Credit Card के फायदे और नुकसान जानिए

आमतौर पर ग्राहक Credit Card को ऑनलाइन शॉपिंग के लिए बैंक से लेते है यह एक प्रकार का लोन होता है जिसे शॉपिंग करने के बाद आपको बैंक को चुकाना होता है. वैसे तो आम लोगो के लिए किसी बैंक से क्रेडिट कार्ड कार्ड लेना काफी मुस्किल होता है लेकिन अगर आप कोई सरकारी या फिर प्राइवेट जॉब करते हैं तो बैंक आपको बहुत आसानी से कार्ड उपलब्ध करा देती हैं. यदि आप किसी बैंक से क्रेडिट कार्ड लेने की सोच रहे हैं या फिर आपके पास पहले से ही ये कार्ड है तो आपको Credit Card के फायदे और नुकसान in Hindi के बारे में जरुर जानना चाहिए क्योंकि ये जानकारी होने पर आप क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सही तरीके से कर सकते है. अगर SBI बैंक की बात करे तो इस बैंक का कार्ड मिलना थोड़ा मुस्किल होता है क्योंकि यह सरकारी बैंक आपकी नौकरी से लेकर आपकी हर महीने की सेलरी तक की डिटेल लेती है. यदि आप नौकरी नहीं करते तो आपको SBI बैंक का क्रेडिट कार्ड मिलना बहुत मुस्किल है.

वहीं प्राइवेट बैंक से Credit Card लेना थोड़ा आसान होता है. अब सवाल उठता है कि हमें क्रेडिट कार्ड की लेने की जरुरत कब पड़ती है तो जब हम ऑनलाइन शोपिंग करते है तो वहां क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने का ऑप्शन मिलता है यदि क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करते हैं तो शोपिंग में आपको कुछ फीसदी का डिस्काउंट मिल जाता है. इसके अलावा कई इंटरनेशनल वेबसाइट होती है जहां सिर्फ क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने का ऑप्शन मिलता है. ऐसे में इंटरनेशनल वेबसाइट में पेमेंट करने के लिए भी आपको क्रेडिट कार्ड लेने की जरुरत पड़ती है. यहां हम आपको Credit Card के फायदे और नुकसान in Hindi बताने जा रहे हैं जिससे आप क्रेडिट कार्ड को और अच्छी तरह से जान सकते हैं. वैसे तो क्रेडिट कार्ड लेने के फायदे ही फायदे हैं लेकिन इसके कुछ नुकसान भी जिनको आपको जरुर जानना चाहिए.

Credit Card के फायदे और नुकसान

Credit Card के फायदे और नुकसान

अगर आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो आपको पता ही होगा कि Credit Card से आप जो भी खरीददारी करते है उसका असर आपके बैंक अकाउंट की राशी पर नहीं पड़ता है मतलब क्रेडिट कार्ड से आप जो भी शोपिंग करते हैं उसके रूपये आपके अकाउंट से कट नहीं किये जायेंगे हालाकि बाद में आपको ये राशी ब्याज सहित बैंक को देनी होती है. क्रेडिट कार्ड का सबसे बड़ा फायदा है कि आप अपने कार्ड की लिमिट के अन्दर कभी भी कितनी भी शोपिंग कर सकते हैं. यहीं चीज क्रेडिट कार्ड को डेबिट कार्ड से अलग बनाती है. डेबिट कार्ड के अन्दर आप जो भी शोपिंग करते हैं वह तुरंत आपके अकाउंट से कट कर दी जाती है. क्रेडिट कार्ड के कुछ नुकसान भी है जैसे ब्याज का इसमें अहम रोल होता है. तो Credit Card के फायदे नुकसान क्या है चलिए जानते हैं.

Credit Card के फायदे

1. इस कार्ड से व्यक्ति उसके खाते में जमा राशी से ज्यादा की खरीदारी यानी ऑनलाइन शोपिंग कर सकता है. इसमें आपके खाते में कितनी राशी है इससे कोई सम्बन्ध नहीं होता है.

2. आपका क्रेडिट स्कोर बिल्ड करने में मदद करता है मतलब अगर आप इस कार्ड की राशी को समय पर चुकाते है तो आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा होता जाता है. इससे आपको बैंक से जल्दी लोन मिलने की सम्भावना बढ़ जाती है.

