व्हाट्सएप का मालिक कौन है ये किस देश की कंपनी है

इस आर्टिकल में हम देखेंगे कि व्हाट्सएप का मालिक कौन है ये किस देश की कंपनी है आज के समय में गुड मॉर्निंग और गुड नाईट के फोटोज के साथ व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी के फेक मैसेज वाली WhatsApp दुनिया की सबसे पॉपुलर मैसेंजिंग सर्विस बन चुकी है। आप भी व्हाट्सएप जरूर इस्तेमाल करते होंगे WhatsApp एक ऐसा प्लेटफार्म है जिसके पूरी दुनिया में 500 करोड़ से ज्यादा यूजर हैं व्हाट्सएप की एंड्रॉयड और आईओएस एप्लीकेशन को 500 करोड़ से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।

व्हाट्सएप का मालिक कौन है

व्हाट्सएप एक सोशल मीडिया एप्लीकेशन है जहां पर आप मैसेज फोटो वीडियो भेज सकते हैं और स्टेटस लगा सकते हैं इसी के साथ साथ WhatsApp पर अब आप पैसे भी भेज सकते हैं। व्हाट्सएप पर आप लोगों के साथ जुड़ने के लिए ग्रुप बना सकते हैं वीडियो कॉल कर सकते हैं और ब्रॉडकास्टिंग भी कर सकते हैं।

व्हाट्सएप पर प्राइवेसी को लेकर भी काफी ध्यान रखा गया है WhatsApp पर आप जो भी मीडिया ट्रांसमिट करते हैं वह एंड टू एंड इंक्रिप्ट होता है एंड टू एंड इंक्रिप्शन सिक्योरिटी का एक बहुत ही एडवांस फैक्टर है। व्हाट्सएप का चलन आज के समय में बहुत ज्यादा है फिलहाल व्हाट्सएप ने बिज़नेस वालों के लिए WhatsApp बिजनेस भी लॉन्च कर दिया है

यहां पर आप अपने प्रोडक्ट के कैटलॉग बना सकते हैं और अपने ग्राहकों के पास अधिक सुविधाजनक तरीके से भेज सकते हैं। फिलहाल व्हाट्सएप एक एप्लीकेशन के रूप में चल रहा है इसकी शुरुआत भी एक एप्लीकेशन के रूप में हुई थी लेकिन आगे चलकर WhatsApp हर एक प्लेटफार्म पर अपनी पकड़ बनाना चाहता है और धीरे धीरे यहां पर फंक्शन और फीचर्स भी बढ़ रहे हैं।

व्हाट्सएप का मालिक कौन है

व्हाट्सएप का मालिक मेटा कंपनी है और मेटा कंपनी का मालिक मार्क जुकरबर्ग है मार्क जुकरबर्ग WhatsApp के साथ साथ फेसबुक और इंस्टाग्राम के भी मालिक है। इसलिए व्हाट्सएप कंपनी का मालिकाना हक मार्क जुकरबर्ग के पास है। लेकिन व्हाट्सएप कंपनी को मार्क जुकरबर्ग या मेटा कंपनी ने नहीं बनाया था व्हाट्सएप को Jan Koum और Brian Acton नाम के दो व्यक्तियों ने मिलकर बनाया था लेकिन WhatsApp को 2014 में 19 बिलियन डॉलर में फेसबुक ने खरीद लिया था।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फेसबुक कंपनी ने फिलहाल अपना नाम चेंज करके मेटा रख लिया है इसीलिए व्हाट्सएप के सभी राइट्स मेटा कंपनी के पास है। दुनिया की जनसंख्या मेरे से 25% लोग WhatsApp का इस्तेमाल करते हैं इस एप पर आपको कोई भी एडवरटाइजमेंट देखने को नही मिलती यह पूरी तरह से फ्री टू यूज़ है।

