएप पर बहुत ज्यादा छोटे बच्चे भी आ गए।
  • इंटरनेट पर बहुत सी वेबसाइट ऐसी है जो लड़कियों के व्हाट्सएप नंबर देती है और अलग अलग कैटेगरी के ग्रुप प्रोवाइड करवाती है।

FAQ WhatsApp के मालिक से संबंधित

WhatsApp की शुरुआत कब हुई थी?

इस एप की शुरुआत Brian Acton और Jan Koum ने साल 2009 में की थी Brian Acton और Jan Koum अमेरिकी नागरिक हैं जिन्होंने अमेरिका में ही रहकर व्हाट्सएप को बनाया था

WhatsApp को किसने खरीदा था?

शुरुआत में WhatsApp एक अलग कंपनी थी जो शुरुआत से ही काफी लोकप्रिय हो रही थी इसकी सफलता को देखते हुए मार्क जुकरबर्ग की कंपनी मेटा (फेसबुक) ने इसे खरीद लिया था तब से ही यह अब मेटा कंपनी का हिस्सा है

WhatsApp के दुनिया में कितने यूजर हैं?

इंटरनेट यूज़ करने वाला शायद ही कोई व्यक्ति होगा जो WhatsApp के बारे में नहीं जानता होगा चीन को छोड़कर दुनिया के लगभग सभी स्मार्टफोन यूजर इंस्टेंट मैसेजिंग के लिए व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं ऐसे में दुनियाभर में 5 अरब से भी ज्यादा लोग व्हाट्सएप का इस्तेमाल कर रह हैं

WhatsApp के वर्तमान ओनर कौन हैं?

जैसा कि हमने आपको बताया व्हाट्सएप को Brian Acton और Jan Koum ने बनाया था लेकिन इन्होंने बाद में अच्छी डील मिलने के बाद व्हाट्सएप को फेसबुक कंपनी को बेच दिया था इस तरह अब व्हाट्सएप के वर्तमान मालिक मार्क जुकरबर्ग हैं

WhatsApp के CEO कौन हैं?

वर्तमान में WhatsApp के सीईओ Will Cathcart हैं ये मार्च 2019 से अपना कार्यभार संभाल रहे हैं इनके कार्यकाल में भी व्हाट्सएप को काफी सफलता मिली है

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने देखा कि WhatsApp का मालिक कौन है ये किस देश की कंपनी है आशा करेंगे कि आपको आर्टिकल पसंद आया होगा और दी गई इंफॉर्मेशन सही सही समझ आई होगी इसी के साथ साथ हमने आपको बताया कि व्हाट्सएप कंपनी की शुरुआत कैसे हुई और व्हाट्सएप कहां की कंपनी है अगर आपको व्हाट्सएप के बारे में कोई भी और इंफॉर्मेशन चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

MakeHindi.Com is a Professional Educational Platform. Here we will provide you only interesting content, which you will like very much. We’re dedicated to providing you the best of Education.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here