नकली नोट की पहचान कैसे करें टॉप 7 आसान तरीकों से एक नजर में पहचानें

नकली नोट की पहचान कैसे करें सरकार पुराने नोटों की जगह अब धीरे धीरे नए नोट ला रही है। यह बाजार में चल रहे नकली नोटों को बंद करने के लिए अच्छा कदम माना जा रहा है लेकिन अब दिक्कत इस बात कि है कि बाजार में नए नोटों की नकली कॉपी भी बनाई जा रही है। हालाकि बैंक से मिलने वाले नोटों पर संदेह नहीं किया जा सकता है

नकली नोट की पहचान कैसे करें

लेकिन जो नोट बाजार में चल रहे हैं उनपर आप संदेह कर सकते हैं। ऐसे में आपको असली और नकली नोट के बीच का अंतर आपको पता होना चाहिए जिससे आप किसी धोके का शिकार न हो पाए। पहले जालसाज 500 और 2000 के बड़े नोटों की कॉपी करके नकली नोट तैयार करते थे लेकिन अब 50 रूपये के नकली नोट भी बाजार में चलाने की कोशिश की जा रही है।

लोग बड़े नोटों को तो ध्यानपूर्वक देखकर लेते है लेकिन छोटे नोट को इतने ध्यान से नहीं देखते है शायद जालसाल लोगो की इसी बात का फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं। हमारे देश में नकली नोट का चलन का इतिहास बहुत पुराना है बहुत पहले से नकली नोट तैयार किये जा रहे हैं हालाकि साल 2016 की नोटबंदी से ऐसा लगा था कि अब नकली नोट बंद हो जायेंगे लेकिन अब नए नोटों की भी कॉपी करके नए नकली नोट बनाये जा रहे हैं।

जब भी आप किसी से नोट प्राप्त करें तो एक बार उसे अच्छे से चेक करले नीचे आपको ऐसे ही कुछ तरीके बताये गए हैं जिनके जरिये आप आसानी से नोट की पहचान कर पाएंगे तो चलिए जानते हैं Nakli Note Ki Pehchan Kaise Kare उम्मीद करते हैं यह पोस्ट आपके लिए हेल्पफुल साबित होगा

नकली नोट की पहचान कैसे करें

पुराने नोटों की तुलना में अब नए नकली नोट की पहचान आसानी से की जा सकती है इसके लिए सिक्यूरिटी थ्रेड, महात्मा गांधी का वॉटरमार्क नोट पर छिपा अंक, ब्लीड लाइन्स, गवर्नर के हस्ताक्षर, साल का अंकित होना जैसे फीचर असली और नकली नोट में अंतर बता सकते हैं। नीचे इनके बारे में विस्तार से बताया गया है।

1. सिक्यूरिटी थ्रेड से नोट की पहचान करें

सिक्यूरिटी थ्रेड भारतीय नोट को एक अलग पहचान देता है भारत के लगभग सभी नोट पर आपको सिक्यूरिटी थ्रेड देखने को मिलता है। जब आप इस सिक्यूरिटी थ्रेड को ध्यान से देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि इसमें RBI और भारत लिखा होता है। नोट को टेढ़ा करके देखने पर इस थ्रेड के रंग में परिवर्तन होता है।

2. महात्मा गाँधी के वाटरमार्क से नोट की पहचान करें

जब आप नोट को हल्की की रौशनी डालकर देखते हैं तो आपको असली नोट पर महात्मा गाँधी का वाटरमार्क दिखाई देगा। जबकि नकली नोट पर इस तरह का वाटरमार्क बनाना संभव नहीं है इसलिए नकली नोट पर आपको सफ़ेद जगह पर गाँधी जी की तस्वीर नहीं दिखाई देती है।

3. नोट पर अंको से पहचान करें

जब आप नोट को 45 डिग्री के कोण पर झुकाकर देखते हैं तो नोट के फ्रंट साइड पर बाएँ तरफ एक बॉक्स दिखाई देगा जिसमें नोट की कीमत के गणतीय अंक लिखे होते हैं। नकली नोट पर इस तरह का मार्क दिखाई नहीं देता है साथ ही इस बॉक्स की जगह आपको थोड़ा लम्बा बॉक्स दिखाई देगा।

4. नोट पर अंकित मुद्रा से पहचान करें

जिस तरह नोट को थोड़ी तरह रौशनी पर देखने पर गांधीजी की तस्वीर दिखाई देती है ठीक उसी तरह नोट पर उसके मूल्य की मुद्रा अंकित होती है जो थोड़ी रोशनी पर दिखाई देती है। यह अंकित मुद्रा सफ़ेद जगह पर होती जो कि आड़े अंको पर अंकित होती है। नकली नोट पर आपको इस तरह अंकित मुद्रा दिखाई नहीं देगी।

5. ब्लीड लाइन्स से पहचान करें

पुराने नोट पर तो आपको यह लाइन्स दिखाई नहीं देंगी लेकिन साल 2016 के बाद जितने भी नए नोट जारी किये गए हैं उनमें आपको विशेष लाइन दिखाई देंगी। यह लाइन्स नोट के दोनों तरफ बाएँ और दांये पर होती है जो नोट को विशेष पहचान देती हैं।