व्हाट्सएप का मालिक कौन है

व्हाट्सएप किस देश की कंपनी है

व्हाट्सएप के मालिक अमेरिका देश के रहने वाले थे इसलिए हम यह कह सकते हैं कि WhatsApp अमेरिका की कंपनी है लेकिन जब व्हाट्सएप को फेसबुक ने खरीद लिया तो इसका सारा मालिकाना हक फेसबुक के पास चला गया। लेकिन WhatsApp अभी भी अमेरिका की ही कंपनी है क्योंकि फेसबुक यानी कि मेटा कंपनी का सारा कारोबार अमेरिका में चलता है और इनकी शुरुआत भी अमेरिका में ही हुई थी।

व्हाट्सएप की शुरूआत

व्हाट्सएप की शुरुआत साल 2009 में हुई थी, Brian Acton और Jan Koum ने इस एप्लीकेशन की सुरुआत की थी।इन दोनों युवकों ने WhatsApp बनाने से पहले याहू कंपनी में एक साथ काम किया था याहू कंपनी को छोड़ने के बाद इन्होंने फेसबुक और टि्वटर में नौकरी के लिए अप्लाई किया लेकिन इन्हें रिजेक्शन मिल गया था बड़े आश्चर्य की बात है कि रिजेक्शन मिलने के लगभग 5 साल बाद ही फेसबुक ने इनकी एप्लीकेशन के लिए 19 बिलियन डॉलर अदा किए थे।

Jan Koum एक मिडिल क्लास फैमिली से बिलोंग करते हैं जिनका जन्म 1976 में यूक्रेन देश के एक छोटे से शहर में हुआ था, इनके पिता एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम करते थे स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद Jan Koum ने आगे की पढ़ाई सन जोस् स्टेट यूनिवर्सिटी मैं की थी।

यह मैथ और कंप्यूटर साइंस के विषय में काफी अच्छे थे Jan Koum के साथी Brian Acton भी एक मिडिल क्लास फैमिली से थे जिनका जन्म अमेरिका के मिशिगन प्रांत में हुआ था इन्होंने Lake Howell हाई स्कूल से स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद मिशीगन स्टेट यूनिवर्सिटी में आगे की पढ़ाई जारी रखी थी।

व्हाट्सएप की शुरुआत से जुड़ी कई कहानियां हैं जिनमें से एक कहानी यह है कि Jan Koum को जिम जाने का बहूत शौक था लेकिन जब वह जिम में होते थे तो अपने दोस्तों की कॉल रिसीव नहीं कर पाते थे क्योंकि एप्लीकेशन डेवलपमेंट कि उन्हें अच्छी खासी नॉलेज थी इसलिए उनके दिमाग में एक आईडिया आया कि क्यों ना एक ऐसी एप्लीकेशन बनाई जाए जो कि यह स्टेटस दिखा सके कि इस वक्त मैं क्या कर रहा हूं।

इस बात से प्रेरित होकर उन्होंने व्हाट्सएप नाम की एक एप्लीकेशन बनाई लेकिन उस एप्लीकेशन में आज के समय की WhatsApp की तरह आप मैसेज नहीं भेज सकते थे वहां पर केवल स्टेटस का फीचर दिया गया था।

दरअसल व्हाट्सएप अंग्रेजी के What’s Up से आया है जिसका हिंदी में मतलब है क्या हाल है इसलिए WhatsApp को शुरुआत में सिर्फ हाल चाल बताने के लिए कि बनाया गया था इसीलिए यह उसमें एक नई चीज थी और लोग इस एप्लीकेशन का काफी बढ़ चढ़कर इस्तेमाल करने लगे।

लेकिन धीरे-धीरे Brian Acton और Jan Koum को यह अंदेशा होने लगा कि लोग इस एप्लीकेशन को कन्वर्सेशन करने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि जब एक जना स्टेटस लगाता तो उसके जवाब में उसका दोस्त भी सामने स्टेटस लगाता इसीलिए इन्होंने यहां पर मैसेज भेजने की सर्विस भी चालू कर दी जिससे कि लोग आसानी से कन्वर्सेशन कर पायें।

