फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें

आज इस खास आर्टिकल में हम जानेंगे फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें आज के समय में फर्जी कॉल बहुत ज्यादा बढ़ गई है अगर आपको कोई फर्जी कॉल करके आपके बैंक अकाउंट के नंबर, आधार नंबर जैसी महत्वपूर्ण डिटेल्स को मांगता है तो यह बहुत बड़ा अपराध है जो भारतीय टेलीग्राफ एक्ट की धारा 25सी के अंतर्गत आता हैं इस तरह की कॉल आने पर आप पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा सकते हैं इसके अलावा भी आप कई जगह रिपोर्ट दर्ज करा सकते है जो नीचे Detail के साथ बताई गई है।

फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें

अगर कोई व्यक्ति फ्रॉड कॉल करता है तो उसे 3 साल की सजा या जुर्माना देना पड़ सकता है और यह दोनों सजा एक साथ भी किसी व्यक्ति को मिल सकती है। ऐसे अपराध की शिकायत करने के लिए भारत सरकार ने बहुत सारे प्रयास किए हैं चलिए आपको बताते हैं कि फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें और फर्जी कॉल की शिकायत कहां करें इन फ्रॉड में ज्यादातर वह लोग फसते हैं जिन्हें इंटरनेट की ज्यादा जानकारी नहीं है और वह थोड़े से लालच में आकर अपनी कमाई खो बैठते हैं

जिस तरह दुनिया में इंटरनेट का प्रसार हुआ है उसी तरह लोगो से फ्रॉड करने का तरीका भी मॉडर्न होता जा रहा है खासकर लोग पैसे के लिए लोगो को फर्जी कॉल करते हैं जैसे कई बार लोगो को कॉल आता है कि उनके मोबाइल नंबर पर लाटरी लगी है जिसकी राशी प्राप्त करने के लिए फ्रॉड लोग टार्गेटेड लोगो को अपनी बातों के जाल में फसाकर उनके अकाउंट की डिटेल्स और पैसे ट्रान्सफर करवा लेते हैं

फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें

अगर आपके पास फर्जी कॉल आई है तो आप गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए हेल्प लाइन नंबर 155260 पर और टोल फ्री नम्बर 112 पर कॉल करके भी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं इसके अलावा ऑनलाइन और ऑफलाइन रिपोर्ट दर्ज कराने के कई तरीके हैं जो नीचे बताए गए हैं।

फर्जी कॉल के खिलाफ सरकार के बेहतरीन प्रयास

90 के दशक में जब पुराने टेलीफोन हुआ करते थे तब ब्लैंक कॉल की समस्या थी और आज फ्रॉड कॉल जैसी समस्या बढ़ती ही जा रही है और इस मामले में झारखंड राज्य का जामताड़ा शहर सबसे ज्यादा बदनाम है। इस जगह से हर रोज ऐसे अपराध की शिकायत आती रहती है यहां के बहुत से लोग ऐसा काम करके लोगों को लूट लूट कर अमीर बन चुके हैं सरकार इसे रोकने के लिए बहुत सारे प्रयास कर रही है।

फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें

इसके साथ ही सरकार द्वारा डिजिटल इंटेलीजेंस यूनिट का निर्माण किया जा रहा है यह एक कमेटी होगी जो विशेष तौर पर बैंक पुलिस और सर्विस प्रोवाइडर एजेंसियों के साथ मिलकर फर्जी कॉल करने वालों को पकड़ने का काम करेगी।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक वेबसाइट लांच की है जो cybercrime.gov.in है इस वेबसाइट पर जाकर आप कोई फ्रॉड कॉल, महिला या बाल संबंधी कोई भी अपराध की शिकायत दर्ज करा सकते हैं और आप चाहे तो शिकायत दर्ज कराते समय अपनी प्रोफाइल को छुपाकर भी रख सकते हैं जिससे आपका नाम पता सब कुछ hide रहेगा और आपकी शिकायत भी दर्ज हो जाएगी।

विदेशी नंबरों से कॉल आने पर

आज के समय में फेक नंबरों से कॉल करके फ्रॉड करने की कोशिश तो सभी लोगों के साथ की जाती है लेकिन कई बार हमारे पास विदेशी नंबर जिनके शुरुआत के नंबर +91 से शुरू नहीं होते या फिर जिन नंबरों की संख्या 10 से ज्यादा होती है। इस तरह के नंबरों से कॉल आने पर आप इनकी शिकायत करके इनके मुंह पर तमाचा मार सकते है।

आज के समय में बहुत सारे ऐप्स है जिनका प्रयोग करके कोई भी व्यक्ति आपके पास कॉल करता है तो उसका असली नंबर आने की वजह कोई अलग कंट्री का नंबर आपके पास आ जाता है। जिनके शुरआत में +91 नहीं होता और आपको पता नहीं चलता कि यह कॉल किसने किया है ऐसा कई बार फ्रेंड्स भी करते हैं लेकिन उनको यह पता होना चाहिए कि ऐसा करने पर उन्हें 3 साल की सजा और जुर्माना भरना पड़ सकता है।

और कुछ लोग नेपाल, बांग्लादेश, पाकिस्तान जैसे देशों से ब्लैक में सिम लेकर आ जाते हैं और लोगों को ठगने का धंधा शुरू कर देते हैं जिन्हें सबक सिखाना जरूरी हैं।