6. गवर्नर के हस्ताक्षर से नोट की पहचान करें

भारत के लगभग सभी नोटों पर गवर्नर के हस्ताक्षर अंकित रहता है. यह हस्ताक्षर पुराने और नए नोट पर अलग अलग हो सकते हैं ऐसा इसलिए होता है क्योंकि भारत के गवर्नर एक निश्चित समय पर बदलते रहते हैं। जब नोट को जारी किया जाता है तो उस समय के मौजूद गवर्नर का हस्ताक्षर नोट पर अंकित किया जाता है।

7. साल का अंकित से पहचान करें

गवर्नर के हस्ताक्षर की तरह लगभग सभी नोट पर साल भी अंकित रहता है हालाकि नए नोट पर साल के अंकित होने की जगह बदल दी गयी है। पुराने नोट पर साल बैकसाइड पर नोट ने नीचे बीच में अंकित होता है जबकि नए नोट पर साल बैकसाइड पर बाएँ तरफ अंकित किया गया है. नकली नोट पर साल अंकित नहीं होता है।

दृष्टिहीन लोग कैसे पहचान करें

जो लोग देख सकते हैं वह तो आसानी से नकली नोट की पहचान कर सकते हैं लेकिन जिन लोगो को दिखाई नहीं देता वो लोग असली और नकली नोट की पहचान कैसे करेंगे तो आपको बता दे कि नए नोट को विशेषकर द्रष्टिहीन लोगो को भी ध्यान में रखते हुए बनाया गया है।

ये भी पढ़े – आपके आधार का उपयोग कहाँ कहाँ किया गया है कैसे पता करें

नए नोट पर पहचान चिन्ह जैसे गाँधी जी की तस्वीर, नोट के दोनों तरफ उपलब्ध ब्लीड लाइन्स और अशोक स्तम्भ आदि खुरदुरे हैं जिनको द्रष्टिहीन लोग हाथ की सहायता से नोट को स्पर्श करके पहचान सकते हैं। नए नोट पर कीमत जानने के लिए नोट की कीमत के अंक भी खुरदुरे बनाये गए हैं जिसकी द्रष्टिहीन व्यक्ति नोट की कीमत जान सकता है।

FAQ नकली नोट की पहचान से संबंधित

नकली नोट की पहचान के लिए क्या करें?

जब भी आपको किसी नोट पर संदेह हो तो आपको उसे अच्छे से चेक करना है जैसे सिक्यूरिटी थ्रेड, वॉटरमार्क, ब्लीड लाइन और गवर्नर के हस्ताक्षर जरुर चेक करें।

नकली नोट का क्या करें?

अगर आपके पास गलती से नकली नोट आ गया है तो आपको अच्छे से ध्यान करना है कि आपको यह नोट किसने दिया था इसके साथ ही पुलिस में इसकी रिपोर्ट करें।

नकली नोट कैसे बनते हैं?

सरकार काफी रिसर्च करने के बाद नए नोट का पैटर्न तय करती है लेकिन जब इसे बाजार में उतारा जाता है तो इसके कुछ समय बाद कुछ असामाजिक तत्व इसकी कॉपी करके नकली नोट बनाने लगते हैं इसके लिए इनके पास विशेष मशीनें होती है।

जाली नोट के संचालन में कौन सी धारा लगती है?

भारत में जब भी कोई अपराध करता है तो इसके लिए पहले से लिखित अपराध अनुसार धारा लगाकर उसपर कार्यवाही की जाती है अगर कोई नकली नोट बनाता है या उसका संचालन करता है तो यह भारतीय दंड संहिता की धारा 489 अ से 489 ई के तहत अपराध है।

नकली नोट के मामले में अपराधी को कितनी सजा होती है?

अभी स्पष्ट रूप से व्यक्त नहीं किया गया है क्योंकि अभी कई मामलों में किसी अपराधी को 7 साल तो किसी को 25 साल की सजा सुनाई गयी है हालाकि नकली नोट में जितना बड़ा अपराध होगा सजा भी उतनी ज्यादा होगी।

Conclusion

तो अब आप जान गए होंगे कि नकली नोट की पहचान कैसे करें जब भी आप किसी से नोट ले तो आपको इसमें थोड़ी सतर्कता बरतना जरुरी है क्योंकि आपके पास भी नकली नोट आ सकता है जिसे आप कहीं भी नहीं चला सकते हैं बैंक भी नकली नोट को एक्सेप्ट नहीं करता है ऐसे में आपको इसका नुकसान उठाना पड़ता है। इसलिए नोट लेते समय आपको ऊपर बताई गयी कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए। अगर आप नकली नोट के प्रति जागरूक होते हैं बाजार में नकली नोट चलने की संभावना बहुत कम हो जाती है।

MakeHindi.Com is a Professional Educational Platform. Here we will provide you only interesting content, which you will like very much. We’re dedicated to providing you the best of Education.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here