व्हाट्सएप पॉपुलर क्यों हुआ

आपको यह पता होगा कि बीच में एक बार फेसबुक ने व्हाट्सएप इस्तेमाल करने के लिए लोगों से फीस लेनी शुरू कर दी थी, हालांकि उसे बाद में फ्री ही कर दिया गया और अभी WhatsApp बिल्कुल फ्री है लेकिन आपको बता दूं कि व्हाट्सएप शुरुआत में भी फ्री था। जब व्हाट्सएप की शुरुआत हुई थी तो उस समय में WhatsApp के अलावा केवल ब्लैकबेरी के मोबाइल में ही फ्री मैसेज भेजने की सुविधा उपलब्ध थी इसीलिए व्हाट्सएप काफी पॉपुलर हुआ था।

व्हाट्सएप को सुविधा पूर्ण तरीके से चलाने के लिए Jan Koum और Brian Acton ने कुछ डेवलपर्स की टीम भी हायर की थी इनका एक ग्रुप हुआ करता था जो WhatsApp का सारा कारोबार संभालता था। इन्होंने व्हाट्सएप को फ्री सर्विस के रूप में चलाया था इसीलिए इनकी अधिक कमाई नहीं होती थी लेकिन जैसे जैसे WhatsApp पॉपुलर होती गई तो इन्वेस्टमेंट करने वालों की तरफ से भी फंडिंग आनी शुरू हो गई।

व्हाट्सएप में किसी भी प्रकार की एडवर्टाइजमेंट नहीं की और बिना किसी मार्केटिंग के ही WhatsApp पॉपुलर होती चली गई क्योंकि लोगों को व्हाट्सएप पसंद आती और वे अपने दोस्तों के साथ व्हाट्सएप को शेयर करते इसीलिए व्हाट्सएप की बहुत ज्यादा ऑर्गेनिक ग्रोथ हुई थी। देखते ही देखते 2011 तक WhatsApp प्ले स्टोर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाली 10 एप्लीकेशन में आ चुकी थी।

व्हाट्सएप से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

  • WhatsApp पर अकाउंट बनाते समय जो वेरिफिकेशन कोड जाता है वह व्हाट्सएप के शुरुआती दिनों में सबसे बड़ा खर्चा था यानी कि व्हाट्सएप को चलाने में जो खर्च आता था उसमें सबसे ज्यादा खर्च उस वेरिफिकेशन कोड के लिए आता था यानी कि कंपनी के लिए व्हाट्सएप को सुचारू रूप से चलाने का खर्च बहुत कम था।
  • इसके दो फाउंडर्स को फेसबुक कंपनी ने व्हाट्सएप खरीदने के साथ नौकरी भी दी थी लेकिन उस समय बाद इन्होंने अपनी नौकरी है कहकर छोड़ दी थी कि फेसबुक कंपनी WhatsApp को कुछ अलग दिशा में लेकर जा रही है जो इनको पसंद नहीं आ रहा है।
  • व्हाट्सएप पर हर दिन 100 बिलियन से ज्यादा मैसेज भेजे जाते हैं।
  • मार्च 2020 के कोरोना काल में WhatsApp के यूजर 40% तक बढ़ गए थे यह इसलिए हुआ था क्योंकि लॉकडाउन की वजह से स्कूलों ने बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाना शुरू कर दिया था इसलिए व्हाट्सएप पर बहुत ज्यादा छोटे बच्चे भी आ गए।
  • इंटरनेट पर बहुत सी वेबसाइट ऐसी है जो लड़कियों के व्हाट्सएप नंबर देती है और अलग अलग कैटेगरी के ग्रुप प्रोवाइड करवाती है।

इस आर्टिकल में हमने देखा कि व्हाट्सएप का मालिक कौन है ये किस देश की कंपनी है आशा करेंगे कि आपको आर्टिकल पसंद आया होगा और दी गई इंफॉर्मेशन सही सही समझ आई होगी दोस्तों इस आर्टिकल में मैंने बात की कि WhatsApp का Owner कौन है इसी के साथ साथ मैंने आपको बताया कि व्हाट्सएप कंपनी की शुरुआत कैसे हुई और व्हाट्सएप कहां की कंपनी है अगर आपको व्हाट्सएप के बारे में कोई भी और इंफॉर्मेशन चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

ये भी पढ़े –

ये हैं दुनिया के 10 सबसे अमीर क्रिकेटर

दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है

भारत से कितने देश अलग हुए हैं उनके नाम और इतिहास जानिए

Leave a Comment