सरकारी राशन की दुकान कैसे खोलें 2022 में होगी बंपर कमाई

इस आर्टिकल में आपको बताएँगे कि सरकारी राशन की दुकान कैसे खोलें 2022 में और सरकारी राशन की दुकान खोलने के लिए कौन से दस्तावेज जरूरी होंगे और आवेदन की प्रक्रिया क्या है इसके साथ साथ मै आपको यह भी बताऊंगा की सरकारी राशन की दुकान खोलने के लिए जगह का चुनाव कैसे करना है। इसके लिए पात्रता मानदंड क्या होना चाहिए अगर आप भी बेरोजगार है और कोई काम ढूढना चाहते हैं तो आपके लिए राशन की दुकान खोलना फायदे की बात साबित हो सकती है।

सरकारी राशन की दुकान कैसे खोलें

बढ़ती बेरोजगारी भारत देश के लिए एक बड़ी समस्या है ऐसे में अगर आप खुद का बिजनेस करना चाहते हैं तो यह आपके लिए सबसे उचित रहेगा अगर आप सरकारी राशन की दुकान करना चाहते हैं तो आपको बता दूं कि यह एक बहुत ही प्रॉफिटेबल बिजनेस है। आपने कभी ना कभी सरकारी राशन की दुकान से राशन जरूर खरीदा होगा ऐसे में आप भली-भांति जानते हैं कि सरकारी राशन की दुकान राशन कार्ड धारकों को उचित मूल्य पर राशन उपलब्ध करवाती है।

कुछ साल पहले गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगो का राशन कार्ड बहुत मुस्किल से बनता था क्योंकि सरकारी कर्मचारी इसके लिए रिश्वत मांगते थे लेकिन मौजूदा सरकार ने न सिर्फ वास्तविक गरीब लोगो का राशन कार्ड बनवाया है बल्कि उन्होंने बड़ी आसानी से बहुत कम दाम में राशन मुहैया करवा रही है चूँकि अब ग्राहक बढ़ रहे हैं इसलिए सरकार भी न सिर्फ शहर बल्कि अधिकतर ग्राम पंचायत में राशन की डीलरशिप दे रही है इससे पढ़े लिखे लोगो को रोजगार मिलेगा और गरीब लोगो को उनका राशन तो आइए आर्टिकल को शुरू करते हैं।

सरकारी राशन की दुकान क्या होती है

दोस्तों सरकारी राशन की दुकानों पर राशन कार्ड धारकों को काफी कम मूल्य में राशन उपलब्ध करवाया जाता है आवश्यक वस्तु अधिनियम के धारा 3 के अंतर्गत राशन कार्ड धारकों को कम मूल्य में सरकार द्वारा राशन दिया जाता है।

इसी धारा के अंतर्गत राशन की दुकानों के लिए लाइसेंस भी दिए जाते हैं हालांकि इस लाइसेंस को लेने के लिए आपको पात्रता मानदंड और योग्यता को पूर्ण करना होगा क्योंकि हर कोई लाइसेंस नहीं ले सकता यहां पर लाइसेंस लेने की प्रक्रिया सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत की जाती है।

अगर आप सरकारी राशन की दुकान खोलते हैं तो सरकार द्वारा निर्धारित मूल्य पर राशन बेचना होगा सरकार आपके पास जो राशन पहुंचाएगी उसे राशन कार्ड धारकों तक पहुंचाना आप की जिम्मेवारी होगी तथा सभी राशन कार्ड धारकों का हिसाब किताब भी आपको ही रखना होगा।

अगर आप सरकारी राशन कार्ड की दुकान खोलते हैं तो यहां पर दुकान में मिलने वाली सभी सुविधाएं सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई जाती है दुकान में कई प्रकार की मशीनें होती है जो सभी सरकारी होती हैं राशन कार्ड की दुकान में आपको जो सॉफ्टवेयर प्रोवाइड करवाया जाता है वह भी सरकारी होता है जिस पर आप काम करते हैं।

सरकारी राशन की दुकान कैसे खोलें

इसके लिए सबसे पहले आपको सही जगह का चुनाव करना होगा इसके बाद आपको सरकारी राशन की दुकान का लाइसेंस बनवाना है जिसके लिए आप अपनी पंचायत में आवेदन कर सकते हैं आवेदन करने के लिए आपको एक फॉर्म भरना होगा जिसके साथ आपको अपना आधार, क्वालिफिकेशन और परिवार आईडी जैसे जरुरी डॉक्यूमेंट अटैच करने होंगे एक जांच प्रक्रिया के बाद आपका लाइसेंस बन जायेगा और फिर आप दुकान खोल सकते हैं

