भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है 2020

क्या आप जानते है भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है नहीं जानते तो आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं। जैसा कि हम सभी जानते है कि हमारा देश इंडिया अनेकता में एकता के लिए जाना जाता है। इसके अलावा भारत अपनी विविधताओं के दुनिया भर में प्रसिद्ध है। जिस प्रकार भारत में विभिन्न धर्म के लोग रहते है उसी तरह यहाँ कई सारी भाषा बोली जाती है। उदाहरण के तौर पर जैसे उत्तर और मध्य भारत में मुख्यता हिन्दी भाषा सुनी जा सकती है। वहीं दक्षिण भारत की मुख्य लैंग्वेज कन्नड़, तेलुगु और तमिल है। पश्चिम में गुजराती, राजस्थानी, पंजाबी और हरयाणवी भाषाओं को सुना जा सकता है। पूर्वी भारत की बात करे तो यहाँ इनकी अपनी अलग भाषा है कुल मिलाकर भारत अनेक भाषा का देश है।

भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि भारत की कोई नेशनल Language नहीं है और इसका कारण आप भी जान गए होंगे क्योंकि इंडिया में बहुत सारी भाषा बोली जाती है। ऐसे में किसी एक भाषा को नेशनल लैंग्वेज बनाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इंग्लैंड और अमेरिका जैसे देशों की राष्ट्रीय भाषा अंग्रेजी है क्योंकि उन देशों में ज्यादातर लोग अंग्रेजी बोलते और समझते है।

हालाकि इंडिया में करीब 40 फीसदी लोग हिंदी बोलते और समझते है। इसके अलावा यह देश की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है लेकिन फिर भी इसे नेशनल Language नहीं बनाया गया है। ऐसा नहीं है कि इसकी कोशिश नहीं की गयी हो कई बार हिन्दी को देश की राष्ट्रीय भाषा बनाने की पहल की गयी है लेकिन इसका विरोश देखने को मिलता है और सबसे ज्यादा विरोध दक्षिण भारत के लोग करते हैं क्योंकि उन्हें लगता है हिंदी उनपर जबरजस्ती थोपी जा रही है।

भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है

पूरे भारत में कितनी भाषाएं बोली जाती है इसका सही तरीके से अनुमान लगाना तो मुश्किल है क्योंकि हिंदुस्तान में बहुत सी भाषाएँ बोली और समझी जाती है। हालाकि भारतीय संविधान में सिर्फ 22 भाषा को मान्यता प्राप्त है। लेकिन 2011 के आंकड़ों के अनुसार ऐसे लोग जो 10,000 से ज्यादा एक भाषा को बोलते हैं ऐसी 121 भाषाएं भारत में बोली और समझी जाती हैं।

हिन्दी और अंग्रेजी केंद्र सरकार की अधिकारिक भाषा है इसलिए आपको सभी सरकारी काम हिन्दी और इंग्लिश भाषा में देखने को मिलते है। हालाकि राज्य सरकार की अपनी अलग भाषा हो सकती है जैसे आप दक्षिण भारत में जाते है तो वहां आपको कन्नड़, मलयालम, तेलुगु या फिर तमिल देखने को मिलेगी। भारत में 22 भाषा को संविधानिक रूप से आधिकारिक भाषा का दर्जा दिया गया है जिनके नाम निम्नलिखित है।

  1. हिंदी
  2. बंगाली
  3. असमिया
  4. बोडो
  5. डोंगरी
  6. गुजराती
  7. तमिल
  8. तेलुगू
  9. उर्दू
  10. सिंधी
  11. संथाली
  12. संस्कृति
  13. पंजाबी
  14. ओरिया
  15. नेपाली
  16. मराठी
  17. मणिपुरी
  18. मलयालम
  19. मैथिली
  20. कश्मीरी
  21. कनाडा
  22. कोंकड़ी

आपको बता दे कि ऊपर दी गयी 22 भाषा को देश की करीब 90 प्रतिशत आबादी बोलती और समझती है। हालाकि इनका एरिया अलग अलग है इन भाषाओं को भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची के तहत सूचीबद्ध कर राजभाषा की संज्ञा दी गई है।

तो अब आप भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है इसके बारे में जान गए होंगे बहुत से लोगो को लगता है कि देश में हिंदी सबसे ज्यादा बोली जाती है तो भारत की नेशनल Language हिन्दी होगी लेकिन ऐसा नहीं है। इंडिया की फिलहाल कोई राष्ट्रीय भाषा नहीं है हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने की पहल की जा चुकी है लेकिन इसके विरोध के कारण इसे राष्ट्रीय भाषा का दर्जा हासिल नहीं हुआ है। हालाकि हिंदी और अंग्रेजी को भारत सरकार की तरफ से ऑफिसियल लैंग्वेज का का दर्जा मिला है।

ये भी पढ़े –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here