OTT Kya Hota Hai | ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या होता है | OTT Ki Full Form Kya Hai

आज जानेंगे OTT Kya Hota Hai | ओटीटी प्लेटफार्म क्या होता है OTT Ki Full Form Kya Hai इसके साथ साथ हम यह भी जानेंगे कि ओटीटी का पूरा नाम क्या है ओटीटी प्लेटफॉर्म कितने प्रकार के होते हैं OTT Platforms Services के क्या फायदे हैं आदि। आज के समय में इंटरनेट ने हमारे जीवन में बहुत से बदलाव ला दिए हैं, इंटरनेट और आधुनिक तकनीक की सहायता से हमारे दैनिक जीवन के कामों को करने का तरीका काफी हद तक बदल गया है।

OTT Kya Hota Hai

इसी प्रकार मनोरंजन की दुनिया में OTT ने बहुत से अहम बदलाव लाए हैं, खासकर जब से कोरोना का प्रकोप शुरू हुआ और Coronavirus की वजह से पूरी दुनिया के साथ-साथ भारत में भी लॉकडाउन लगा और तब से ही OTT Platform की व्यूअरशिप में बहुत ही अधिक मात्रा में इजाफा हुआ, लॉकडाउन के बाद मार्केट में नए-नए OTT Platforms आने लगे और लोगों ने OTT Apps को बहुत ज्यादा डाउनलोड किया।

आज के समय में यह ओटीटी प्लेटफॉर्म बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय हो गए हैं, युवा पीढ़ी के मनोरंजन के लिए ओटीटी एप्लीकेशन जैसे कि Netflix, Amazon Prime, Disney Plus Hotstar आदि, पहली पसंद बने हुए हैं। ओटीटी प्लेटफॉर्म की बढ़ती लोकप्रियता के कारण बहुत से निर्माताओं द्वारा आज के समय में फिल्मों को बड़े पर्दे की बजाय OTT Platforms पर रिलीज किया जाता है लेकिन अभी भी ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें OTT के बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है।

ऐसे बहुत से लोग हैं जो यह जानने के इच्छुक होंगे कि ओटीटी क्या है उनके इस प्रश्न का जवाब देने के लिए आज हम इस आर्टिकल को आपके सामने लेकर आए हैं, इस आर्टिकल को पढ़कर आपको बहुत ही आनंद आने वाला है।

तो चलिए दोस्तों वक्त जाया ना करते हुए आर्टिकल को जल्दी से जल्दी शुरू करते हैं और जान लेते हैं कि और OTT Kya Hota Hai / What Is The Meaning Of OTT In Hindi / ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या होता है, उम्मीद करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल जरूर पसंद आएगा।

OTT Kya Hota Hai

OTT यानी ‘Over The Top’ एक ऐसा प्लेटफॉर्म होता है जहां पर आप High Speed Internet Connection की सहायता से फिल्म, टीवी सीरियल या फिर अन्य कंटेंट देख सकते हैं। आमतौर पर ओटीटी का इस्तेमाल ‘Video On Demand’ के लिए किया जाता है OTT Platforms एक प्रकार की एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर होते हैं, जहां पर आपको वीडियो कंटेंट देखने को मिलते हैं।

ओटीटी का लुत्फ लेने के लिए ग्राहकों को सब्सक्रिप्शन लेनी पड़ती है उसके बाद वह अपने मनपसंद कंटेंट को बड़ी ही आसानी से देख सकते हैं, ओटीटी उन लोगों के लिए बहुत ही फायदेमंद है जो किसी वजह से फिल्म को देखने के लिए थिएटर में नहीं जा पाते हैं।

पहले के समय में हमें अपना मनपसंद कंटेंट देखने के लिए केबल टीवी या डीटीएच टीवी की जरूरत पड़ती थी लेकिन आज के समय में कोई भी व्यक्ति घर बैठे-बैठे अपना पसंदीदा कंटेंट बड़ी ही आसानी से देख सकता है, इसके लिए जरूरत होती है तो सिर्फ अच्छे इंटरनेट कनेक्शन और मोबाइल की।

OTT Platform पर यूजर्स को अलग-अलग तरह का कंटेंट देखने को मिल जाता है ओटीटी एप्स को इस्तेमाल करने के लिए पैसे देने पड़ते हैं, हालांकि कुछ ऐसे एप्स भी देखने को मिल जाते हैं जो बिल्कुल मुफ्त में अपनी सर्विस प्रदान करते हैं जैसे कि एमएक्स प्लेयर।

जब से कोरोना काल शुरू हुआ है तब से ही आपको ओटीटी प्लेटफॉर्म पर बड़े-बड़े प्रोडक्शन हाउस की फिल्में देखने को मिल जाती है, देखा जाए तो ओटीटी एक बेहतरीन सर्विस है।

