दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम देश कौन सा है

आज आप जानेंगे कि दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम देश कौन सा है अगर आप भी इस तरह की ज्ञानवर्धक जानकारी जानना चाहते है। तो यह पोस्ट आपके लिए काफी जानकारी भरा होने वाला है क्योंकि इस पोस्ट में आप जानेंगे कि सबसे ज्यादा मुस्लिम किस देश में है। इससे पहले आपको बता दे कि मानव सभ्यता के उदय के साथ भी धर्म का उदय हो गया था। आज विश्व के 10 में से 8 लोग किसी न किसी धर्म से ताल्लुकात रखते है। वहीं दुनिया में 10 में से 2 लोग ऐसे भी जो किसी धर्म को नहीं मानते है। विश्व में किसी धर्म को न मानने वाले लोगो की संख्या भी काफी अधिक है।

दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम देश कौन सा है

वर्तमान समय में इस पूरे दुनिया की जनसंख्या 7.7 अरब से ज्यादा है। इनमे सबसे अधिक लोग ईसाई धर्म को मानते है जिसकी आबादी करीब 2.2 अरब है। इसके बाद मुस्लिम लोग आते है जिनकी संख्या 1.6 अरब से ज्यादा है। तीसरा सबसे बड़ा धर्म हिन्दू है जिसको मानने वाले लोगो की आबादी 1 अरब से अधिक है।

दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम देश कौन सा है

जहां तक हमारे देश भारत की बात करे तो यहाँ हिन्दू लोगो की आबादी सबसे ज्यादा है। ठीक इसी तरह दुनिया के कई देश है जहां मुस्लिम लोग सबसे अधिक है। ऐसे में अगर बड़े देशों की बात करे तो दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम देश इंडोनेशिया है। जो दक्षिण पूर्व एशिया में बसा हुआ है। यह देश कई द्वीपों से मिलकर बना है जिसे हम द्वीपों के देश भी कह सकते हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक इंडोनेशिया की वर्तमान जनसंख्या 271,643,987 (27 करोड़ 16 लाख ) है। जो इसे जनसंख्या के आधार पर दुनिया का चौथा सबसे बड़ा देश बनाती है। इंडोनेशिया में करीब 90 फीसदी लोग इस्लाम धर्म को मानते है। ऐसे में विश्व में जब भी मुस्लिम आबादी की बात होती तो सबसे पहला नाम इंडोनेशिया का आता है। जावा इंडोनेशिया का प्रमुख द्वीप है जहां करीब 60 फीसदी आबादी बसती है। इस देश की आबादी किस तरह बढ़ी है उसकी जानकारी आप नीचे देख सकते हैं।

  • 1950 – 69,543,316
  • 1960 – 87,751,068
  • 1970 – 114,793,178
  • 1980 – 147,447,836
  • 1990 – 181,413,402
  • 2000 – 211,513,823
  • 2010 – 241,834,215
  • 2019 – 270,625,568

इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता है जो अब कुछ सालों बाद पुरानी राजधानी बनकर रह जाएगी क्योंकि यह देश कुछ कारणों की वजह से अपनी राजधानी बदलने वाला है। अब आपको इंडोनेशिया से जुड़े कुछ Interesting Facts बताते है जो आपको जरुर पसंद आयेंगे।

इंडोनेशियन सरकार ने केवल 6 धर्म इस्लाम, हिन्दू, बौद्ध, प्रोटेस्टेंट, कैथोलिक मत, और कन्फ्यूशीवाद को मान्यता दे रखी है। हर इंडोनेशियन नागरिक इनमे से किसी एक धर्म को मानने वाला होना जरुरी है। भले ही उसकी मान्यता कोई ओर हो। अलग अलग धर्म के कोई भी जोड़े आपस में कानूनन तब तक विवाह नही कर सकते है जब तक कि वो धर्मांतरण न कर ले।

इंडोनेशिया में अल्पसंख्यक हिन्दू आबादी मुख्यत बाली द्वीप पर रहती है। बाली हिन्दू निवासियों की मान्यता है कि नवजात शिशु को जन्म से लेकर 6 महीने तक पैरो को जमीन से नही छूने की परम्परा है। जो बच्चे में बुराई से रक्षा के लिए किया जाता है।

इस देश की धरती को चुनौतियों से भरी भी कह सकते हैं क्योंकि इस देश में 400 से ज्यादा प्रसुप्त ज्वालामुखी (Active Volcanoes) है और प्रतिदिन लगभग 3 भूकम्प (Earthquakes) रिकॉर्ड किये जाते है। इंडोनेशिया सर्वाधिक द्वीपों की संख्या में पहले स्थान पर आता है क्योंकि इस देश में बाकि देशों की तुलना में सबसे ज्यादा द्वीप हैं।

भले ही इंडोनेशिया एक मुस्लिम देश है लेकिन यहां अल्पसंख्यक हिन्दू धर्म का भी काफी प्रभाव नजर आता है। इंडोनेशिया में हिंदू देवी देवताओं की खूब पूजा होती है। वहां भगवान गणेश को कला और बुद्धि का भगवान माना जाता है। यहां लोग बजरंगबली की भी पूजा करते हैं। लोग उन्‍हें अपने रक्षक के तौर पर देखते हैं।

तो अब आप दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम देश कौन सा है इसके बारे में जान गए होंगे। जिस तरह हमारे भारत में हिंदी और इंग्लिश मुख्य भाषा ठीक उसी तरह इंडोनेशिया में बहासा (Bahasa Indonesia) एक मुख्य भाषा है लेकिन देश में 700 से भी ज्यादा दूसरी भाषा भी बोली जाती है। वर्तमान समय में विश्व का सबसे बड़ा धर्म ईसाईयों का है लेकिन कुछ आकड़े बताते है कि आने वाले समय में मुस्लिम धर्म की आबादी सबसे ज्यादा होगी। जिसमे सबसे ज्यादा योगदान इंडोनेशिया, भारत और पाकिस्तान जैसे देशों का होगा।

ये भी पढ़े –

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here