इस तरह की कॉल की शिकायत करने के लिए टेलीफोन रेगुलेटरी अथाॅरिटी आफ इंडिया (TRAI) ने एक टोल फ़्री नंबर 1800110420 जारी किया है। इस पर कॉल करके आप अपनी रिपोर्ट दर्ज करा सकते हैं, इसके साथ आप पुलिस में भी रिपोर्ट दर्ज करा सकते हैं ऐसे मामलों में पुलिस बहुत शक्ति से काम करती है और जल्द से जल्द अपराधी को पकड़ती हैं।

बैंक के नाम पर आने वाली फर्जी कॉल की शिकायत कैसे करें

अगर आपसे कोई फेक कॉल करके बैंक अकाउंट का नंबर मांगे, तो इसके लिए रिजर्व बैंक आफ इंडिया (RBI) ने help line के तौर पर एक नंबर 8691960000 जारी किया है। इस पर शिकायत दर्ज कर सकते है इस पर शिकायत करने के लिए आपको इस नंबर पर मिस कॉल करनी है फिर आपके पास एक कॉल आएगी जिस पर आपको फेक कॉल की जानकारी देनी है फिर आपकी समस्या से जुड़ी जानकारी आपको मिल जाएगी।

इसके अलावा आप RBI की ऑफिशियल वेबसाइट पर टोल फ्री नम्बर 112 और होम मिनिस्टर की तरफ से जारी किए गए नंबर 155260 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

फर्जी कॉल के लिए हेल्पलाइन नम्बर

अगर आपके पास फर्जी कॉल आती है या आप फर्जी कॉल का शिकार हुए हैं तो आप उसकी शिकायत के लिए 155260 पर कॉल करके शिकायत दर्ज करें, यह हेल्पलाइन नंबर दिल्ली, राजस्थान, उत्तराखंड, असम, उत्तरप्रदेश, छत्तीसगढ़, तमिल नाडु और आंध्र प्रदेश में सातों दिन 24 घंटे उपलब्ध रहता हैं, इसके अलावा बाकी राज्यों में यह सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक उपलब्ध होता हैं।

यह सावधानियां रखकर फर्जी कॉल से बचें

फर्जी कॉल कई तरीके से आ सकती है हो सकता है कि आपने पहले अपना नंबर कहीं दिया हो जिससे कि मार्केटिंग वाले आपके पास कॉल कर रहें हो या कई बार ऐसा भी होता है की फ्रॉड और मार्केटिंग करने वाले ऑटोमेटिक तरीके से नंबर निकालते हैं जिससे की लिस्ट में आपका नंबर भी आ जाता है।

ऑटोमेटिक तरीके से नंबर निकालने वाली पद्धति के द्वारा अगर आपका नंबर निकाला जा रहा है, तो आप सभी सावधानियां रखकर भी फर्जी कॉल से नहीं बच पाएंगे।

लेकिन कई ऐसी सावधानियां है जिनका पालन करके आप फर्जी कॉल से बच सकते हैं इनमें से सबसे महत्वपूर्ण यह है कि सबसे पहले अपना नंबर लीक होने से बचाएं व्हाट्सएप पर आने वाले फालतू के लिंक पर क्लिक ना करें या किसी भी या unknown website पर अपना नंबर ना दें।

जितना हो सके कांटेक्ट के लिए मेल आईडी का ही प्रयोग करें ताकि आपका नंबर डायरेक्टरी में सबमिट ना हो सके। बहुत सारी ऐसी एप्लीकेशन भी होती हैं जो आपका नंबर बेचने का काम करती है, इसलिए फालतू की एप्लीकेशन को अपने मोबाइल से हटा दें।

अगर एप्लीकेशन की बात करें तो ऑनलाइन पढ़ाने वाली एप्लीकेशन के द्वारा सबसे ज्यादा नंबर लीक किए जाते हैं क्योंकि उनके पास सभी बच्चों की कांटेक्ट डिटेल होती है जिनको वह आगे मोटे दाम पर भेज सकते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि इन बच्चों के कांटेक्ट नंबर खरीद कर किसी को क्या मिलेगा तो दोस्तों आपको बता दूं कि बाद में इन नंबर पर कॉल करके मार्केटिंग की जाती है और छोटी उम्र के बच्चों को फ्रॉड के लिए टारगेट किया जाता है।

यह प्रक्रिया कुछ इस प्रकार काम करती है कि जैसे कुछ खास काम वाली वेबसाइट लोगों के नंबर कलेक्ट कर लेती है, और अगर उसी फील्ड में कोई और काम कर रहा है तो वह सभी नंबर उस दूसरे व्यक्ति को भी बेच दिए जाते हैं, जिससे कि वह अपने काम की मार्केटिंग कर सके ज्यादातर यह काम मार्केटिंग के लिए ही होता है लेकिन बहुत बार इस में फ्रॉड भी देखा गया है।

आज हमने इस आर्टिकल में जाना कि हम फर्जी कॉल की शिकायत कहां और कैसे करें अगर आपको जानकारी अच्छी लगी, तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं और कमेंट करके बताएं कि आपको यह जानकारी कैसी लगी। हम आपके लिए इसी तरह के जानकारी लेकर आते रहते हैं तो हमारे साथ जुड़े रहे हम आपसे अगली जानकारी में मिलते हैं।

ये भी पढ़े –

भारत की राष्ट्रभाषा हिंदी नहीं है तो कौन सी है

इंडिया में कुल कितने धर्म है

दुनिया के सात अजूबे फोटो सहित देखिये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here