OTT की फुल फॉर्म क्या है 

OTT की फुल फॉर्म Over The Top होती है, हिंदी में इसे ओवर द टॉप कहते हैं, ओटीटी एक प्रकार की डिजिटल स्ट्रीमिंग सर्विस होती है जिस पर आपको मनोरंजन के कंटेंट देखने को मिलते हैं। ओटीटी का आनंद उठाने के लिए आप अपने मोबाइल या फिर कंप्यूटर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

OTT Platform Services के कितने प्रकार हैं

OTT Platforms के द्वारा यूजर्स को कई तरह की सर्विस मुहैया करवाई जाती है, आमतौर पर लोगों के द्वारा 3 तरह की OTT Services इस्तेमाल की जाती हैं, आईए विस्तार से जानते हैं इन OTT Services के बारे में –

1. Subscription Based Video On Demand (SVOD) / Subscription OTT

SVOD OTT Services में यूजर्स वीडियो स्ट्रीमिंग तभी कर पाते हैं जब उन्होंने इसके लिए पैड सब्सक्रिप्शन ली हुई होती है इस सर्विस में ग्राहकों को कुछ न कुछ भुगतान करना ही होता है, इसके सबसे अच्छे उदाहरण Netflix, Amazon Prime, Hulu आदि हैं।

2. Ad Based Video On Demand (AVOD)

AVOD OTT Services के जरिए ग्राहकों को ऐसे वीडियोस देखने को मिलते हैं जिसमें Ad लगे हुए होते हैं, इसके लिए ग्राहकों को पैसे देने की कोई आवश्यकता नहीं होती है, इन वीडियोस में मोनेटाइजेशन विज्ञापन के जरिए ही हो जाता है इसका सबसे अच्छा उदाहरण यूट्यूब है।

3. Transaction Based Video On Demand (TVOD) 

TVOD OTT एक ऐसी सर्विस होती है जिसके अंदर यूजर Pay Per View के हिसाब से अपने पसंदीदा कंटेंट का आनंद उठाता है। इस सर्विस का मतलब होता है कि आप किसी भी फिल्म या वीडियो को देखने के लिए उसे किराए पर या फिर उसे खरीदकर उसका लुत्फ उठा सकते हैं, इसके सबसे अच्छे उदाहरण VUDU व Apple iTunes हैं।

OTT Services के क्या फायदे हैं

  • OTT Platforms यूजर्स के लिए बहुत ही सुविधाजनक हैं, यहां पर आप अपनी मनपसंद मूवी, वीडियो, टीवी सीरियल आदि कहीं भी कभी भी देख सकते हैं।
  • पहले के समय में आपको अपना मनपसंद कंटेंट देखने के लिए टेलीविजन की आवश्यकता होती थी लेकिन आज के समय में आप अपने मोबाइल में ओटीटी के जरिए ही बड़ी ही आसानी से जो चाहें वह देख सकते हैं।
  • ओटीटी प्लेटफॉर्म से आपके समय की काफी बचत होती है, क्योंकि आपको अपने मनपसंद कंटेंट को देखने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ता है।
  • अगर आप ओटीटी सर्विस का आनंद उठाना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने मोबाइल के साथ-साथ लैपटॉप, कंप्यूटर, प्लेस्टेशन, अमेजन फायर स्टिक, टेबलेट आदि का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • ओटीटी की सहायता से कहीं भी Live Streaming कर सकते हैं, ओटीटी के आने से केबल कनेक्शन और फिजिकल कनेक्शन से छुटकारा मिल गया है।
  • केबल कनेक्शन की तुलना में ओटीटी सर्विस का खर्चा कम होता है।
  • ओटीटी सर्विस में आपको अपना मनपसंद कंटेंट देखने के लिए बहुत से विकल्प देखने को मिल जाते हैं नेटफ्लिक्स, अमेजॉन प्राइम, डिज्नी प्लस हॉटस्टार, एमएक्स प्लेयर आदि।
  • आप जब चाहें तब अपनी सब्सक्रिप्शन कैंसल कर सकते हैं।

Cable Tv और OTT Platforms में क्या फर्क होता है

Cable Tv और OTT Platforms दोनों पर ही मूवीज, टीवी सीरियल्स, न्यूज आदि देखे जाते हैं, लेकिन इन दोनों के बीच बहुत अंतर है, जिसके बारे में हमने आपको नीचे बता दिया है – 