3. यदि आप इस कार्ड से शोपिंग करते है तो आपको रिवॉर्ड पॉइंट और कैशबैक मिलता है. हालाकि ये थोड़े बहुत होते है लेकिन आप इस कार्ड से जितनी ज्यादा शॉपिंग करते हैं रिवॉर्ड पॉइंट और कैशबैक उतना ही बढ़ता जाता है. इन रिवॉर्ड पॉइंट का इस्तेमाल आप अलगी शॉपिंग में कर सकते हैं.

4. इस कार्ड में फ्रौड होने की सम्भावना कम तो नहीं होती है लेकिन इस कार्ड से शॉपिंग के अंतर्गत अगर आपके साथ धोकेबाजी होती है और धोखेबाजी साबित हो जाती है तो बैंक आपसे इसका चार्ज नहीं करेगी.

5. काफी सारे क्रेडिट कार्ड में एनुअल चार्ज नहीं लगता है मतलब हर साल आपको इस कार्ड के लिए कोई फीस नहीं चुकानी होती है.

6. क्रेडिट कार्ड से आप किसी भी सामान को किश्तों पर यानी EMI पर ले सकते हैं. EMI की राशी आपके क्रेडिट कार्ड से आटोमेटिक कट होती जाएगी.

7. हर महीने के अंत में आपको एक स्टेटमेंट मिलता है जिसपर यह जानकारी होती है कि आपने कब, कितनी और कहाँ से शॉपिंग की है इससे आपको बजट बनाने में आसानी होती है.

Credit Card के नुकसान

1. इस कार्ड में कई ऐसे हिडन चार्जेज और फीस होते हैं जिनका ज्यादातर लोगो को पता नहीं होता है. बैंक भी आपको इनके बारे में नहीं बताता है ऐसे में जो आपको बिल मिलता है उसमें हिडन चार्जेज और फीस शामिल होती है.

2. यदि आप Credit Card से की गयी शॉपिंग का लेट पेमेंट करते है तो बैंक आपसे लेट पेमेंट के तहत अलग से फीस चार्ज करता है जो काफी ज्यादा होती है. इसके अलावा आप पेमेंट करने में जितना ज्यादा समय लगायेंगे बैंक आपसे ब्याज सहित इसके पैसे बसूल कर लेती है.

3. इससे आप जब भी इंटरनेशनल वेबसाइट में पेमेंट करते हैं तो बैंक इसकी जानकारी नहीं रखता है क्योंकि बैंक सिर्फ देश में किये गए पेमेंट को ही अपनी निगरानी में रखता है. ऐसे में इस कार्ड में इंटरनेशनल वेबसाइट से फ्रौड होने की सम्भावना बनी रहती है.

4. लिमिट से ज्यादा शॉपिंग करने पर अतिरिक्त फीस बिल में जोड़ दी जाती है मान लीजिये आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट 50 हजार है और आप 50 हजार से ज्यादा की शॉपिंग करते हैं तो बैंक इसका अतिरिक्त चार्ज ब्याज सहित आपके बिल में जोड़ देती है.

5. यदि हम क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान निश्चित समय पर नहीं करते हैं तो इसमें बिल की राशी पर डेली का ब्याज लगता है और ये ब्याज दिन प्रतिदिन बढ़ता जाता है. जैसे कि यदि आपके एक महीने का बिल 20 हजार है जिसे आपने भुगतान नहीं किया है तो इस 20 हजार की राशी पर हो रोज ब्याज लगता रहेगा.

तो अब आप Credit Card के फायदे और नुकसान के बारे में जान गए होंगे यदि आप इस कार्ड से मिलने वाले बिल का भुगतान समय पर करते रहते हैं तो आपका क्रेडिट स्कोर सही बना रहता है. ऐसे में आप जरुरत पड़ने पर बैंक से लोन के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं. आपके क्रेडिट स्कोर को देखते हुए आपको जल्दी लोन मिलने की संभावना रहती है. इसलिए यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड है और आप अतिरिक्त चार्ज से बचना चाहते हैं तो उसके बिल का भुगतान समय पर करते रहना चाहिए.

ये भी पढ़े –

5.0
01

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here