कही आप प्लास्टिक वाला चावल तो नहीं खा रहे, ऐसे करे नकली चावल की पहचान

नकली चावल की पहचान आज कल हर चीज की नकल की जा रही है, इससे आपके खाने पीने की चीजे भी अछूती नहीं है. जी हाँ भारत के बाजार में कई नकली खाने पीने की चीजे है जो भारत के लोगो के लिए खतरा बनी हुई है. इनमे नकली चावल, नकली अंडे और नकली पत्ता गोभी भी शामिल है. बताया जा रहा है की ये सब नकली सामन चीन से भारत आ रहा है. प्यापारी चंद रूपए के लालच में नकली खाने पीने की चीजो को भारत में सप्लाई कर रहे है.

अगर आप भी चावल खाते है तो सावधान हो जाइये क्योंकि बाजार में नकली चावल आ गए है जो आपकी सेहत को खतरे में डाल सकते है. खबरों के मुताबिक इन चावल में प्लास्टिक का उपयोग किया जा रहा है. जो सेहत के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक है. एक कटोरी नकली चावल एक बैग पोलीथिन के बराबर होता है जो किसी भी व्यक्ति को बीमार करने के लिए काफी है. नकली चावल बिलकुल असली चावल की तरह दिखता है और इसे पकाने पर भी इसके नकली होने का पता नहीं चलता यहाँ तक की इसका आकार और रंग में आप फर्क नहीं कर पाएंगे. तो आज हम आपको नकली चावल की पहचान करना बताने जा रहे है.

nakli chaval
image: patrika
  •  नकली चावल असली चावल की तुलना में ज्यादा चमकीला होता है. तो जब आप दुकान में जाये तो अलग अलग चावल को चेक करके खरीदे.
  • जब आप नकली चावल के दो दानो को एक साथ देखेंगे तो आपको दानों का साइज एक सामान दिखाई देगा और इनकी बनाबट भी लगभग एक जैसी होगी.
  • नकली चावल पानी में पूरी तरह से डूब जाते है जबकि असली चावल के कुछ दाने पानी में तैरते है.
  • जब पकाते समय चावल की गंध सूँघते है तो उसमे प्लास्टिक की गंध आती है.
  • जब आप नकली चावल को पकाएंगे तो इसके ऊपर एक सफेद परत चढ़ जाती है.
  • नकली चावल कभी भी पूरी तरह नहीं पकता इसलिए अगर चावल खाने में थोड़ा कच्चा लगे तो तुरंत उसका लड्डू बनाये. अगर लड्डू बन जाता है तो उसे जमीन पर पटक कर देखें. चावल का लड्डू जमीन पर पटकने से उछलता है तो यह चावल पूरी तरह से नकली होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here