  • Cable Tv के लिए आपको एक सेटअप बॉक्स, डिश आदि की आवश्यकता होती है वहीं OTT के लिए आपको मात्र इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता होती है।
  • केबल टीवी पर सभी प्रोग्राम्स का एक निर्धारित समय होता है कि वह कंटेंट उसी समय देखने को मिलेगा जब उसका टेलीकास्ट किया जाएगा, लेकिन OTT पर आप अपने पसंदीदा कंटेंट को जब चाहें तब देख सकते हैं।
  • ओटीटी पर अपना मनपसंद कंटेंट देखते समय आपको उसके अंदर स्किप या फिर वीडियो को मूव फॉरवर्ड का ऑप्शन मिल जाता लेकिन केबल टीवी में आप कुछ भी स्किप नहीं कर सकते हैं।
  • ऐसी बहुत ही वेब सीरीज हैं जो केबल टीवी पर उपलब्ध नहीं हैं, उन्हें आप OTT के जरिए बड़ी ही आसानी से देख सकते हैं।

भारत की टॉप 10 OTT Platform Services

भारत में OTT Platforms जो सबसे अधिक लोकप्रिय और जिनका प्रयोग सबसे अधिक किया जाता है, वह कुछ इस प्रकार हैं –

  • Netflix
  • Amazon Prime Video
  • Disney Plus Hotstar
  • Voot Select
  • Alt Balaji
  • Jio Cinema
  • Zee 5
  • Sony Liv
  • Mx Player
  • Ullu

ये भी पढ़े –

FAQs OTT Kya Hota Hai | OTT प्लेटफॉर्म क्या होता है

ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या है?

ओटीटी प्लेटफॉर्म यानी ‘ओवर द टॉप’ एक ऐसा प्लेटफॉर्म होता है, जहां पर इंटरनेट का प्रयोग करके यूजर्स के द्वारा टेलीविजन शोज, फिल्म्स, वीडियोस आदि का आनंद उठाया जाता है। इन सभी का आनंद उठाने के लिए लोगों को ओटीटी प्लेटफॉर्म से जुड़ना होता है और उसके लिए ओटीटी प्लेटफॉर्म का सब्सक्रिप्शन लेना होता है।

क्या ओटीटी प्लेटफॉर्म फ्री होते हैं?

जी नहीं, ओटीटी प्लेटफॉर्म का आनंद उठाने के लिए आपको इन प्लेटफॉर्म का सब्सक्रिप्शन लेना होता है और उसके लिए आपको एक निर्धारित फीस देनी पड़ती है, तभी आप ओटीटी सर्विसेस का आनंद उठा पाते हैं।

सबसे अच्छा ओटीटी प्लेटफॉर्म कौन सा है?

बात की जाए सबसे अच्छे ओटीटी प्लेटफॉर्म की तो इनमें सबसे ऊपर नाम आता है नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम, डिज्नी प्लस हॉटस्टार का, सबसे अधिक लोकप्रिय ओटीटी प्लेटफॉर्म भी यही हैं।

ओटीटी प्लेटफॉर्म कितने हैं?

भारत में आपको 40 से भी ज्यादा ओटीटी प्लेटफॉर्म देखने को मिल जाते हैं जहां पर यूजर्स ओरिजिनल कंटेंट का आनंद उठाते हैं।

जो फिल्में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर प्रदर्शित की जाती हैं, उनकी कमाई कैसे होती है?

कई निर्माताओं के द्वारा अपनी फिल्मों को ओटीटी प्लेटफॉर्म जैसे कि डिजनी प्लस हॉटस्टार, नेटफ्लिक्स, अमेजॉन प्राइम आदि पर बेचा जाता है। यह ओटीटी प्लेटफॉर्म एक फिल्म को खरीदकर उसके पैसे फिल्म निर्माताओं को दे देते हैं, इस प्रकार ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्म अपना बिजनेस करती है।

तो दोस्तों कैसा लगा आपको हमारा यह आर्टिकल, इस आर्टिकल के जरिए हमने OTT Kya Hota Hai के बारे में जाना, इसके साथ-साथ हमने यह भी जाना कि OTT का पूरा नाम क्या है ओटीटी के क्या फायदे हैं आदि।

इस आर्टिकल में हमने आपको OTT के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की है, दोस्तों हमारी तरफ से हमेशा यही कोशिश रहती है कि हम आपके सामने संपूर्ण जानकारी विस्तारपूर्वक तरीके से पेश कर पाएं और आप जो जानकारी जानने के लिए हमारे इस आर्टिकल में आए हैं, वह जानकारी आपको पराप्त हो जाए, उम्मीद करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा।

Conclusion

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल OTT Kya Hota Hai ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या होता है अच्छा लगा है, तो इसे अपने दोस्तों और करीबियों के साथ शेयर जरूर करिएगा, आज के लिए इतना बहुत है, जल्द ही मिलते हैं, किसी नए आर्टिकल में नए टॉपिक के साथ। या आप कोई और जानकारी प्राप्त करने की सोच रहे हैं, या हमारे लिए आपके पास कोई और सुझाव है, तो आप आर्टिकल के नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके अपनी राय जरूर दें, हम आपके कमेंट का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here