भारत को इंडिया क्यों कहते है विस्तार से जाने

भारत को इंडिया क्यों कहते है, भारत को इंडिया किसने कहा था, भारत को इंडिया नाम किसने दिया था, भारत को इंडिया नाम कैसे मिला और भारत को इंडिया क्यों कहा जाता है आज आपको इन सभी सवालों के जवाब मिलने वाले है. हम सभी जानते हैं कि भारत कई सारी संस्कृति का देश यहां स्थान बदलते ही धर्म और भाषा बदल जाती है. जिस तरह भारत में कई धर्म के लोग रहते हैं उसी तरह भारत के कई नाम भी है भारत के इतने नाम है कि शायद दुनिया के किसी भी देश के इतने नाम नहीं होंगे. भारत एक एतिहासिक देश है जहां पर बहुत सारे इतिहास देखने को मिल जायेंगे. भारत के इतिहास की बात करे तो भारत इतिहास के कई सालों तक गुलामी की जंजीर में भी जकड़ा रहा है कई सालों तक मुगलों में भारत पर राज किया तो इसके बाद भारत अंग्रेजों की गुलामी जकड़ गया हालाकि अब हमारा देश आजाद है और हम सभी इस अपने देश में आजादी से रह रहे हैं.

भारत को इंडिया क्यों कहते है विस्तार से जाने
bharat ko india kyo kahte hai

भारत को इंडिया क्यों कहते है

बहुत से लोगो के मन में आज भी सवाल है कि भारत को इंडिया क्यों कहते हैं और ये नाम कहाँ से आया और भारत का नाम इंडिया कैसे पड़ा. तो आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं तो आपको बता दे कि हमारे देश की सिंधु घाटी की सभ्यता, रोम की सभ्यता की तरह प्रसिद्ध थी और पूरे देश में फैली हुई थी. हमारे देश में सिंधु घाटी की सभ्यता से जुड़ी सिंधु नामक नदी भी है इस नदी का दूसरा नाम इंडस वैली था जिसे विदेशी लोगो ने रखा था. सिंधु सभ्यता के कारण भारत का पुराना नाम सिंधु भी था जिसे यूनानी में इंडो या इंडोस शब्द का रूप मिला जब ये शब्द लेटिन भाषा में पहुंचा तो ये नाम इंडिया में बदल गया.

जब शुरूआत में भारत को इंडिया नाम मिला तो इसे भारत के लोगो द्वारा अस्वीकार कर दिया गया था क्यों ये विदेशीयों द्वारा रखा गया नाम था और शुरुआत में इस नाम को कोई तवज्जो नहीं मिली. जब भारत में अंग्रेज आये तो उस समय भारत को हिन्दुस्तान भी कहा जाता था. अंग्रेजों को भारत के सभी पुराने नाम का उच्चारण करने में कठनाई आयी इसलिए उन्होंने भारत का अपने हिसाब से नाम देने की कोशिश और वो इसमें सफल भी हुए.

जब अंग्रेजो को पता चला कि भारत की पुरानी सभ्यता सिंधु घाटी को इंडस वैली भी कहते है जिसका लेटिन भाषा में अर्थ इंडिया रखा गया है तो उन्होंने भारत को इंडिया कहना शुरू कर दिया चुकीं इंडिया शब्द उच्चारण में करने में अंग्रेजों को काफी अच्छा लगा तो उन्होंने भारत को इंडिया के रूप में नया नाम दे दिया था. अंग्रेजों के शासनकाल में इंडिया नाम काफी प्रसिद्ध हो गया और लगभग सभी देश विदेश के लोग भारत को इंडिया नाम से जानने लगे थे. तो इस तरह भारत का नाम इंडिया पड़ा था.

तो अब आप जान गए होंगे कि भारत को इंडिया क्यों कहते है और ये इंडिया नाम कहां से आया था. इंडिया नाम को पूर्ण मान्यता भारत की आजादी के बाद मिली थी जब भारत आजाद हुआ था. भारत के संविधान ने भी इस नाम को स्वीकार कर लिया था इसके बाद भारत के लोग, देश को इंडिया और खुद को इंडियन कहकर बुलाने लगे थे.

ये भी पढ़े –

MakeHindi.Com is a Professional Educational Platform. Here we will provide you only interesting content, which you will like very much. We’re dedicated to providing you the best of Education.

7 COMMENTS

  1. THANK YOU VERY MUCH FOR THIS POST.CONTINUE YOUR TRY PLEASE. YOUR TRY IS VERY USEFUL. NOTE-PLEASE WRITE CORRECT HINDI.THERE ARE SOME MISTAKES IN THIS POST.THANKS.HAPPY DIWALI.

  2. हमारे देश का नाम भारत ही रहना चाहिए क्यू कि
    भारत नाम हमारे महान लोगों ने रखा था
    पर भारत को जो लोग ने गुलाम बनाया और इसका नाम बदलकर कर इंडिया रख दिया वो हम क्यू माने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here