इन सबके अलावा आपको कुछ बातों का भी विशेष ध्यान रखना है जैसी आपके पास दुकान के लिए पर्याप्त जगह होनी चाहिए और ऐसा स्थान होना चाहिए जो साल के 12 महीने आसानी से उपयोग किया जा सके। अगर आप भी सरकारी दुकान खोलना चाहते हैं तो इसके बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी इसलिए इसे ध्यान से पढ़े

सरकारी राशन की दुकान कैसे खोलें

सरकारी राशन की दुकान के लिए जगह का चुनाव कैसे करें

अगर आप राशन की दुकान खोलना चाहते हैं और आप चाहते हैं कि राशन डिपो पर सभी कस्टमर आए तो आप की दुकान एक विशिष्ट जगह पर होनी चाहिए राशन की दुकान एक परमानेंट दुकान है इसलिए जगह का चुनाव करना बेहद जरूरी होता है दोस्तों अगर आप सरकारी राशन की दुकान खोलते हैं तो यहां पर आपको किसी भी प्रकार के कंपटीशन का सामना नहीं करना पड़ेगा।

राशन की दुकान के लिए जगह का चुनाव करने के लिए यहां पर हम आपको पांच सुझाव दे रहे हैं इन्हें ध्यान से पढ़िए और राशन की दुकान खोलने के लिए अच्छी जगह का चुनाव कीजिए।

1. अगर आप राशन की दुकान खोलना चाहते हैं तो ध्यान रखें कि दुकान आपकी अपनी होनी चाहिए और अगर आप दुकान को किराए पर ले रहे हैं तो एक पक्का अग्रिमेट करवा लें क्योंकि यह एक लंबे समय तक चलने वाला प्रोसेस है और अगर बीच में आपसे कोई दुकान ले लेता है तो आपके लिए प्रॉब्लम हो सकती है इसलिए ज्यादा से ज्यादा कोशिश करें कि दुकान आपकी अपनी जगह पर ही हो।

2. अगर आप राशन की दुकान खोल रहे हैं तो ध्यान रहे कि यह दुकान किसी दूरदराज इलाके में ना हो और इस दुकान के सामने अगर 8 से 15 फुट चौड़ा रोड हो तो यह सबसे अच्छा रहेगा, दुकान के आगे थोड़ी बहुत खाली जगह भी होनी चाहिए क्योंकि राशन की दुकानों के आगे अक्सर लाइनें लगी होती हैं और सरकार द्वारा जब माल पहुंचाया जाता है तो बड़े ट्रकों में माल आता है इसलिए साधन खड़े रहने और माल रखने योग्य जगह भी होनी चाहिए।

3. आपके सरकारी राशन की दुकान नॉर्मल राशन की दुकानों से थोड़ी ऊंची होनी चाहिए, अलग-अलग जगहों पर राशन की दुकानों से जुड़ी अलग अलग रिक्वायरमेंट होती है लेकिन सामान्यतः आपके दुकान की ऊंचाई 3 मीटर से ज्यादा होनी चाहिए।

4. कई खास प्रकार के एरिया में जहां पर राशन लेने वालों की संख्या ज्यादा होती है, वहां पर आपको दुकान के साथ एक गोदाम बनवाने की भी जरूरत होगी, ताकि आप एक समय पर अधिक सेटोक भी दुकान में रख सकें। लेकिन अगर आपके एरिया में राशन कार्ड धारकों की संख्या अधिक नहीं है, तो आपको अलग से गोदाम बनवाने की कोई जरूरत नहीं है, आप अपनी दुकान में भी माल रख सकते हैं, और वहीं से माल ग्राहकों को दे सकते हैं।

5. ध्यान रहे कि आप केवल अपने आसपास के क्षेत्र में ही राशन की दुकान खोल सकते हैं, इसलिए राशन की दुकान के लिए जगह का चुनाव करते समय इस बात का खास ध्यान रखना है, कि आपको अपने आसपास की जगह पर ही दुकान खोलनी है, क्योंकि जब आप राशन की दुकान के लिए लाइसेंस लेना चाहेंगे तो आपको किसी और जगह पर दुकान खोलने के लिए लाइसेंस नहीं दिया जाएगा आप केवल अपने एरिया में ही दुकान खोल सकते हैं।

