CNG और LPG में अंतर जानिए

क्या आप जानना चाहते है CNG और LPG में अंतर क्या होता है Difference Between CNG and LPG in Hindi यदि हां तो आज के इस पोस्ट में हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं। अगर आप देश दुनिया का थोड़ा बहुत ज्ञान रखते हैं तो आपने CNG और एलपीजी के बारे में जरुर सुना होगा। वर्तमान में अगर किन्ही गैस का सबसे ज्यादा उपयोग हो रहा है तो वह एलपीजी और CNG ही है। ऐसे में बहुत से लोग इन गैस के बारे में जानना चाहते हैं।

CNG और LPG में अंतर

एलपीजी के बारे में बात करे तो आज देश के ज्यादातर घरों की किचन में इस गैस का प्रयोग हो रहा है। पिछले कुछ सालों में देश में इस गैस का उपयोग काफी बढ़ा है और इसका श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को जाता है। क्योंकि उनकी योजना के चलते अब गरीब परिवारों को भी मुफ्त में LPG गैस कनेक्शन मिल रहा है। ऐसे में इस योजना के चलते एलपीजी उपयोग करने वाले परिवारों की संख्या काफी बढ़ी है। वहीं CNG के बारे में जाने तो इसका मुख्य उपयोग वाहन के ईधन के रूप में किया जा रहा है।

CNG क्या है

आपको बता दे कि CNG का फुल फॉर्म Compressed Natural Gas होता है। इसे आप हिंदी में संपीडित प्राकृतिक गैस भी कह सकते हैं। जैसा कि इसके नाम से पता चल रहा है कि इसे नेचुरल गैस को कंप्रेस्ड करके बनाया जाता है। इस गैस का उपयोग अधिकतर वाहनों के ईधन के रूप में किया जाता है। हम सभी को पता है कि फिलहाल अधिकतर वाहन पेट्रोल या डीजल से चल रहे हैं जिनसे प्रदूषण होता है।

यदि आप अपने वाहन को CNG गैस से चलाते है तो यह पेट्रोल डीजल के मुकाबले सस्ती पढ़ती है और इससे पर्यावरण को प्रदूषण भी न के बराबर होता है। यही वजह है कि सरकार भी सीएनजी से चलने वाले वाहनों को बढ़ावा दे रही है जिससे वाहन से होने वाले प्रदूषण को कम किया जा सके।

LPG क्या है

घरों में उपयोग की जाने वाली LPG का फुल फॉर्म Liquefied Petroleum Gas होता है। जिसे हिंदी भाषा में तरलीकृत पेट्रोलियम गैस कहा जाता है। यह कई गैसों का मिश्रण होता है जैसे प्रोपेन, प्रोपलीन, ब्यूटेन और ब्यूटाइलीन। बता दे कि इसे पेट्रोलियम शोधन के उप-उत्पाद के रूप में उत्पादित किया जाता है।

यह प्राकृतिक गैस के विपरीत होती है मतलब यह हवा से भारी होती है। इस वजह से यह फर्श में बहती रहती है यदि इसके आस पास कोई तहखाना है तो यह उसमे बस जाती है। यदि किसी कारण इसका रिसाव होता है तो यह आग के संपर्क में आते ही विस्फोट जैसा खतरा पैदा कर सकती है।

CNG और LPG में अंतर

सीएनजी मुख्य तौर पर वाहनों के ईधन के रूप में प्रयोग की जाती है। जबकि एलपीजी को खाना पकाने के अलावा वाहन के ईधन में भी प्रयोग की जा सकती है।

सीएनजी को नेचुरल गैस को कंप्रेस्ड करके बनाया जाता है। जबकि LPG को कई गैसों के मिश्रण से बनाया जाता है।

एक तरफ एलपीजी प्रोपेन और ब्यूटेन जैसी गैसों का मिश्रण होता है। वहीं CNG नेचुरल गैस का संपीडित भाग होता है।

एलपीजी उच्च ताप पर द्रव अवस्था में पायी जाती है और सामान्य ताप पर गैसीय अवस्था में होती है। CNG को द्रव अवस्था में लाने के लिए 0 डिग्री सेल्सियस से भी कम तापमान की आवश्यकता होती है।

दोनों गैसों को कुछ बाते समान बनाती हैं जैसे दोनों गैसों की कीमत दूसरे ईधन पेट्रोल डीजल से थोड़ी कम होती है। इसके अलावा यह पर्यावरण को कम से कम नुकसान पहुँचाती हैं।

तो अब आप जान गए होंगे कि CNG और LPG में अंतर क्या है Difference Between CNG and LPG in Hindi वैसे देखा जाए तो दोनों गैस अपने अपने छेत्र में अहम भूमिका निभा रही हैं। एक तरफ जहां सीएनजी वाहनों के ईधन का सबसे अच्छा उपाय साबित हो रही है वहीं दूसरी तरफ एलपीजी घरों की रसोइयों में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रही है। तो उम्मीद करते हैं CNG और LPG की यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

ये भी पढ़े –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here