CIBIL Score या Credit Score क्या होता है पूरी जानकारी

क्या आप जानते हैं CIBIL Score या Credit Score क्या होता है और अगर नहीं जानते तो आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे है कि CIBIL Score क्या है या Credit Score क्या है. बहुत सारे लोग अपना व्यापार शुरू करने के लिए, घर खरीदने के लिए, कार खरीदने के लिए, बाइक खरीदने के लिए बैंक से लोन लेते हैं ऐसे मे कुछ लोगो को लोन आसानी से मिल जाता है कुछ लोगो को दिक्कत होती तो कुछ लोगो को लोन नहीं मिलता है. आपको बता दे कि किसी लोन को अप्प्रूव होने मे Credit Score या सिबिल स्कोर महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है तो ये क्या होता है चलिए जानते हैं.

Credit Score क्या होता है

क्रेडिट स्कोर जिसे सिबिल स्कोर भी कहते हैं वह संख्या है जिससे यह निर्धारित होता है कि लोन दिया जाना चाहिए या नहीं. CIBIL Score या Credit Score में आपके पिछले 6 महीनों की फाइनेंसियल रिपोर्ट देखी जाती है. अगर आपने पूर्व में लिए लोन या क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान अच्छे से किया है. तो आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा बना रहता है. यदि आपने पूर्व में लिए लोन का भुगतान अभी तक नहीं किया है तो आपको फिर से लोन मिलने की सम्भावना कम हो जाती है. लोन लेने के लिए आपका सिबिल स्कोर 750 से अधिक होना चाहिए इससे आपको जल्दी लोन मिल जाता है.

CIBIL Score या Credit Score क्या होता है पूरी जानकारी
credit score kya hai

Transeunion Cibil लिमिटेड भारत की पहली क्रेडिट इनफार्मेशन कंपनी है जिसे सामान्य रूप से क्रेडिट ब्यूरो भी कहा जाता है. इसका मिशन उपभोक्ताओं के बारे में ऐसी जानकारी उपलब्ध कराना है. जिसके माध्यम से कंपनियों का व्यापार तेजी से बढ़े और उपभोक्ताओं को जल्दी से और आसान शर्तों पर लोन मिल सके. इस कंपनी के पास 550 मिलियन से अधिक व्यक्तियों और वित्तीय संस्थाओं के क्रेडिट स्कोर रिकॉर्ड हैं.

Credit Score का निर्धारण कैसे होता है

जो व्यक्ति लोन लेने का इक्छुक है उसकी पिछले 6 महीनें की रिपोर्ट देखी जाती है और उसके फाइनेंसियल डेटा का अध्धयन किया जाता है. इसके बाद कुछ फैक्टर जैसे समय पर लोन चुकाना क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान को ध्यान में रखते हुए एक स्कोर निर्धारित किया जाता है. जिसे CIBIL Score या Credit Score कहा जाता है. किसी व्यक्ति का क्रेडिट स्कोर तभी अच्छा होता है जब समय से अपने लोन की किश्त भरता रहे अगर उसके पास क्रेडिट कार्ड है तो उसके बिल का भुगतान भी समय से करता रहे.

Cibil score या Credit Score कैसे काम करता है

आपके टाइम पर लोन भरने और आपके क्रेडिट कार्ड के भुगतान की रिपोर्ट को बैंकों और वित्तीय संस्थाओं द्वारा मासिक आधार पर सिबिल के पास जमा किया जाता है इस जानकारी का उपयोग करके क्रेडिट इनफार्मेशन रिपोर्ट और क्रेडिट स्कोर बनाया जाता है. इसके आधार पर ही लोन की स्वीकृति होती है. CIBIL Score या Credit Score लोन आवेदन प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है अगर आप लोन लेना चाहते है तो आपके आवेदन के बाद आपका क्रेडिट इनफार्मेशन रिपोर्ट और क्रेडिट स्कोर चेक किया जाता है यदि क्रेडिट स्कोर कम है तो कर्जदाता यानी बैंक या वित्तीय संस्था आपके लोन पर विचार ही न करे अगर क्रेडिट स्कोर अच्छा है तो कर्जदाता लोन देने पर विचार करता है.

तो आप जान गए होंगे कि CIBIL score या Credit Score क्या होता है यहां पर ध्यान देने वाली बात ये है कि क्रेडिट स्कोर जितना अधिक होगा लोन के स्वीकृत होने की सम्भावना उतनी ही अधिक होती है. एक अच्छा सिबिल स्कोर 750 से 900 के बीच माना जाता है यदि आपका सिबिल स्कोर 750 से ऊपर है तो बैंक और अन्य वित्तीय कंपनियां आपको आसानी से लोन दे देंगी यदि आपका सिबिल स्कोर 750 से कम है. तो बैंक और अन्य वित्तीय कंपनियां आपको लोन देने पर आनाकानी करेंगी यानी जिसका सिबिल स्कोर जितना ज्यादा होगा उसके लोन स्वीकृत होने की सम्भावना उतनी ज्यादा होती है.

ये भी पढ़े –

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here