सरकारी राशन की दुकान खोलने के लिए पात्रता मानदंड

  • आपके बैंक अकाउंट में कम से कम ₹50000 होने चाहिए अगर आप लाइसेंस के लिए आवेदन कर रहे हैं तो अपने अकाउंट में ₹50000 का बैलेंस मेंटेन रखिए।
  • केवल भारत के नागरिक ही राशन की दुकान के लिए अप्लाई कर सकते हैं और एक व्यक्ति केवल अपने आसपास के क्षेत्र के लिए ही सरकारी राशन डिपो के लिए आवेदन कर सकता है।
  • अगर आपके पास fssai या भारत के किसी भी फ़ूड कारपोरेशन से लाइसेंस प्राप्त है तो आप राशन की दुकान के लिए अन्य लाइसेंस नहीं ले पाएंगे, सरकारी राशन की दुकान खोलने के लिए यह मुख्य पात्रता मानदंड होता है कि व्यक्ति के पास किसी भी प्रकार का खाद्यान्न का लाइसेंस नहीं होना चाहिए।
  • अगर आप सरकारी राशन की दुकान के लिए लाइसेंस लेना चाहते हैं, तो आपके दसवीं कक्षा पास होने चाहिए यानी कि आपने मैट्रिक तक पढ़ाई की हुई होनी चाहिए और कई जगहों पर तो 12वीं और ग्रेजुएशन भी मांगते हैं।

सरकारी राशन की दुकान के लिए जरूरी दस्तावेज

सरकारी राशन की दुकान खोलने के लिए इनकम प्रूफ के रूप में परिवार आईडी का होना जरूरी है क्योंकि पहले एक इनकम सर्टिफिकेट बनता था सरकार ने इसे डिसएबल कर दिया है और अब फैमिली आईडी से इनकम वेरीफाई की जाएगी।

एक रेजिडेंशियल कार्ड और आधार कार्ड की भी आवश्यकता होगी, कई जगहों पर आधार कार्ड को ही एड्रेस प्रूफ के रूप में एक्सेप्ट किया जाता है। आपकी पढ़ाई की डिग्री की फोटो कॉपी और बैंक अकाउंट की डिटेल भी देनी होगी, अगर आपके बैंक अकाउंट में पैन कार्ड लिंक नहीं है तो आप अलग से पैन कार्ड दे दीजिए।

सरकारी राशन की दुकान के लिए आवेदन कैसे करें

अगर आप सरकारी राशन की दुकान के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो यहां पर दो अलग तरह की प्रक्रियाएं हैं, अगर आप ग्रामीण क्षेत्र के लिए राशन की दुकान खोलना चाहते हैं तो आपको अलग प्रक्रिया का पालन करना होगा और अगर आप शहरी क्षेत्र में राशन की दुकान खोलना चाहते हैं तो आपको इसके लिए अलग प्रक्रिया को पूरा करना होगा।

ध्यान रखिए कि अगर आप ग्रामीण क्षेत्र में राशन की दुकान खोलना चाहते हैं तो इसका कोई भी ऑनलाइन प्रोसेस नहीं है वहीं अगर आप शहरी क्षेत्र में राशन डिपो कर रहे हैं तो आप ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते हैं, आइए देख लेते हैं कि ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में आवेदन की प्रक्रिया क्या है।

ग्रामीण क्षेत्र में सरकारी राशन डिपो खोलने की प्रक्रिया

हर एक गांव में ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिस की एक छोटी बैठक होती है जिस बैठक में आप अपनी बात रख सकते हैं यहां पर आपको पंछियों के सामने अपना उद्देश्य रखना होगा और बताना होगा कि आप गांव में राशन की दुकान क्यों खोलना चाहते हैं।

राशन की दुकान खोलने के केवल दो ही मुख्य कारण हो सकते हैं या तो ग्राहकों को राशन लेने के लिए कहीं दूर जाना पड़ रहा हो या ऑलरेडी स्थित राशन की दुकान में किसी प्रकार के गमले बाजी हो रही हो जिसे आप सामने ला सकते हैं।

यहां पर अगर पंचायत द्वारा आपकी बात स्वीकार कर ली जाती है तो आपको एक फॉर्म फिल करना होगा जहां पर आपको रिक्वायरमेंट के हिसाब से सारी डिटेल भरनी होगी यहां पर आपको अपना नाम शैक्षणिक योग्यता और बाकी सभी डाक्यूमेंट्स को साथ में अटैच करना होगा।

राशन की दुकानों के लिए कई उम्मीदवार भी हो सकती हैं इसलिए सभी उम्मीदवारों की जांच पड़ताल की जाती है जांच पड़ताल करने के लिए गांव के सरपंच से पूछताछ की जाती है और बैठक के सदस्यों द्वारा गुप्त जांच भी की जाती है जिसके बारे में आवेदक को कोई जानकारी नहीं होती है।

ग्रामीण क्षेत्रों में राशन डिपो के चयन प्रक्रिया में काफी के घपलेबाजी भी देखने को मिलती है, सरकारी जान पहचान के साथ है गांव में सरकारी डिपो लेना काफी आसान प्रक्रिया हो जाती है। अगर आपकी एप्लीकेशन स्वीकार्य होती है, तो इसे डिस्टिक मजिस्ट्रेट के पास भेज कर लाइसेंस देने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाता है।

काफी प्रक्रियाओं के बाद आपको लाइसेंस मिल जाता है इन प्रक्रियाओं में आपको सलंगन होने की कोई आवश्यकता नहीं है आपको केवल एप्लीकेशन देनी है, अगर वह अप्रूव होती है तो आपको इसके बारे में सूचना दे दी जाएगी, एक बार आपको लाइसेंस मिलने के बाद आप आसानी से सरकारी राशन की दुकान खोल पाएंगे।

शहरी क्षेत्र में सरकारी राशन डिपो खोलने की प्रक्रिया

दोस्तों शहरी क्षेत्र में संबंधित विभाग द्वारा अपनी वेबसाइट पर एक अधिसूचना डाली जाती है जहां पर आप ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे,  शहरी क्षेत्रों में राशन डिपो लेने की प्रक्रिया थोड़ी उलझन भरी और मुश्किल होती है, और यहां पर चयन प्रक्रिया भी काफी अपारदर्शी है।

अगर आप शहरी क्षेत्र में राशन डिपो खोलना चाहते हैं तो संबंधित वेबसाइट पर नोटिफिकेशन आने के बाद आपको अप्लाई करना होगा अप्लाई करने के लिए पहले वेबसाइट पर लॉग इन करना होगा और फॉर्म फिल करना होगा।

आप वेबसाइट पर ऑनलाइन जो भी फार्म भरेंगे उसको अधिकारियों द्वारा जांचा परखा जाता है फार्म का निरीक्षण जिला आपूर्ति विभाग के अधिकारियों द्वारा किया जाता है उसके बाद जिला मजिस्ट्रेट और अपर मजिस्ट्रेट से एप्लीकेशन पास होती है इसके बाद विकास अधिकारी एप्लीकेशन की जांच पड़ताल करते हैं और राजस्व विकास अधिकारी कंफर्म करता है।

इन सभी प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद  जिस भी व्यक्ति का चुनाव किया जाता है उसे संपर्क करके जानकारी दे दी जाती है और विभाग में जाकर वह लाइसेंस ले सकता है और लाइसेंस मिल जाने के बाद आसानी से कहीं भी दुकान खोल सकता है।

दुकान खोलने के लिए कम से कम 4000 यूनिट एरिया होना चाहिए, अगर आपके पास यह एरिया नहीं है तो किराए पर ले लीजिए या खरीद लीजिए, क्योंकि शहरी क्षेत्र में राशन डिपो खोलने के लिए इतने एरिया की जरूरत होती है।

इस आर्टिकल में हमने देखा है सरकारी राशन की दुकान कैसे खोलें 2022 में तो कैसा लगा आपको आज का यह आर्टिकल इस आर्टिकल में मैंने सरकारी राशन की दुकान खोलने की पूरी प्रक्रिया आपको बताई है और आपको बताया है कि सरकारी राशन दुकान खोलने के लिए आपको किन मानदंडों से गुजरना होगा। इसके साथ-साथ मैंने शहर और गांव दोनों क्षेत्रों में राशन डिपो खोलने के प्रोसेस के बारे में भी समझाया है आशा करूंगा कि आपको जानकारी अच्छी लगी होगी

ये भी पढ़े –

इंस्टाग्राम के प्राइवेट अकाउंट कैसे देखें फोटो वीडियो आदि

भारत में सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरी कौन सी है

फ्लिप्कार्ट से पैसे कैसे कमाए घर बैठे ऑनलाइन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here